*स्वामी प्रसाद मौर्य की बदली गई सीट*

लखनऊ: बीजेपी से सपा में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपनी सीट बदल दी है. स्वामी प्रसाद मौर्य अब कुशीनगर की पडरौना से नहीं बल्कि फाजिलनगर सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे. समाजवादी पार्टी ने आज (बुधवार को) लखनऊ, कुशीनगर और प्रयागराज की सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की.

बता दें कि समाजवादी पार्टी ने प्रयागराज की सिराथु सीट से पल्लवी पटेल को टिकट दिया है. पल्लवी पटेल यूपी के डिप्टी और सिराथु से बीजेपी के उम्मीदवार सीएम केशव प्रसाद मौर्य को चुनौती देंगी. जान लें कि पल्लवी पटेल अपना दल की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल की बहन हैं. पल्लवी पटेल ने अपनी अलग पार्टी बना ली है.

वहीं लखनऊ की सरोजिनी नगर सीट से समाजवादी पार्टी ने ब्राह्मण चेहरे अभिषेक मिश्रा को उम्मीदवार बनाया है. अभिषेक मिश्रा ईडी के पूर्व डायरेक्टर और बीजेपी के उम्मीदवार राजराजेश्वर सिंह के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरेंगे. 


*Breaking News: INDIA कॉइन के नाम से क्रिप्टो टोकन, क्या भारत सरकार या रिज़र्व बैंक आम जनता के पैसे की गारण्टी लेंगी जो इस कॉइन में पैसा लगाएंगे*

 

*बिना लगाम के दौड़ता क्रिप्टो मार्केट का एक और कारनामा, इंडिया कॉइन के नाम से क्रिप्टो मार्केट में लॉन्च किया ।
हमारा सवाल है*
◆क्या भारत सरकार या रिज़र्व बैंक से मान्यता प्राप्त है ये क्रिप्टो?
◆ किस नियम के अंतर्गत इस कॉइन को INDIA नाम का प्रयोग करने की अनुमति दी गई हैं?
◆ आम जनता जो अपने मेहनत की कमाई इस कॉइन को खरीदने में लगाएगी, क्या उसकी सुरक्षा की व्यवस्था रिज़र्व बैंक की रहेंगी?

अगर ये कॉइन बिना सरकार के जानकारी के लॉन्च किया गया है तो क्या भारत सरकार का वित्त मंत्रालय इसे संज्ञान में लेंगी?

 


