*बड़ी राहत;प्रदेश में बिजली के दरों में अभी नही होगा बढ़ोतरी*

रायपुर- बिजली दरों में बढ़ोत्तरी को लेकर लगाये जा रहे अटकलों पर विराम लग गया है. छत्तीसगढ़ में बिजली दरों में कोई बदलाव नहीं होगा. प्रचलित बिजली दर सत्र 2020-2021 के लिए यथावत रहेंगी. बता दें कि विगत फ़रवरी माह में बिजली कंपनियों ने बिजली दर में 25 फीसदी बढ़ाने को लेकर राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा था. कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते बिजली दर बढ़ाना राज्य सरकार को सुसंगत नहीं लगा. राज्य सरकार ने बिजली दर में किसी प्रकार के बदलाव नहीं करने का बड़ा फैसला लिया है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का लाइव उद्बोधन देखते हुए भाजपा नेत्री हर्षिता पांडेय*

बिलासपुर- देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वितीय कार्यकाल के एक वर्ष पूर्ण होने पर बीते वर्षों में प्रधामंत्री के नेतृत्व में किये गए कार्यों का उल्लेख राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष श्री जे पी नड्डा द्वारा शाम 4 बजे fb live के माध्यम से किया गया जिसका प्रसारण लाइव देखते हुए भाजपा नेत्री श्रीमती हर्षिता पांडेय।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने हिंदी पत्रकारिता दिवस की शुभकामनाएं दी है*

रायपुर-विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने हिन्दी पत्रकारिता दिवस 30 मई की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकार लोकतंत्र के वो मजबूत स्तम्भ हैं जो देश के विकास को सही दिशा देते हैं। कोरोना काल में भी आमजन तक खबरें पहुंचाने में सराहनीय भूमिका निभाने वाले सभी कोरोना वॉरियर पत्रकारों का धन्यवाद। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*अजीत जोगी ने अपनी योग्यता के दम पर हर वह मुकाम हासिल किया जिसके वे अधिकारी थे,विनम्र श्रद्धांजलि-विक्रम उसेंडी*

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर गहन शोक व्यक्त किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि स्व. जोगी ने अपनी योग्यता के दम पर हर वह मुक़ाम हासिल किया जिसके वे अधिकारी थे। वे एक कुशल प्रशासक थे और यह गुण उनके राजनीतिक जीवन में तब बहुत उपयोगी सिद्ध हुआ जब वे प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोनीत हुए थे। छत्तीसगढ़ का विकास और यहाँ के लोगों का सर्वतोमुखी कल्याण उनकी प्राथमिकताओं में था और इसके लिए वे सतत प्रयत्नशील रहे। उनके निधन से छत्तीसगढ़ को जो अपूरणीय क्षति हुई है, उसकी भरपाई संभव नहीं होगी। श्री उसेंडी ने स्व. जोगी की आत्मा की चिरशांति की प्रार्थना करते हुए जोगी-परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएँ प्रेषित कीं।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने विधायक शैलेष पांडेय के माध्य्म से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा*

