महिला द्वारा कांग्रेसी नेता पर गभीर आरोप,;कोरबा पुलिस द्वारा अपराध दर्ज

महिला द्वारा कांग्रेसी नेता पर गभीर आरोप,;कोरबा पुलिस द्वारा अपराध दर्ज

 कोरबा।

मामले का विवरण इस प्रकार है कि  दिनांक 12 मई 2020 को प्रार्थीया (रजनी ) द्वारा लिखित शिकायत आवेदन श्रीमान पुलिस पुलिस अधीक्षक महोदय कोरबा के कार्यालय में आरोपी विकास सिंह निवासी कोरबा के विरुद्ध अपने शिकायत आवेदन पेश  की  कि आरोपी विकास सिंह  द्वारा पीड़िता को शादी का झांसा देकर लगातार बलात्कार किया था जिसकी रिपोर्ट पर से आरोपी के विरुद्ध धारा 376 आईपीसी का अपराध पंजीबद्ध कर चलान न्यायायल प्रस्तुत किया गया था जिसमें न्यायालय के विचारण के दौरान आरोपी विकास सिंह ने पीड़िता रजनी के पति को पेशी दिनांक कोअपहरण कर ले जाकर  जान से मारने की धमकी देकर प्रार्थीया के ऊपर बयान बदलने का दबाव बनाया था जिस पर से प्रार्थीया मजबूर होकर अपने बयान को माननीय न्यायालय में बदल दी जिस पर से न्यायालय संज्ञान लेकर पीड़िता को 2 वर्ष का कारावास की सजा दे दिया जिस पर प्रथिया ने अपने ऊपर घटित हुए अपराध की लिखित शिकायत आवेदन दिनांक 12 मई 2020 को श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के कार्यालय में उपस्थित होकर लिखित शिकायत आवेदन पेश कर पीड़िता एवम् आरोपी विकास सिंह के अतंर्रंग फोटोग्राफ को पुलिस को सौंपा  गया ।श्रीमान पुलिस अधीक्षक कार्यालय शिकायत आवेदन प्रस्तुत करने  की जानकारी कहीं से आरोपी विकास सिंह को  होने पर पीड़िता को अपने शिकायत आवेदन को वापस लेने के लिए दिनांक 13 मई एवं 14 मई की दरमियानी रात को पीड़िता को शिकायत आवेदन वापस लेने हेतु पुनः दबाव बनाने लगा पीड़िता को अपनी शिकायत आवेदन वापस नहीं लेने पर पीड़िता के पति और बच्चों को जान से मार देने की धमकी देने एवं पूर्व में पीड़िता व आरोपी के अतंर्रंग फोटो को सोशल मीडिया में वायरल कर देने की धमकी दिया गया तथा आरोपी द्वारा अतंर्रंग फोटो को पीड़िता के मकान में फेंकवा दिया और कहा कि इस फोटो को देख लो अगर बात नहीं मानोगे तो फोटो को वायरल कर दूंगा कह कर धमकी दिया और शारीरिक संबंध बनाने हेतु दबाव देने लगा शिकायत श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय अभिषेक मीणा भापुसे के समक्ष प्रस्तुत की गई थी। जिस पर श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के आदेशानुसार जांच हेतु थाना दीपका को प्राप्त होने पर तत्परता से थाना दीपका में धारा 354 (क)(1)(२) 354 (घ) 506 509 (ख) भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। परिवर्तित नाम पीड़िता रजनी आदिवासी समुदाय का होने से पृथक से एस्ट्रो सिटी एक्ट के अंतर्गत कार्यवाही की जाती है। पूर्व में भी अभियुक्त विकास सिंह के विरुद्ध थाना दर्री में अपराध क्रमांक 97/95 धारा 147 148 427 448 भादवी, थाना कोतवाली में क्रमशःअपराध क्रमांक 429/95 धारा 294,341,323,506 भादवी, 638/98 धारा 25 आर्म्स एक्ट, अपराध क्रमांक 1233/03 धारा 294,506,323,342,34 भादवी अपराध क्रमांक 297/04 धारा 294,506 भादवी, चौकी रामपुर में क्रमशःअपराध क्रमांक 316/98 धारा 186,353 भा द वि, अपराध क्रमांक 486/99 धारा 294,341 323,325,506,34 भादवि , अपराध क्रमांक 1219/11 294,506,323,427,34
भा द वि चौकी मानिकपुर में अपराध क्रमांक 377/04 धारा 341,294,506,34 भा द वि, थाना बाल्को मैं अपराध क्रमांक 341/07 धारा 147,149,188,353, 332 एवं थाना दीपका में अपराध क्रमांक 19/06 धारा 376,506,34 भा द वि 3(1)(2) एसटी एससी एक्ट प्रकरण दर्ज है। आम नागरिकों को प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अवगत कराया जाता है कि कोरबा पुलिस सदैव महिलाओं के ऊपर होने वाले लैंगिक उत्पीड़न शोषण एवं छेड़छाड़ से संबंधित अपराध के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु तत्पर है एवं ऐसे अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए कटिबद्ध है किसी भी महिला की ऐसी कोई शिकायत हो तो  पुलिस बताएं पुलिस तत्काल आरोपियों पर कार्यवाही करेगी,, कोरबा में गुंडे बदमाशों पर आगे भी ऐसी कार्यवाही जारी रहेगी।
 
ब्यूरो रिपोर्टर

Related Post

Add Comment