*स्वामी प्रसाद के इस्तीफे के बाद भाजपा के शीर्ष नेताओं ने संभाला मोर्चा*

◆*स्वामी प्रसाद के इस्तीफे के बाद भाजपा के शीर्ष नेताओं ने संभाला मोर्चा*

◆*गृहमंत्री अमित शाह ने कई मंत्रियों व विधायको से बात कर बचाई इज्जत*

*लखनऊ*। चुनावी बेला में वैसे तो सभी दल के नेताओ द्वारा आया राम, गया राम की कहानी को चरितार्थ किया जा रहा है। भाजपा संगठन व सरकार से जो लोग नाराज चल रहे थे वे सभी चुनाव की घोषणा होते ही पार्टी से किनारा करने लगे। इसी बीच पार्टी व सरकार के महत्तपूर्ण अंग रहे स्वामी प्रसाद मौर्य व दो और विधायकों को जाने से वे नहीं रोक सके।
इधर, सपा मुखिया अखिलेश यादव द्वारा स्वामी प्रसाद के साथ तस्वीर साझा करते हुए उनका और समर्थकों का पार्टी में स्वागत भी कर दिया। इसके बावजूद स्वामी प्रसाद और उनकी बेटी संघमित्रा ने अभी सपा में जाने का एलान नही किया है। फिर भी समझा जा रहा है कि ये सपा मे ही जायेगे। इसी को संज्ञान में लेकर भाजपा के बड़े नेता यानी गृह मंत्री अमित शाह के अलावा यूपी के प्रभारी राधा मोहन सिंह, धर्मेंद्र प्रधान आदि लोग डैमेज कंट्रोल में जुट गए।इससे यह हुआ कि और लोग जो पार्टी से बगावत कर रहे थे वे रुक गए। क्योकि देखा गया कि
भाजपा विधायक धर्म सिंह सैनी ने इसके तुरंत बाद ही वीडियो जारी कर कहा कि स्वामी प्रसाद मेरे बड़े भाई हैं लेकिन उन्होंने उनका नाम सपा में जाने वाले विधायकों की लिस्ट में क्यों जोड़ दिया यह वह नहीं जानते। उन्होंने कहा कि वे भाजपा में हैं और भाजपा में ही बने रहेंगे। वह पार्टी कतई नहीं छोड़ रहे।
स्वामी प्रसाद मौर्या के इस्तीफे के कुछ देर बाद ही मंत्री नंद गोपाल नन्दी ने ट्वीट कर कहा कि सपा में शामिल होने का आपका फैसला विनाश काले विपरीत बुद्धि जैसा है। अखिलेश यादव की डूबती नाव की सवारी स्वामी प्रसाद जी के लिए राजनैतिक आत्महत्या जैसा आत्मघाती निर्णय साबित होगा। भाजपा राष्ट्र को सर्वोपरि मानने वाली विचारधारा का नाम है। अवसरवादियों और परिवारवादियों के लिए सपा ही सही ठिकाना है! उन्होंने कहा कि जय श्रीराम, जय भाजपा, तय भाजपा...।
प्रदेश के पिछड़े नेताओं में प्रमुख चेहरा माने जाने वाले स्वामी प्रसाद के भाजपा में रहते हुए ही अलग पार्टी बनाने और सपा से गठजोड़ किए जाने की चर्चाएं भी बीते दिनों हवा में खूब तैरती रहीं। मौर्य खेमे ने इनका कोई खंडन भी नहीं किया। वहीं ऐसी खबरों के चलते भाजपा उन्हें लेकर थोड़ी सचेत जरूर हो गई थी।
 


*भारत निर्वाचन आयोग द्वारा शुरू किया गया सीविजिल ऐप*


◆भारत निर्वाचन आयोग द्वारा शुरू किया गया सीविजिल ऐप
◆जागरूक नागरिक आदर्श आचार संहिता के उलंघन की कर सकेंगे शिकायत

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा शुरू किए गए नए सीविजिल ऐप फास्ट-ट्रैक कम्प्लेन रिसेप्शन और निवारण प्रणाली है। सीविजिल नागरिकों के लिए निर्वाचन के दौरान आदर्श आचार संहिता और व्यय संबंधी उल्लंघनों की रिपोर्ट करने के लिए एक नवोन्मेषी मोबाइल ऐप्लिकेशन है। ‘सीविजिल’ का अर्थ जागरूक नागरिक है और यह स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचनों के संचालन में नागरिकों द्वारा निभाई जा सकने वाली सक्रिय और जिम्मेदार भूमिका पर जोर देती है। इस ऐप को ऐसे किसी भी एंड्रॉइड स्मार्टफोन कैमरा में इन्सटाल किया जा सकता है। इस एप्लिकेशन का उपयोग करके, नागरिक राजनीतिक कदाचार की घटनाओं को देखते ही तत्काल कुछ ही मिनट में इसकी रिपोर्ट कर सकते हैं और इसके लिए उन्हें रिटर्निंग अधिकारी के कार्यालय में भी नहीं जाना पड़ेगा। शिकायत दर्ज करने से पहले आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने वाली गतिविधि की केवल एक तस्वीर या 2 मिनट का वीडियो बनाएं और संक्षिप्त में इसका वर्णन कर दें। शिकायत के साथ कैप्चर की गई जीआईएस जानकारी स्वतः इसे संबंधित जिला नियंत्रण कक्ष को भेज दी जाती है, जिससे फ्लाइंग स्क्वॉड को कुछ ही मिनटों में घटनास्थल पर भेज दिया जाता है। इस एप को प्ले स्टोर के माध्यम से डाउनलोड किया जा सकता है। 


*आदित्य ठाकरे को जान से मारने की धमकी, मुंबई क्राइम ब्रांच ने एक युवक को किया गिरफ्तार पूछताछ जारी*

