*बिना मास्क पहने सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने बेवजह घूमने पर होगी सख्त कार्रवाई -कलेक्टर कौशल*

*बिना मास्क पहने सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने बेवजह घूमने पर होगी सख्त कार्रवाई -कलेक्टर कौशल*

कोरबा - श्रीमती किरण कौशल ने आज जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। उन्होने संक्रमण को सामुदायिक स्तर पर फैलने से रोकने के लिए उठाए जाने वाले सख्त कदमों और की जाने वाली कार्रवाईयों पर भी अधिकारियों के साथ बैठक में गहन विचार-विमर्श किया। बैठक में सभी अधिकारियों ने बेवजह घूमने वालो, बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई का समर्थन किया। अधिकारियों ने कंटेनमेंट जोन घोषित इलाकों में सख्ती बरतने के साथ ही होम क्वारेंटाइन के दिशा निर्देशों को भी कड़ाई से लागू कराने पर बैठक में विशेष जोर दिया। कलेक्टर श्रीमती कौशल ने कोविड संक्रमण के नियंत्रण के लिए किए जाने वाले सभी उपायों पर चर्चा कर विस्तृत कार्ययोजना बनाने के निर्देश एडीएम श्री संजय अग्रवाल को दिए। इस बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका महोबिया, सीएमएचओ डाॅ. बीबी बोर्डे, नगर निगम के अपर आयुक्त श्री अशोक शर्मा, कोविड अस्पताल के प्रभारी डाॅ. प्रिंस जैन सहित तहसीलदार श्री सुरेश साहू भी मौजूद रहे।बैठक में अधिकारियों ने पिछले लाॅकडाउन लागू होने की अवधि में जिले की गतिविधियों और कोविड नियंत्रण की स्थिति पर भी गहन समीक्षा की। अधिकारियों ने एक मत से सुझाव दिया कि सड़को पर बिना काम के निकलने वाले लोगों को रोकना सबसे जरूरी है, और प्रशासन को पुलिस की मदद से ऐसे लोगों के विरूद्ध कड़ाई करना होगा। बैठक में अधिकारियों ने सुझाव दिया कि आने वाले दिनों में दुकानों या मार्केट को पूरी तरह बंद करने की आवश्यकता नहीं है, केवल ग्राहकी के दौरान कोविड प्रोटोकाॅल का सख्ती से पालन कराया जाना उचित होगा। कलेक्टर ने बैठक में होम क्वारेंटाइन और कंटेनेमेंट जोन घोषित इलाकों में लोगों की बिना कारण आवाजाही पूरी तरह रोकने पर विशेष जोर दिया। उन्होने दोनो ही परिस्थितियों में कोविड प्रोटोकाॅल और शासन के दिशा निर्देशों का उल्लंघन करने पर लोगों के विरूद्ध पुलिस कार्रवाई और एफआईआर तक दर्ज कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए। श्रीमती कौशल ने जिले में कोरोना परीक्षण की स्थिति की भी समीक्षा की और सीएमएचओ डाॅ. बोर्डे को निर्धारित लक्ष्य अनुसार सैंपल लेकर जांच के लिए भेजना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने भेजे गए सैम्पलों की निर्धारित समयावधि में रिपोर्ट भी प्राप्त करने के लिए व्यक्तिगत प्रयास करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
बैठक में निर्णय लिया गया कि जिला प्रशासन द्वारा बिना मास्क के घूमने वाले लोगों के खिलाफ सख्त और तेज कार्रवाई की जायेगी। कोविड वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे जिले में बिना मास्क के घरों से निकलना प्रतिबंधित किया गया है। बिना मास्क के पाये जाने पर प्रति व्यक्ति एक सौ रूपये का जुर्माना वसूला जायेगा। दुकानों में ग्राहकी के दौरान भीड़ इकट्ठी होने पर लोगों तथा दुकानदार दोनों पर कार्रवाई होगी। दुकानों पर खरीददारी करने आने वाले लोगों को मास्क लगाये रहने पर ही सामान मिलेगा। इसके साथ ही दुकानदार को भी मास्क पहनना अनिवार्य होगा। बिना मास्क के सामान की खरीदी-बिक्री पर दुकानदार तथा ग्राहक दोनों पर कार्यवाही की जायेगी। दुकानों को प्रतिदिन खोलने के पूर्व सेनेटाईज किया जाना अनिवार्य होगा। खरीदी-बिक्री के दौरान सोशल फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। 

ब्यूरो रिपोर्ट


Related Post

Add Comment