1. Home
  2. धर्म-अध्यात्म

धर्म-अध्यात्म

जीवन में मुसीबतों ने डाला है डेरा, हनुमान प्रश्नावली चक्र में है समस्या का हल

 कभी-कभी हालात ऐसे बन जाते हैं कि जिंदगी अबूझ पहेली लगती है. जिंदगी ऐसे-ऐसे सवाल खड़े कर देती है, जिनके जवाब मिलना मुश्किल हो जाता है. ऐसे में आप परेशान ना हों क्योंकि हनुमान प्रश्नावली चक्र से आप अपने प्रश्नों का उत्तर तुरंत ही जान सकते हैं.

 
इसकी विधि अत्यन्त सरल है. इस चक्र में 1 से 49 तक के अंक लिखे हैं. जब भी आपको कोई प्रश्न पूछना हो तो शुद्ध चित्त होकर एकाग्र मन होकर आंखें बंद करते हुए रामभक्त हनुमानजी का स्मरण करें.

काशी विश्वनाथ मंदिर से जुड़ीं ये 5 बातें शायद ही जानते होंगे आप

 वाराणसी में द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख काशी विश्वनाथ मंदिर की महिमा विश्व प्रसिद्ध है. यह मंदिर गंगा नदी के तट पर विद्यमान है. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने निर्वाचन क्षेत्र काशी के दौरे पर थे और उन्होंने काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा की. यहां पहुंचकर प्रधानमंत्री मोदी ने दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेने से पहले श्रीकाशी विश्वनाथ से राष्ट्र में शांति और समृद्धि का आशीर्वाद मांगा.


Shivratri 2019: क्यों करते हैं महादेव की भस्म आरती

 आज महाशिवरात्रि है और सुबह- सुबह ही मंदिरों के बाहर लंबी कतारें देखने को मिल रही हैं. इस विविधता वाले देश में भगवान भोले को अलग अलग तरीकों से प्रसन्न किया जाता है. देश में स्थापित शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों का अपना महत्व और इतिहास है. 


शनिदेव के 5 सबसे बड़े धाम, जानिए प्रसन्न करने के सही उपाय

 शनि शिंगणापुर (महाराष्ट्र)

 
महाराष्ट्र में स्थित इस मंदिर की ख्याति देश ही नहीं विदेशों में भी है. कई लोग तो इस स्थान को शनि देव का जन्म स्थान भी मानते है. ऐसा कहा जाता है कि यहां शनि देव हैं, लेकिन मंदिर नहीं है. घर है लेकिन दरवाजा नहीं वृक्ष है लेकिन छाया नहीं है. शिंगणापुर के इस चमत्कारी शनि मंदिर में स्थित शनिदेव की प्रतिमा है. ये प्रतिमा पांच फीट नौ इंच ऊंची और एक फीट छह इंच चौड़ी है. देश-विदेश से श्रद्धालु यहां आकर शनिदेव की इस दुर्लभ प्रतिमा का दर्शन लाभ लेते हैं.