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मुंबई क्राइम ब्रांच ने जयसिंह राजपूत नाम के व्यक्ति को बेंगलूरु से गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार वह खुद को दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का फैन बता रहा है,इस पूरे मामले में पुलिस जांच कर रही हैं।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर का उद्घाटन किया,क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने देखिए खास रिपोर्ट mornews*

Mor news

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वाराणसी में काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर परियोजना की नवनिर्मित संरचनाओं का करीब 339 करोड़ रुपए की लागत से बने काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर का उद्घाटन किया।यह 5 लाख वर्गफिट से ज्यादा में फैला है।कॉरिडोर गंगा नदी के ललिता घाट को मंदिर चौक से जोड़ेगा।आज लोकार्पण के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण,भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्जवल भविष्य की तरफ ले जाएगा। ये परिसर, साक्षी है हमारे सामर्थ्य का, हमारे कर्तव्य का।
अगर सोच लिया जाए, ठान लिया जाए, तो असंभव कुछ भी नहीं।

काशी तो काशी है! काशी तो अविनाशी है।
काशी में एक ही सरकार है, जिनके हाथों में डमरू है, उनकी सरकार है।
जहां गंगा अपनी धारा बदलकर बहती हों, उस काशी को भला कौन रोक सकता है। 


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज काशी विश्वनाथ में नगर कोतवाल बाबा काल भैरव के दर्शन कर देशवासियों के खुशहाली की कामना की,क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने देखिए mornews*

Mor News !

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज भगवान शिव की नगरी काशी विश्वनाथ मे नगर कोतवाल बाबा काल भैरव के दर्शन कर देश व प्रदेशवासियों की खुशहाली की कामना की ,प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैं बाबा के साथ साथ नगर कोतवाल कालभैरव जी के दर्शन करके भी आ रहा हूँ,देशवासियों के लिए उनका आशीर्वाद लेकर आ रहा हूँ।काशी में कुछ भी खास हो, कुछ भी नया हो, उनसे पूछना आवश्यक है। मैं काशी के कोतवाल के चरणों में भी प्रणाम करता हूँ। 

 


*बसपा, भाजपा छोड़कर कई लोगों ने थामा कांग्रेस का दामन*

● कांग्रेस ने चलाया सदस्यता अभियान
● बसपा, भाजपा छोड़कर कई लोगों ने थामा दामन
*मऊ :* कांग्रेस पार्टी द्वारा चलाए जा रहे सदस्यता अभियान के तहत आज शनिवार को नगर के बड़ी कम्हरिया में कैम्प लगाया गया। जिसमें दर्जन भर बसपा व भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपनी पार्टी छोड़कर कांग्रेस की सदस्यता ली। कांग्रेस के शहर अध्यक्ष विष्णु प्रसाद कुशवाहा ने बताया कि सूबे की अगली सरकार प्रियंका गांधी के नेतृत्व में बनने जा रही हैं।
इस मौके पर फिरोज अहमद, दिलशाद अहमद, धनेश राजभर, हरिशचंद्र कश्यप, उमेश राजभर, सन्तोष कश्यप, हरिकेश यादव, अशोक चौहान, प्रकाश चौहान, राजेंद्र सहित कई मौजूद रहे। 


*शिक्षा बोर्ड का बड़ा निर्णय, आठवीं कक्षा की होगी बोर्ड की परीक्षाएं*

हरियाणा बोर्ड ने CBSE / HBSE के स्कूलो में 8वी की बोर्ड परीक्षाओं पर लगाई फाइनल मोहर, अब हरियाणा बोर्ड और CBSE के साथ-साथ हरियाणा के सभी स्कूलो में 8वी की बोर्ड परीक्षाएं हरियाणा शिक्षा बोर्ड लेगा.


6 दिसम्बर तक सभी स्कूलो को बोर्ड की परीक्षाओ के लिए बच्चो का डाटा अपलोड करना होगा. परीक्षाओं में विद्यार्थियों को रजिस्टर्ड करवाने के लिए सभी स्कूलों को बच्चों का डाटा अपलोड करना होगा जिसके लिए उन्हें 6 दिसंबर तक का समय दिया गया है.


