*भ्रष्टाचारियो एवं घोटालेबाजो के विरुद्ध मुखर लिखने वाले कलमकार हो रहे साजिश का शिकार,सच आएगा जल्द सामने-ठाकुर*

*भ्रष्टाचारियो एवं घोटालेबाजो के विरुद्ध मुखर लिखने वाले कलमकार हो रहे साजिश का शिकार,सच आएगा जल्द सामने-ठाकुर*

खरसिया-रायगढ़:- खरसिया विधानसभा ही नही बल्कि रायगढ़ जिला एवँ पूरे छत्तीसगढ़ में विगत 10-12 वर्षों से गांव-गरीब,शोषित-पीड़ितों एवं दलितों-आदिवासियों की आवाज लगातार बुलन्द करने वाले भ्रस्टाचारियों एवं घोटालेबाजों का लगातार पर्दाफ़ाश करने वाले खरसिया क्षेत्र के दबंग पत्रकार एवं कलमकार श्रीमती आरती वैष्णव-भूपेन्द्र वैष्णव के खिलाफ सोची समझी साजिश के तहत राजनीति से प्रेरित होकर उन्हें सुनियोजित तरीके से बदनाम करने की साजिश की जा रही है जो कि कामयाब नही होगी। प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से ठाकुर ने बताया कि खरसिया क्षेत्र में चाहे महिला स्व सहायता समूह हो,सार्वजनिक वितरण प्रणाली के दुकान संचालको का दमन हो या फिर गैस एजेंसीयों में गड़बड़ी हो,विभिन्न सरकारी अमला के द्वारा किये जा रहे अवैध वसूली या भ्रस्टाचार हो लगातार रायगढ़ जिले में विभिन्न उद्योगो एवं उद्योगपतियों के द्वारा आदिवासियों एवं किसानों की जमीनों की अफरातफरी या फिर बेनामी खरीदी कर किसानों के साथ आर्थिक घोटालों की बात हो या फिर खरसिया विधानसभा सहित रायगढ़ जिले में बिकने वाली अवैध जहरीली शराब के विरुद्ध आवाज की बात हो या फिर महिलाओं के यौन उत्पीड़न की बात हो लगातार आम जनमानस की आवाज बनकर अपने कलम एवं मीडिया के माध्यम से शासन प्रसाशन एवं जनप्रतिनिधियों तक पहुंचाने वाले । लगातार खरसिया विधानसभा क्षेत्र के हजारो लोगों को निःशुल्क कानूनी सलाह प्रदान करने साले भूपेन्द्र वैष्णव एवं महिलाओं के साथ होने वाले अत्याचार एवं नशाबंदी के लिए लगातार आवाज बुलंद करने वाली महिला पत्रकार एवं सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती आरती वैष्णव के खिलाफ एक भ्रस्ट बाबू के झूठी एवं काल्पनिक शिकायत के आधार पर बिना जांच-पड़ताल के राजनीतिक ईशारे में झूठा गैर जमानती मामला बनाकर एवं वैष्णव दम्पत्ति को बदनाम एवं परेशान करने की सोची समझी साजिश की जा रही है जो कि चिंताजनक बात है जबकि उक्त बाबू एवं उसके पुत्र के द्वारा महिला पत्रकार श्रीमती आरती वैष्णव के विरुद्ध फेसबुक एवं सोसल मीडिया में अश्लील एवं आपत्तिजनक टिप्पणी लिखा गया है। पत्रकार एवं अधिवक्ता भूपेन्द्र किशोर वैष्णव द्वारा 24 अप्रैल को ही लिखित शिकायत रायगढ़ एसपी सहित आईजी बिलासपुर एवं गृहमंत्री छ.ग.शासन को प्रेषित किया गया है। जिसकी प्रतिलिपि स्थानीय पुलिस अधिकारियों को भी दिया गया है।
वैष्णव दम्पत्ति के विरुद्ध जिस दिनांक एवं समय मे घटना किये जाने का उल्लेख है उस वक्त पत्रकार भूपेन्द्र वैष्णव स्वयं रात्रि 11 बजे से लेकर 11:45 बजे खरसिया चौकी में पकड़े गए अवैध शराब एवं जुआ रेड की कार्यवाही को कवरेज करने उपस्थित थे। उक्त समय मे उनके द्वारा लगातार खरसिया चौकी में उपस्थित रहकर आरोपियों की वीडियोग्राफी एवं फोटो ग्राफी भी किया गया है। जिसकी खबर सोसल मीडिया सहित विभिन्न अखबारों में प्रकाशित एवं प्रसारित भी हुआ है। जबकि उनके पुत्र के जन्मदिन की तैयारी में महिला पत्रकार श्रीमती आरती वैष्णव अपने घर मे ही थी लॉक डाऊन का पालन करते हुए 24 मार्च से वो घर पर ही रह रही है। यदि दोनों पत्रकारों का बताये जा रहे घटना दिनांक को 11 बजे रात्रि से 11:45 तक का कॉल डिटेल एवं मोबाइल टॉवर लोकेशन निकालने पर उनके विरुद्ध किये गए झूठी शिकायत की पोल स्वयं खुल जाएगी। ऐसे में किसी राजनीतिक व्यक्ति के इशारे में लगातार खरसिया विधानसभा क्षेत्र के गांव-गरीबो आदिवासियों एवं दलितों सहित महिला अत्याचार के खिलाफ दबंगता से उनकी आवाज बुलंद करने वाले एवं घोटाले बाज अधिकारियों एवँ भ्रस्टाचारियों भूमाफियाओं का पर्दाफाश करने वाले पत्रकार वैष्णव दम्पत्ति के विरुद्ध किये जा रहे साजिश की हम निंदा करते हुए उनके विरुद्ध दर्ज किए गए मामले की उच्च स्तरीय जांच कराए जाने एवं भ्रस्ट बाबू एवं उसके पुत्र के विरुद्ध पत्रकार दम्पत्ति द्वारा दिये गए शिकायत पर एफआईआर दर्ज करने की मांग करता हूँ।

साथ ही प्रसाशन से यह भी अनुरोध करता हूँ कि लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ कहलाने वाले पत्रकारों के दमन की कोशिश न करें। पहले मामले की गम्भीरता पूर्वक जांच करने उपरांत ही किसी भी पत्रकार के विरुद्ध मामला दर्ज किया जाए। अन्यथा कानून से लोगों का भरोसा उठ जाएगा। जल्द ही वैष्णव पत्रकार दम्पत्ति के विरुद्ध षड्यंत्र एवं साजिश रचने वालों की भूमिका का भी पर्दाफ़ाश हो जाएगा।

योगेंद्र सिंह राजपूत महामंत्री बीजेपी जोबी मंडल,खरसिया-रायगढ़

 

ब्यूरो रिपोर्ट


Related Post

Add Comment