"हेमा देशमुख बनी राजनांदगांव की महापौर,कांग्रेस के पक्ष में पहली जीत"

"हेमा देशमुख बनी राजनांदगांव की महापौर,कांग्रेस के पक्ष में पहली जीत"

राजनांदगांव,छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पक्ष में पहला परिणाम आया है। प्रतिष्ठापूर्ण राजनांदगांव की महौपौर पद पर कांग्रेस की हेमा देशमुख निर्वाचित हो गईं हैं।

काफी गुणा-गणित के बाद आखिरकार राजनांदगांव महापौर का पद कांग्रेस के खाते में आ गया। महापौर के लिए हुए मतदान में कांग्रेस की हेमा देशमुख को मिले 31 तथा भाजपा की शोभा सोनी को 20 वोट मिले। इस तरह हेमा देशमुख महापौर चुन ली गईं हैं। इस परिणाम के बाद कांग्रेसजनों की खुशी का ठिकाना नहीं है, वहीं भाजपाइयों में एक बार फिर मायुसी छा गई है।

हैरान करने की बात तो ये है कि भाजपा के 21 पार्षद थे, लेकिन भाजपा के पार्षद वोट में कांग्रेस ने एक सेंध लगा ली। भाजपा के पार्षद ने क्रांस वोटिंग की है। कांग्रेस की ओर से प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर ने चुनाव की पूरी कमान संभाल रखी थी। कांग्रेस के पार्षद के साथ-साथ वो निर्दलीय पार्षदों के साथ भी सतत संपर्क में भी थे, लिहाजा नतीज कांग्रेस की जीत के रूप सामने आया।

बताते चलें कि 51 सदस्यीय कुल पार्षदों की संख्या वाले निगम में कांग्रेस के 28 पार्षद जीतकर आये थे, बाद में तीन और पार्षदों ने भी कांग्रेस को समर्थन दे दिया। ना सिर्फ निर्दलीय पार्षदों ने सपोर्ट किया, बल्कि भाजपा के भी एक पार्षद ने क्रास वोटिंग करते हुए कांग्रेस के पक्ष में मतदान किया। 

ब्यूरो रिपोर्ट


Related Post

Add Comment