आपको बता दें कि पहले आठवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं नहीं होती थी किंतु हरियाणा बोर्ड ने बड़ा फैसला लेते हुए इस निर्णय पर अंतिम मोहर लगा दी है. अब हरियाणा के सभी स्कूलों में आठवीं की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित करवाई जाएंगी. जिसके लिए सभी स्कूलों को आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों का पंजीकरण भी करना पड़ेगा.

हरियाणा बोर्ड का यह प्रयास है कि विद्यार्थियों को शिक्षा के प्रति ज्यादा अलर्ट किया जा सके. साथ ही आठवीं कक्षा से ही विद्यार्थियों की शिक्षा के प्रति गंभीरता के भाव को उत्पन्न किया जा सके. इसके लिए बोर्ड ने अपने निर्णय पर अंतिम मोहर लगा दी है. 


*CM के फरमान का कितना असर? सिर्फ 53 थानों में महिला थानाध्यक्ष*

 PATNA: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार थानों में अधिक से अधिक महिला थानाध्यक्षों की पदस्थापन को लेकर अधिकारियों को निर्देश दे चुके हैं। हालांकि थानाध्यक्ष के रूप में महिला पुलिस पदाधिकारियों की संख्या अब भी काफी कम है। सिर्फ 53 थानों में महिला थानाध्यक्षों की पदस्थापना है. इनमें 38 जिलों में महिला थाना में थानाध्यक्ष को छोड़ दें तो केवल 15 थानो में महिला पुलिस अफसर को थानाध्यक्ष की कमान दी गई है।


सीएम नीतीश के निर्देशों की हुई समीक्षा

गृह विभाग की तरफ से जानकारी दी गई है कि बिहार में महिला पुलिस पदाधिकारियों-कर्मियों की कुल संख्या 13718 है जो कुल कार्यरत बल का 25 फीसदी है। इनमें से 5859 पुलिसकर्मियों का पदस्थापन हो चुका है. गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ने चैतन्य प्रसाद ने पुलिस मुख्यालय को यह निर्देशित किया है की महिला पुलिस कर्मियों को शीघ्र थानों में पदस्थापित की जाये। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देशों के कार्यान्वयन के संबंध में चर्चा की गई. मीटिंग में कब्रिस्तान घेराबंदी, भूमि विवाद, पुलिस थाना-ओपी के लिए भूमि की उपलब्धता, क्षेत्रीय विधि विज्ञान प्रयोगशाला, पुलिस थानों में महिला थानाध्यक्ष-सिपाही की पदस्थापना, लैंडलाइन फोन की व्यवस्था, पुलिस पेट्रोलिंग, महिला हेल्प डेस्क, थाना भवनों में आगंतुक कक्ष, सीसीटीएनएस प्रणाली को सभी थानों में लागू करना के संबंध में समीक्षा की गई.


सीएम नीतीश की गहरी आपत्ति के बाद आई तेजी

हाल के दिनों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भूमिहीन थानों को लेकर गहरी आपत्ति जताई थी. सीएम ने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव को सख्त हिदायत दी थी कि जो भी थाना भूमिहीन हैं उनके भूमि उपलब्धता को लेकर युद्ध स्तर पर काम करें. बैठक में विभाग के अपर मुख्य सचिव ने कहा कि अगली बार की बैठक तक जिन थाना-ओपी के लिए भूमि चिन्हित नहीं की गई है उन्हें चिन्हित करते हुए भू अर्जन प्रस्ताव की स्वीकृति दी जाए.