देवेश दुबे मो 9009083822

बिलासपुर।- वार्षिक वेतन वृद्धि और कोविड 19 संक्रमण के बचाव मे लगे राज्य के कर्मचारियो के छत्तीसगढ सरकार के आर्थिक नाके बंदी की आदेश को बहाल करने पर पुनर्विचार करने हेतु मुख्यमंत्री के नाम बिलासपुर नगर विधायक शैलेष पाण्डेय के माध्यम से छत्तीसगढ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ बिलासपुर जिला शाखा की ओर से संघ प्रतिनिधि वरिष्ट उपाध्यक्ष देवेन्द्र पटेल, तखतपुर तहसिल अध्यक्ष चन्द्रशेखर पाण्डेय द्वारा ज्ञापन सौपा गया।
संघ के उक्त पदाधिकारियो द्वारा संयुक्त रूप से यह भी जानकारी दी गई कि मार्च माह मे मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के कर्मचारियो को मिडिया के माध्यम से इस बात से आश्वस्त किया गया था कि दूसरे राज्यो की तरह छत्तीसगढ़ के कर्मचारियो का वेतन नही काटा जायेगा। लेकिन इस बयान के बाद भी अचानक 27 मई को अधिकारी कर्मचारियो को 1 जुलाई 2020 एवं 1 जनवरी 2021 वार्षिक वेतन वृध्दि के साथ ही साथ अन्य प्रासगिक लाभ महगाई भत्ता, क्रमोन्नति, समयमान वेतनमान संबधित एरियर राशि तथा पदोन्नति को रोका जाना दुखद बात है। आर्थिक संकट से ऊबरने के बहाने मितब्यता के नाम पर कर्मचारियो पर पर गाज गिरा रही है और आर्थिक नाके बंदी की जा रही है। 
संघ के जिला शाखा अध्यक्ष पी.आर.कौशिक, वरिष्ट उपाध्यक्ष देवेन्द्र पटेल, संरक्षक आर.पी.शर्मा, सचिव विकाश तिवारी, देवेन्र्द ठाकुर, कोषाध्यक्ष विनय विश्वकर्मा द्वारा जानकारी देते हुये कर्मचारियो से अपील किया गया है कि आदेश संशोधन नही होने पर शीघ्र ही संघर्ष के लिये तैय्यार रहें।उक्त जानकारी देवेन्र्द पटेल वरिष्ट उपाध्यक्ष और चन्र्द शेखर पाण्डेय अध्यक्ष तह.शाखा द्वारा संयुक्त रूप से दिया गया। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*कल भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सोशल मीडिया के माध्य्म से कार्यकर्ताओं को करेंगे संबोधित*

बिलासपुर। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष पूर्ण होने पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 30 मई शनिवार की शाम 4ः00 बजे सोशल मीडिया के माध्यम से देशभर के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। भारतीय जनता पार्टी के नेता विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल, सांसद अरूण साव, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता भूपेन्द्र सवन्नी, मस्तूरी विधायक डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, बेलतरा विधायक रजनीश सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय, भाजपा नेता कांशी साहू, अर्चना पोर्ते, भाजपा जिला महामंत्री घनश्याम कौशिक, जिला उपाध्यक्ष मोहित जायसवाल, कृष्ण कुमार कौशिक ने भाजपा कार्यकर्ताओं से आग्रह किया है कि सोशल मीडिया के सारे प्लेटफार्म में राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा के उद्बोधन को अधिक से अधिक लोगों तक प्रसारित करें, साथ ही समाज के अंतिम व्यक्ति तक उनके उद्बोधन को पहुंचाने का उन्होंने आग्रह किया है। “Bjp Chhattisgarh” भाजपा छत्तीसगढ़ के फेसबुक पेज पर उनका उद्बोधन लाइव होगा।

ब्यूरो रिपोर्ट


*अजीत जोगी के निधन पर नगर पंचायत कार्यालय में शोक सभा किया गया दी गई श्रद्धांजलि*

नगर पंचायत कार्यालय में अजीत जोगी का निधन होने पर शोक सभा का किया गया आयोजन।

बिलासपुर।- नगर पंचायत अध्यक्ष पथरिया ग्वालदास अनंत ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि अजीत जोगी जी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रहते हुए अपने कर्तव्य के प्रति जिम्मेदार थे। श्री जोगी राज भक्ति, सादगी व ईमानदारी के प्रतीक थे। श्री जोगी छतीसगढ़ के प्रथम ऐसे नेता है जो लगातार 17 वर्षों तक कलेक्टर रहे। नगर पंचायत सभापति संपत जायसवाल ने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि हम सभी को अजीत जोगी के सिद्धांतों, सादगी व ईमानदारी सहज जीवनशैली को अपने जीवन में ढालना चाहिए एवं उनकी कार्यशैली पर चलते हुए अपने प्रदेश के प्रति कर्तव्यनिष्ट होना चाहिए। यही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्रद्धांजलि सभा में पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष पथरिया जसपाल सिंह छाबड़ा,जयप्रकाश लोधी,ओमू दीवान,अभिषेक सिंह यादव,रवि राठौर,तुलसी सोनवानीअनिल साहू,कमल डड़सेना,गुलशन साहू,मोंटू जायसवाल उपस्थित रहे। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर भारतीय जनता पार्टी के नेताओ ने गहरा दुःख व्यक्त किया है*

