*मुंगेली:क्षेत्र के 96 पंचायतों में बाहर से आए 534 ग्रामीणों पर विशेष निगरानी,डरे नही घर पर रहे-कुमार सिंह*

*मुंगेली:क्षेत्र के 96 पंचायतों में बाहर से आए 534 ग्रामीणों पर विशेष निगरानी,डरे नही घर पर रहे-कुमार सिंह*

पथरिया:-ग्रामीण क्षेत्रो में बाहर से आये ग्रामीणों से कोरोना का डर नगर वासियो के साथ साथ उन गांवों में भी व्यपत है जहाँ ये आये हुए है भले ही जरूरी चीजों के लिए गावों से नगर आने वालो की संख्या कम ही है पर इससे नगर वासियो में डर व्याप्त है। वही कोरोना के खतरे से निपटने के लिए प्रशासन युद्ध स्तर पर जुटा हुआ है नगरीय क्षेत्र के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्र में भी जागरूकता और विशेष निगरानी अभियान चलाया जा रहा है इसकी जानकारी देते हए पथरिया जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुमार सिंह ने बताया कि जिला पंचायत सीईओ नूपुर राशि पन्ना के निर्देश पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में अन्य प्रदेश से आये ग्रामीणों को चिन्हांकित किया जा रहा जिससे उन्हें विशेष निगरानी में रखा जा सके और उचित चिकित्सा लाभ दिलाई जा सके 22 मार्च तक क्षेत्र के 86 ग्राम पंचायतों में बाहर से 534 ग्रमीण महिला पुरुष वापस आये है जिन्हें सूचीबद्ध किया गया है क्षेत्र के 10 पंचायतो में कोई भी बाहरी नही आया है । इसमें पुणे से सबसे ज्यादा ग्रामीण वापस आये है , सभी बाहर से आने वालों को घरों में नजरबंद रखा गया है और कोई समस्या होने पर उपस्वास्थ्य केंद्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जांच कराने की बात कही गयी है । स्वास्थ्य विभाग की टीम भी उन पर निगरानी बनाये रखे हुए है । ज्ञात हो पुणे एवं महारष्ट्र में कोरोना का कहर ज्यादा है और वहाँ से ही अधिक संख्या में ग्रामीण वापस आये है जो एक चिंता का विषय भी है जिसे स्वास्थ्य विभाग को गम्भीरता से लेना चाहिए ।
गावों में दल गठित- बाहर से आये ग्रामीण महिला पुरुषों की जानकारी इकट्ठा करने के लिए ग्राम स्तर पर दल गठित किया गया है जिसमे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मितानिन रोजगार सहायक और पंचायत सचिव शामिल है यह दल गावों में आने वाले परिवार की सूचना प्रशासन को देकर सूचीबध्द कर रही फिर चिन्हांकित कर उंन्हे घर मे ही आइसोलेट कर रही साथ ही ऐसे ग्रामीणों के घर के आसपास के 25 परिवारों को कोरोना के रोकथाम की जानकारी दे रही है इसकी जानकारी देते हुए सीईओ कुमार सिंह ने बताया कि गांवों में कोरोना के लिए जागरूकता लाने के लिए दीवाल लेखन भी किया जा रहा है साथ ही मुनादी कराकर लोगो को जागरूक कर घरों में ही रखने को कहा जा रहा है जिसका परिणाम भी बहुत अच्छे मिल रहे है ।

बीएमओ गावों का कर रहे विजिट -
गावों में बाहर से आये ग्रामीणों की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम बीएमओ डॉ ए आर बंजारे के नेतृत्व गावों में जाकर बाहर से आये लोगो को घरों में आइसोलेट करने कार्यवाही कर रहे है वही लोगो मे अनावश्यक डर ना फैले इसलिए जगरुक् किया जा रहा है । बीएमओ डॉ बंजारे ने बताया कि गावों में सभी घरों में रहे तो कोरोना वायरस का खतरा खत्म हो जाएगा यह सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


Related Post

Add Comment