*छात्रों ने सीएम को भेजा खून से लिखा पत्र*


गाजीपुर : जिले में विश्वविद्यालय स्थापना की मांग को लेकर शनिवार को सरजू पांडेय पार्क में छात्रसंघ के पूर्व उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय के नेतृत्व में छात्रों ने प्रदर्शन किया। बाद में विश्वविद्यालय स्थापना के लिए मुख्यमत्री को सम्बोधित खून से लिखा पत्रक जिलाधिकारी के माध्यम से तहसीलदार को सौंपा। इस मौके पर पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय ने कहा कि गाजीपुर जनपद की भूगौलिक पृष्ठभूमि 75 फीसदी ग्रामीण है। कम आय वर्ग की जनता निवास करती हैं। यहां उच्च शिक्षा का अभाव है, विश्वविद्यालय स्थापना के सभी मानक पूर्ण करने के बावजूद आज तक जनपद विश्वविद्यालय विहीन है और हम सभी को उच्च शिक्षा ग्रहण करने का पूरा अधिकार है। इस वजह से आज छात्रों ने खून से लिखा पत्र सरकार को भेजने का काम किया है ताकि सरकार शीघ्र विश्वविद्यालय को लेकर घोषणा करें।

जिला पंचायत सदस्य गोविंद यादव ने कहा कि छात्र वर्षों से विश्वविद्यालय की मांग उठा रहे हैं, लेकिन सरकार गंभीर नहीं हो रही है। इस वजह से मजबूरन छात्रों को खून से लिखा पत्र सरकार को भेजना पड़ा रहा है। महामंत्री प्रवीण विश्वकर्मा ने कहा कि विश्वविद्यालय की मांग जल्द से जल्द पूर्ण नहीं की जाती है तो जनसमर्थन से छात्र उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। सभी छात्रों ने एक स्वर में कहा कि सरकार शीघ्र विश्वविद्यालय की मांग पूर्ण करने तक छात्र धरना-प्रदर्शन के साथ ही अन्य तरह का आंदोलन चलाएंगे। इस अवसर पर रघुराज प्रताप सिंह, अभिषेक कुमार गौड़, शैलेश यादव, अमन कश्यप, अरुण कुमार, ओजस्वी साहू, अनिल कुमार, दीपक कुमार, हेमंत श्रीवास्तव, निखिल राज भारती, आकाश विश्वकर्मा, रणविजय प्रताप, मोहन रावत, राजदीप रावत, दीपक यादव, शशांक सिंह, विशाल चौधरी, चमचम चौबे, अवनीश प्रताप सिंह, अभिनव सिंह, सौरभ खरवार, कुश सहित दर्जनों छात्र मौजूद थे। 


*SDM ने किया ब्लैकमेल, संबंध बनाने महिला अधिकारी पे डाला दबाव*

अहमदाबाद: गुजरात के अहमदाबाद में साइबर अपराध शाखा ने बड़ी कार्रवाई की है और एक 28 वर्षीय एक उपजिलाधिकारी (SDM) को गिरफ्तार किया है. एसडीएम पर एक महिला सरकारी अधिकारी की निजी तस्वीरों और वीडियो की मदद से ब्लैकमेल करने के अलावा उनका पीछा करने का आरोप है. पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि उपजिलाधिकारी ने ये तस्वीरें और वीडियो उस समय बनाया था, जब वे दोनों एक साथ काम कर रहे थे और मित्र बन गए थे.

आरोपी कर रहा था ब्लैकमेल
पुलिस उपायुक्त (साइबर अपराध) अमित वसावा ने कहा कि महिला अधिकारी ने अरावली जिले में उपजिलाधिकारी (SDM) के रूप में कार्यरत राज्य सरकार के अधिकारी मयंक पटेल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने कहा कि आरोपी शादीशुदा होने के बावजूद पीड़िता पर संबंध बनाए रखने के लिए दबाव बना रहा था और जब महिला ने इनकार कर दिया तो पटेल तस्वीरों और वीडियो का इस्तेमाल करके परेशान करने लगा.

आरोपी के खिलाफ इन धाराओं में केस दर्ज
मयंक पटेल को भारतीय दंड संहिता की धारा 354-डी (पीछा करना), 500 (मानहानि), 506 (आपराधिक धमकी) सहित विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है. अमित वसावा ने कहा कि आरोपी के खिलाफ निजता भंग करने और पीड़िता और उसके रिश्तेदारों को अश्लील सामग्री भेजने पर सूचना प्रौद्योगिकी कानून के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

पीड़िता को 9 अलग-अलग नंबरों से किया मैसेज
रावली जिले में उपजिलाधिकारी (SDM) के रूप में कार्यरत राज्य सरकार के अधिकारी मयंक पटेल ने ने पीड़िता को फोन और मैसेज करने के लिए नौ अलग-अलग नंबरों का इस्तेमाल किया. 