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत प्रमोद कुमार जोगी के निधन पर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने गहरा दुख व्यक्त किया।
भाजपा प्रदेश भूपेन्द्र सवन्नी ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। श्री अजीत जोगी बहुआयामी प्रतिभाशाली व्यक्तित्व के धनी थे वह अत्यंत जीवट थे उन्होंने अपना सारा जीवन पूरी जीवटता के साथ जिया छत्तीसगढ़ की राजनीति में यह अपूरणीय क्षति है।
मस्तूरी विधायक डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी ने कहा कि श्री जोगी जी तमाम राजनीतिक असहमतियों के बावजूद प्रदेश की सर्वांगीण प्रगति के लिए उनकी प्रतिबद्धता थे। संगठन कौशल के वे धनी थे और यह उन्होंने छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस को अत्यल्प समय में प्रदेश की राजनीति में स्थापित कर प्रमाणित भी किया। उनका निधन प्रदेश की कभी भी न भर पाने वाली क्षति है।
बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी के कहा कि एक योग्य प्रशासक, मुखर वक्ता और कुशल राजनीतिज्ञ के तौर पर श्री अजीत जोगी ने छत्तीसगढ़ को एक नई पहचान दी। प्रदेश उनकी सेवाओं को सदैव याद रखेगा। प्रदेश की नब्ज पर उनकी गहरी पकड़ थी, वे आजन्म प्रदेश के हित में समर्पित रहे।
भाजपा जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी ने जिस मुखर वक्तृत्व का परिचय दिया, वह तथ्यपरक दृष्टि के साथ अपने पक्ष को मज़बूती के साथ रखने की उनकी तार्किक और बौद्धिक क्षमताओं का परिचायक रहा है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*कांग्रेस नेता राजेन्द्र शुक्ला के नेतृत्व में किसानों ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात,कोरोना से लड़ने दी सहायता राशि*

पथरिया - मुख्यमंत्री निवास रायपुर में गुरुवार को बिल्हा विधानसभा क्षेत्र के किसानों ने राजीव गांधी न्याय योजना के तहत मिले राशि में  से स्वेच्छा से 105000 (एक लाख पचास हजार)  जमा किया। बिल्हा विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी रहे राजेंद्र शुक्ला के नेतृत्व में 25 किसानों के दल ने नकद राशि और चेक मुख्यमंत्री को सौंपा।  इस दौरान किसानों ने कहा कि लॉकडाउन में आपने जो नगद राशि खातों में डाली है वह किसानों के लिए संजीवनी साबित हो रही है मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने जो किसानों के सम्मान का वादा किया था वह निभा रहा हूं आप लोग विपदा की इस घड़ी में जो सहयोग राशि दे रहे हैं वे बड़प्पन है|ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पथरिया के अध्यक्ष नेतराम साहू और पौसरी पूर्व सरपंच विनोद साहू ने क्षेत्र में कोरोना संक्रमण से बचाव ले लिए किए जा रहे कार्यो के बारे में  मुख्यमंत्री को बताया और साथ ही उनके द्वारा लागू किये न्याय योजना के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। वही प्रदेश कांग्रेस के संयुक्त महामंत्री राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि हमारे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी किसान के बेटे होने का फर्ज निभा रहे है और लगातार किसानों के हित में योजनाये संचालित कर रहे है । किसान का हमदर्द बन कर उनके लिए काम किसान के बेटा ही कर सकता है जैसा कि मुख्यमंत्री जी कर रहे है  यह दौरान सहित चेक सौपने वाले किसान  में ब्रजेश दुबे , मुकेश मिरी ,बद्री राजपूत, वीरेंद्र वर्मा ,खुशलराजपूत, विनोद दिवाकर ,परदेसी, बृजेश शर्मा, नेतराम साहू ,विनोद साहू ,मनहरण कौशिक ,सुरजीत गिल ,अभिषेक दुबे ,मनोजपांडे ,नरेश अग्रवाल,नानक रेलवानी , संदीप यादव , हजारी भरद्वाज ,कृष्णा कुमार दुबे ,हनुमान बरगाह, जय सिंह , त्रिलोकी वर्मा ,रवि वर्मा ,रामू सिंह ,युगल वर्मा, वीरेंद्र यादव ,झुमुक लाल शर्मा ,महेंद्र कौशिक ,राजाराम ठाकुर, धनुष पाली ,धनुष मरावी ,कमलेश सिंह बाबा ,मनोज साहू ,राम खिलावन साहू ,गोरेलाल पांडये, संजय कौशिक ,सहित अन्य मौजूद रहे| 

