"पूर्व डिप्टी मैनेजर की खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज"

"पूर्व डिप्टी मैनेजर की खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज"

 बिलासपुर। किसानों के नाम से फर्जी तरीके से केसीसी लोन लेकर 11 लाख 50 हजार स्र्पए की धोखाधड़ी के मामले में सरकंडा पुलिस ने एक्सिस बैंक के पूर्व डिप्टी मैनेजर व एजेंट के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया है। बताया गया है कि आरोपित डिप्टी मैनेजर प्रबोधकुमार दास एक्सिस बैंक छोड़कर वर्तमान में अग्रसेन चौक स्थित यश बैंक में पदस्थ है।
पुलिस के अनुसार हिर्री क्षेत्र के धौंराभाठा निवासी बबलू उर्फ हीरालाल साहू पिता जगदीश साहू ने पथरिया क्षेत्र के उमरिया निवासी रामदास धृतलहरे पिता अमृतदास धृतलहरे और मुकेश नोरगे पिता हेमंचद को बैंक से कम ब्याज दर पर आसानी से लोन दिलाने का झांसा देकर जनवरी 2013 में  राजकिशोर नगर स्थित एक्सिस बैंक ले गया और डिप्टी मैनेजर प्रबोधकुमार दास से मिलाया।  इसके बाद प्रबोधकुमार ने लोन के लिए दस्तावेज जमा करने कहा। किसानों से दस्तावेजों जमा कराते समय चेक में हस्ताक्षर करा कर ले लिया। इस बीच उसे लोन पास होने का झांसा देकर घूमाते रहे। 17 सितंबर 2014 को बताया गया कि रामदास के नाम से 7 लाख 90 हजार और  मुकेश नोरगे के नाम से 3 लाख 50 हजार स्र्पए का लोन स्वीकृत हुआ है, जिसे हीरालाल आहरण कराकर ले गया है। इस मामले की शिकायत थाने में की। इसके बाद किसानों को बैंक से नोटिस जारी कर रकम जमा नहीं करने पर जमीन गिरवी रखने व कुर्की करने की धमकी दी जाने लगी। इससे परेशान होकर पीड़ित किसान ने मामले की शिकायत पुलिस अफसरों से की। फिर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई, तब परेशान होकर  कोर्ट में परिवाद दायर करना पड़ा। कोर्ट में मामले की सुनवाई के बाद सरकंडा पुलिस ने बैंक के डिप्टी मैनेजर प्रबोधकुमार दास व एजेंट हीरालाल के खिलाफ धारा 120 बी, 420 ,467, 468, 471 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।  


Related Post

Add Comment