*Big breaking:- भारतीय कोरोना सर्टिफिकेट को 96 देशों ने दी मंजूरी*

नई दिल्ली। भारत ने जिस रफ़्तार से टीकाकरण का अभियान चलाया उसका सभी देशों ने तारीफ की। यही वजह है देश में कोरोना के केसों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। अब भारत द्वारा कोरोना टीकाकरण प्रमाण पत्र को 96 देशों ने मान्यता दी है। मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांड़विया ने बताया कि दुनिया भर के देश भारतीय कोरोना प्रमाण पत्र को मंजूरी दे रहे हैं जो भारत के लिए अच्छी खबर है। 


*अयोध्या के रहने वाले मुहम्मद शरीफ को पद्मश्री, मोदी से मुलाकात के बाद बोले, कभी सोचा नही था*

 
नई दिल्ली। मुहम्मद शरीफ को सोमवार को पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया है। राष्ट्रपति भवन में उनको राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मानित किया। 5 हजार से ज्यादा लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार कर चुके समाजसेवी मुहम्मद शरीफ वह शख्स हैं जो अपने बेटे का अंतिम संस्कार नहीं कर सके थे। इससे आहत होकर ये तय किया कि अब कोई हिन्दू हो या मुसलमान किसी की भी लाश लावारिस नहीं रहेगी। सबका अंतिम संस्कार वो करेंगे। उसके बाद से वो 3 हजार हिन्दू और 2 हजार से ज्यादा मुस्लिम लोगों का अंतिम संस्कार कर चुके हैं।

अयोध्या के रहने वाले मुहम्मद शरीफ को सोमवार को पद्म श्री से सम्मानित किया गया। मुहम्मद शरीफ ने बातचीत करते हुए बताया कि 25 साल पहले सुल्तानपुर में उनके बेटे की मौत हो गयी थी, तो किसी ने उसका अंतिम संस्कार नहीं किया। तभी से मैंने तय किया कि अब चाहे हिन्दू हो या मुसलमान सबका अंतिम संस्कार में खुद करूंगा। उन्होंने अंतिम संस्कार की यात्रा को शुरू कर दिया और तब से अब तक 3 हजार हिन्दू और करीब 2 हजार मुस्लिमों के लावारिस शवों का अंतिम संस्कार कर चुका हूं।

मुहम्मद शरीफ ने बताया कि पद्मश्री मिलने से वो बहुत खुश हैं. उनके काम को लोगों द्वारा सराहा गया और सरकार के द्वारा उनका सम्मान किया गया. इस से उनका मनोबल और बढ़ गया है. वो इसी तरह से आगे भी काम को करते रहेंगे। शरीफ चाचा ने बताया कि उनको इसके लिए किसी भी तरह की सरकारी मदद नहीं मिलती है. वो जनता से ही पैसा इकट्ठा करके लोगों का अंतिम संस्कार करते हैं. उन्होंने बताया कि शुरू में लोग उनका मजाक उड़ाया करते थे, लेकिन फिर बाद में लोग उनको सम्मान देने लगे. इतना बड़ा सम्मान मिला है जिसके लिए सबका आभार है। मुहम्मद शरीफ ने बताया की प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से कल मुलाकात हुई और बात भी हुई। इतने बड़े लोगों से कभी मुलाकात होगी सोचा नहीं था।


*RBI ने इस बैंक पे कई प्रतिबंध लगया, खाताधारक 5000 से ज्यादा नही निकल पाएंगे अब।*


RBI ने बाबाजी दाते महिला सहकारी बैंक, यवतमाल पर कई प्रतिबंध लगाए हैं। ऐसे में इस बैंक के खाताधारक 5 हजार से ज्यादा पैसे नहीं निकाल सकेंगे। आरबीआई (RBI) ने सहकारी बैंक की वित्तीय स्थिति खराब होने का कारण यह कदम उठाया है।