ब्यूरो रिपोर्ट


*14 दिन क्वारन्टीन अवधि पुर्ण कर लापरवाहीपूर्वक सीधे पहुँचा जनपद कार्यालय,सीईओ ने किया पुलिस के हवाले*

पथरिया - विकास खंड में प्रवासी मजदूरों के गाँव लौटने के बाद से क्षेत्र में 4 कोविड 19 के पॉज़िटिव मामले सामने आये थे वही ।मुंगेली में लगातार कोरोना के मरीजों का मिलना पूरे क्षेत्र के लोगो के लिए चिंता का विषय बना हुआ है वही बाहर से आये मजदूरों में से कुछ जो 14 दिनों का कवारेन्टाइन अवधि पूरा कर चुके वे सुरक्षा नियमो को धता बताते हुए निर्देशो का पालन नही करते हए नगर के आफिसों आकर घूमना शुरू कर दिया है । इसी तरह का मामला शुक्रवार को जनपद पंचायत भवन में आया जहाँ जनपद सीईओ कुमार सिंह कुछ गावो का निरीक्षण करके ऑफिस आये तभी ग्राम हथनिकला एक युवक ने फोन कर उनसे मिलने जनपद आने की बात कही जिस पर सीईओ ने मामले को फोन पर बताने को कहा लेकिन दो युवक सीधे जनपद भवन पहुचकर सीईओ के चैंबर में घुस गए और ग्राम पंचायत की शिकायत करने लगे सीईओ को बात करने पर पता चला कि वे दोनों युवक 14 दिन पहले महाराष्ट्र से वापस लौटे है जो 14 दिन का कवारेन्टाइन अवधि पूरा करके सीधे जनपद आये है । ये सुनते ही सीईओ कुमार सिंह सतर्क हो गए और सुरक्षा नियमो का उलंघन करके सभी को खतरे में डालने की फटकार लगाते हुए दोनों युवक को पुलिस के हवाले कर दिया ।

कवारेन्टाइन अवधि पूरा कर घूमना है दण्डनीय -
-क्षेत्र में लगभग दस हजार के करीब मजदूर कवारेन्टाइन सेंटरों में रह रहे है जिन्हें 14 दिन तक कवारेन्टाइन सेंटरों में रहना अनिवार्य किया गया इस अवधि के बाद भी आगामी 14 दिन घरों में रहना है लेकिन कुछ युवक इस अवधि को पूरा कर सीधे नगर मे आकर शराब या अन्य सामग्री खरीदने लगे है वही शासकीय कार्यालयों में भी जाने का उदाहरण जनपद से मिल गया है ।यह लापरवाही पूरे नगर और क्षेत्र पर भारी पड़ सकता है इन्हें रोकने के ठोस उपाय होने चाहिए इएलिये जनपद सीईओ ने युवको को पुलिस के हवाले कर दिया जिनसे इस तरह के लापरवाही कर दुसरो के लिए खतरा बनने वालो को दंडित किया सके और ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकी जा सके । ज्ञात हो कोविड 19 का लक्षण किसी मे 14 दिन के भीतर तो अन्य किसी व्यक्ति।में 30 दिन के भीतर नजर आता है । कवारेन्टाइन सेंटर में 14 दिन पूरा करने वाले मजदूरों को इसीलिए आगामी इतने ही दिन घर मे कवारेन्टाइन रहने को कहा गया है ताकि अगर कोई लक्षण दिखे तो इलाज संभव हो साथ ही दूसरे व्यक्तियों को संक्रमित होने से बचाया जा सके। कवारेन्टाइन अवधि के बाद बाहर आकर घूमने की लापरवाही करने वालो के विरुद्घ पुलिस कार्यवाही करने का स्पष्ट निर्देश शासन द्वारा दिया गया है ।

