*नगर के अस्थाई गौठान में चारा पानी की व्यवस्था करने की मांग*

*नगर के अस्थाई गौठान में चारा पानी की व्यवस्था करने की मांग*

(रवि निर्मलकर )
पथरिया- नगर पंचायत क्षेत्र में बाहर घूम रहे पशुओं को अस्थाई तौर पर घेराबंदी की जा रही है जिससे नगर में किसानों के फसल को नुकसान से बचाया जा सके लेकिन पशुओं को अस्थाई गौठान में बंद करने से पहले उनके चारा पानी व सुरक्षा का इन्तिजाम नही किया जा रहा ।इस अव्यवस्था की ओर प्रशासन का ध्यान दिलाने के लिए भाजपा पार्षद मनीष यादव और युवा मोर्चा के अमित बंजारे ने पथरिया एसडीएम अनुराधा अग्रवाल को ज्ञापन सौंप कर पशुओं की सुरक्षा और चारा पानी की व्यवस्था कराने की मांग गुरुवार को की गई । इस संबंध में मनीष यादव ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से नगर में बनाई गई अस्थाई गौठान में व्याप्त अव्यवस्था के बारे में अवगत कराते हुए किसान हीत में आवारा पशुओं की बंदी के साथ पशुओं की भी सुरक्षा सुनिश्चित कराने की मांग की गई है । उन्होंने बताया कि अभी नगर के मंडी स्थित अस्थाई गौठान में सैकड़ो पशु एक साथ रखा जा रहा है जबकि वहां किसी प्रकार के चारे की व्यवस्था नही है साथ ही भारी बारिश के बीच गायें बिना शेड के खुले आसमान में दिन रात रह रही है यह अव्यवस्था की अप्रिय घटना को अंजाम दे सकती है इसलिये हमने गायों की सुरक्षा की मांग की है ।वही नगर में भाजपा के युवा नेता अमित बंजारे ने बताया कि नगर पंचायत द्वारा चारे की व्यवस्था करने के बजाय सैकड़ो गायों को नगर के बाहर रात में चोरी छुपे छोड़ दिया जाता है इससे वहां लगे फसलों को भी नुकसान पहुचता है वही पशुओं की भी सुरक्षा खतरे में पड़ रही है इसलिए हमने मांग की है कि एक व्यवस्थित गौठान बनाया जाए जहाँ गायों को रखा जा सके और उनकी सुरक्षा भी हो सके ।

रोज मवेशी के छूटने से किसान भी परेशान - सैकड़ो गायों को रात में नगर के बाहरी इलाको में छोड़ देने से नगर के किसान भी नराज है क्योंकि फसल नुकसान के कारण ही किसान बड़ी मसक्कत कर पशुओं को अस्थाई गौठान पर लाते है एक दो दिन बाद फिर पशुओं के खेत पहुँच जाने से फसल का भी नुकसान होने लगा है नगर के किसान शिव कुमार पाली का कहना है कि एक व्यवस्थित गौठान नगर में भी बनाया जाए जहाँ पशुओं को रखा जा सके साथ ही किसानों को फसल नुकसानी से बचाया जा सके ।
गावों में आया सुधार - ग्रामीण क्षेत्रो में गौठान बनने से सड़क में पशुओं की आमद अब कम हुई है और ग्रामीण किसानों ने भी राहत की सांस ली है चूंकि ग्रामीण क्षेत्रों के गौठानो में चार पानी और शेड की व्यवथा है इसलिए पशुओं की सुरक्षा हो जा रही है ।

सीएमओ रमेश पाण्डेय नगर पंचायत पथरिया-
उचित व्यवथा की कमी के कारण पशुओं को स्थायी तौर पर नही रखा जा रहा है उसे नगर के बाहरी इलाको में छोड़ रहे है ।


Related Post

Add Comment