कहा कि बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1949 के तहत बैन 8 नवंबर 2021 को व्यापार बंद होने से 6 माह तक लागू रहेगा। यवतमाल का बैंक अब आरबीआई की मंजूरी के बिना भुगतान नहीं कर सकता है। वहीं ना किसी व्यवस्था में शामिल होगा और न अपनी प्रॉपर्टी को बेच या ट्रांसफर कर सकता है।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में 5,000 हजार से ज्यादा नहीं निकाल सकेंगे ग्राहक:

रिजर्व बैंक ने बयान जारी कर कहा कि बैंक की नकदी स्थिति को देखते हुए सभी ग्राहक 5000 रुपए से अधिक की राशि नहीं निकाल सकेंगे। वहीं आरबीआई ने कर्नाटक के दावणगेरे स्थित मिलथ को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड पर लगाए प्रतिबंध 7 फरवरी 2022 तक के लिए बढ़ा दिए हैं। सहकारी बैंक पर बैन 26 अप्रैल 2019 को लगा था। जिसे समय-समय पर संशोधित किया गया। पिछली बार पांबदी 7 नवंबर 2021 तक बढ़ाई गई थीं।

नहीं मिलेंगे पांच लाख रुपए:
वहीं पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के कस्टमर्स को पहले लॉट में पांच लाख रुपए तक का इंश्योरेंस कवर नहीं मिलेगा। बैंक फिलहाल मल्टी स्टेट कोऑपरेटिव बैंक रेजोल्यूशन प्रक्रिया के अंतर्गत है। डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेसन पहले लॉट में पीएमसी बैंक को छोड़कर अन्य 20 बैंकों के ग्राहकों को पेमेंट करेगा। पहले लॉट के लिए 90 दिनों की अवधि 30 नवंबर को समाप्त होगी। 


*विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का प्रमोशन हुआ है*


नई दिल्ली। वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का प्रमोशन हुआ है वर्धमान को अब ग्रुप कैप्टन बनाया गया है। बता दें कि अभिनंदन को शौर्य चक्र से सम्मानित किया जा चुका है। अभिनन्दन पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देते हुए अमेरिकी एफ -16 को मार गिरा था। सूत्रों ने बताया कि एयरफोर्स के बहादुर अधिकारी का प्रमोशन हो गया है और वह अब ग्रुप कैप्टन होंगे। उन्हें जल्द ही नई रैंक सौंपी जाएगी।

ग्रुप कैप्टन भारतीय थल सेना के कर्नल रैंक के बराबर है। सूत्रों ने बताया कि एयरफोर्स के बहादुर अधिकारी का प्रमोशन हो गया है और वह अब ग्रुप कैप्टन होंगे। उन्हें जल्द ही नई रैंक सौंपी जाएगी। ग्रुप कैप्टन भारतीय थल सेना के कर्नल रैंक के बराबर है। गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में भारतीय सेना के काफीले पर हमला हो गया था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।
पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में की गई आतंकी कैंपों पर एयरस्ट्राइक के बाद उपजे तनाव के बाद पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय सीमा में दाखिल होने की कोशिश की थी। भारत ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया था। भारत के दबाव में पाकिस्तान ने सकुशल उन्हें वापस भेज दिया था। अभिनंदन ने 2019 में बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाक वायुसेना के साथ हुई झड़प के दौरान अप्रतिम साहस का परिचय दिया था। उन्होंने पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया था। भारत के दबाव के कारण उन्हें सकुशल छोड़ दिया गया था। 


*पटना में लालू की प्रेस कॉन्फ्रेंस, नीतीश बीजेपी और कांग्रेस पे तीखा हमला*

पटना: तीन साल के अंतराल के बाद पहली बार रविवार को पटना पहुंचे आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अपना पहला इंटरव्यू दिया है. पटना पहुंचने के बाद समाचार एजेंसी को दिए गए पहले इंटरव्यू में लालू यादव ने बीजेपी से लेकर नीतीश कुमार तक पर हमला बोला है. इतना ही नहीं आरजेडी सुप्रीमो ने कांग्रेस के छुटभैये नेताओं को भी खूब सबक सिखाया है.

 

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार को अहंकारी बताते हुए कहा है कि नीतीश खुद को प्रधानमंत्री के तौर पर देख रहे थे. हर तरफ से उन्हें पीएम मैटेरियल बताया जा रहा था. नीतीश कुमार जैसा अहंकारी व्यक्ति कोई नहीं हो सकता, लेकिन जब पीएम बनने में असफल रहे तब वह बीजेपी की गोद में बैठ गए. बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी यह बात भली-भांति पता है कि नीतीश कुमार क्या चीज है. लालू यादव ने न्यूज़ एजेंसी से बातचीत में कहा है कि पीएम मटेरियल की हवा जब निकल गई तो नीतीश जुगाड़ के सहारे बिहार में सत्ता पर बने हुए हैं.

 

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने आरजेडी और कांग्रेस के संबंधों पर भी बेबाकी से अपनी बात रखी है. लालू यादव ने कहा है कि कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है. राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस का वजूद है. कांग्रेस के लिए हमने जितना किया है, उतना किसने किया. लालू यादव ने कहा कि कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व को यह बात पता है. लेकिन कांग्रेस की नौकरी करने वाले छुटभैये नेता इस बात को नहीं समझते हैं. लालू ने यह भी कहा है कि वह ऐसे नेताओं का नोटिस नहीं लेते. उनका मानना है कि आज भी देश में विपक्षी एकजुटता का नेतृत्व कांग्रेस ही कर सकती है.

 

मौजूदा विधानसभा उपचुनाव को लेकर लालू यादव ने अपनी पार्टी की जीत का दावा किया है. लालू यादव ने कहा है कि उन्हें इस बात में रत्ती भर भी संदेह नहीं कि आरजेडी के उम्मीदवार दोनों सीटों पर चुनाव जीतेंगे. लालू ने कहा कि तेजस्वी यादव ने बेहतरीन तरीके से नेतृत्व को संभाला है. तेजस्वी ने पहले ही विरोधियों की हवा निकाल दी है और जो थोड़ा बहुत बचा है उसका विसर्जन करने वह खुद आ गए हैं. लाल यादव ने कहा कि वह कल यानी 27 अक्टूबर को दोनों विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव प्रचार करेंगे.

 

इतना ही नहीं आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने बीजेपी और केंद्र सरकार को भी आड़े हाथों लिया. लालू यादव ने कहा कि देश में महंगाई अब कमरतोड़ स्थिति से भी ऊपर जा पहुंची है. पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही है. आम लोगों के लिए जीना मुश्किल हो गया है. बीजेपी जब विपक्ष में थी तो महंगाई को मुद्दा बना दी थी. लेकिन आज देश में महंगाई की चर्चा तक नहीं होने दी जा रही. आम आदमी परेशान है और सरकार को इसकी परवाह नहीं.  


*बीजेपी के वर्तमान विधायकों में लगभग 125 विधायक उम्मीदवारों का टिकट काटेगा : सूत्र*

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश में एक बार फिर सरकार बनाने के लिए भाजपा ने विधानसभा चुनाव के टिकट वितरण का फार्मूला तय कर लिया है। पार्टी के फार्मूले के अनुसार टिकट वितरण हुआ तो विधानसभा चुनाव-2022 में 125 से अधिक उम्मीदवार बदल जाएंगे। इनमें 2017 में चुनाव जीते और हारे उम्मीदवार भी शामिल है।

सूत्रों के मुताबिक साढ़े चार वर्ष तक संगठन व सरकार की गतिविधियों में निष्क्रिय रहने वाले विधायकों का टिकट कटेगा। वहीं, साढ़े चार वर्ष में समय-समय पर अनर्गल बयानबाजी कर संगठन व सरकार को कठघरे में खड़ा करने वाले विधायकों पर भी गाज गिरेगी। 70 वर्ष की उम्र पार कर चुके, विभिन्न प्रकार की गंभीर बीमारी से जूझ रहे विधायकों का टिकट भी कटेगा।।