ब्यूरो रिपोर्ट


*संक्रमण काल मे सभी वर्ग के सहायता पर कर्मचारियों के लिए कठोर निर्णय आदेश वापस लेने छ.ग.टीचर्स एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से की मांग*

संक्रमण काल में सभी वर्ग को सहायता पर कर्मचारियों के लिए कठोर निर्णय आदेश वापस लेने छ.ग. टीचर्स एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से की मांग।

कोरबा:- वित्त विभाग द्वारा मितव्ययिता व वित्तीय अनुशासन के नाम पर वर्ष में एक बार मिलने वाले वार्षिक वेतन वृद्धि में रोक लगाने का आदेश जारी किया गया है। यह आदेश कर्मचारियों को हतोत्साहित करने वाला तथा कर्मचारी विरोधी आदेश बताते हुए तत्काल वापस लेने की मांग की गई है। छ.ग.टीचर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष मनोज चौबे ने मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, अपर सचिव छ.ग.शासन के नाम पत्र लिखकर वेतन वृद्धि रोकने का आदेश तत्काल वापस लेने व आगामी वार्षिक वेतन वृद्धि निरंतर जारी रखने का आग्रह किया गया है। कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु लागू देशव्यापी लॉक डाउन के कारण राजस्व प्राप्ति पर प्रतिकूल असर पड़ने का हवाला देते हुए राजस्व प्राप्ति का भरपाई कर्मचारियों के वार्षिक वेतन वृद्धि रोककर करना सर्वदा गलत है। शासन के पास राजस्व प्राप्ति के अन्य माध्यम हैं उनका उपयोग सरकार को करना चाहिए कोरोना संक्रमण काल में निम्न वर्ग को विभिन्न प्रकार के लाभ व सुविधाएं दी जा रही है। वहीं कर्मचारियों के हिस्से में वर्ष में एक बार वेतन वृद्धि का समय आता है उस पर भी रोक लगाने से महंगाई के इस दौर में परिवार की आर्थिक व्यवस्था बिगड़ जाएगी।
शिक्षक नेता मनोज चौबे ने मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिखकर बताया कि कर्मचारी करोना संक्रमण काल में भी इस महामारी से लड़ने हर स्तर पर सहयोग कर रहे हैं। कर्मचारियों ने अपने एक दिन का वेतन भी कोरोना के लड़ाई में सहायता हेतु दिया है। राज्य सरकार ने महंगाई भत्ता पर पहले से ही अघोषित रोग लगाया हुआ है उसे जारी करने के बजाय वेतन वृद्धि रोक कार वेतन को स्थिर करने का आदेश व्यावहारिक है। जिला प्रतिनिधि के रूप में वेदव्रत शर्मा ब्लॉक अध्यक्ष कोरबा व रामचरण साहू जिला महामंत्री ने कलेक्टर कार्यालय कोरबा एवं जिला शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर कहा कि कोरोना की लड़ाई में सरकारी कर्मचारी लगातार जुटा हुआ है, चाहे कारेंटीन सेंटर में ड्यूटी हो या फिर प्रवासी श्रमिकों को लाने ले जाने का कार्य हो चाहे घर-घर सर्वे हो कोरोना से संबंधित हर छोटे-बड़े काम किया जा रहा है। कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा होने पर भी ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों को 50 लाख रुपए का बीमा कवर नहीं दिया जा रहा है बल्कि वेतन वृद्धि रोक दिया गया। जबकि वर्तमान में सरकारी कर्मचारी के हित में निर्णय लेकर उनका मनोबल बढ़ाने की आवश्यकता है।
छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रमोद सिंह राजपूत, कन्हैया देवांगन, श्रीमती माया क्षत्रिय, श्रीमती मधुलिका दुबे, नरेंद्र चंद्रा, प्रदीप जयसवाल, बुद्धेश्वर सोनवानी, मनोज लोहानी, श्रीमती यशोधरा पाल, रामनारायण रविंद्र, उपेंद्र राठौर, महावीर चंद्रा, राम शेखर पांडेय, चंद्रिका पांडेय आदि पदाधिकारियों ने वार्षिक वेतन वृद्धि के रोक को कर्मचारियों के सेवा भाव व उनके परिवार के हित में तत्काल वापस लेने की मांग सरकार से की है। 


*बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने किया प्रधानमंत्री सड़क योजना का शिलान्यास*

*बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने किया प्रधानमंत्री सड़क योजना का शिलान्यास*

बिलासपुर। प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत् कोनी, नगोई मार्ग का शिलान्यास किया गया, इस मार्ग की लम्बाई लगभग 9 कि.मी. है जिसकी लागत 4 करोड़ 75 लाख है। कोनी, नगोई मार्ग के बनने से बेलतरा विधानसभा क्षेत्र के कई गांव की सड़क समस्या का समाधान होगा।
इस मौके पर बेलतरा विधायक रजनीश सिंह, नगर निगम महापौर रामशरण यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान, जनपद उपाध्यक्ष विक्रम सिंह, जनक देवांगन, धनंजय त्रिपाठी, अवधेश अग्रवाल, तिलक साहू, राजेन्द्र अग्रहरि, अनिल पाण्डेय, संतोष दुबे, मनीष गढेवाल, राजेश सूर्यवंशी, संजय मिश्रा, प्रमोद नायक, मोनू श्रीवास, रामनिवास शर्मा, मनीराम ध्रुव एवं प्रधानमंत्री सड़क योजना के ए.सी.ई. शर्मा, ई वरूण राजपूत सहित क्षेत्रवासी उपस्थित थे।

ब्यूरो रिपोर्ट


*प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर सीएम भूपेश ने शोक व्यक्त किया है,जोगी के अंतिम संस्कार कल उनके गृह नगर गौरेला में राजकीयसम्मान के साथ किया जाएगा*

रायपुर- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत प्रमोद कुमार जोगी के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया है। मुख्यमंत्री बघेल ने अजीत जोगी के निधन पर राज्य में आज से तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। इस दौरान राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा और कोई भी शासकीय समारोह आयोजित नहीं किए जाएंगे। स्व.जोगी का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ कल 30 मई को गौरेला में होगा।मुख्यमंत्री बघेल ने अपने शोक संदेश में कहा है कि अजीत जोगी का निधन छत्तीसगढ़ के लिए अपूरणीय क्षति है। प्रदेश के विकास के लिए राज्य बनने के बाद अजीत जोगी ने छत्तीसगढ़ राज्य के तीव्र विकास की रूपरेखा तैयार की। एक कुशल राजनीतिज्ञ और प्रशासक के रूप में राज्य को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद अजीत जोगी के नेतृत्व में बनी सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में कार्य करने का मौका मिला। अजीत जोगी ने छत्तीसगढ़ राज्य में गांव, गरीब और किसानों के कल्याण के लिए काम करने की दिशा निर्धारित की।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्व.जोगी के परिजनों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए उन्हें इस दुख की घड़ी को सहन करने की शक्ति प्रदान करने और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। ज्ञातव्य है कि अजीत जोगी बीते 9 मई से उपचार के लिए चिकित्सालय में भर्ती थे। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद प्राध्यापक के रूप कैरियर की शुरुआत की। पहले आईपीएस के रूप में अपनी सेवाएं दीं। इसके बाद भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए चयनित हुए। अविभाजित मध्यप्रदेश के दौरान रायपुर सहित कई जिलों के कलेक्टर रहे। अजीत जोगी सांसद, विधायक भी रहे। एक नवंबर 2000 को छत्तीसगढ़ राज्य बना तो वे राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री बने। 

ब्यूरो रिपोर्ट


जोगी जी का जाना एक युग का अंत- रौनक सलूजा बिलासपुर


रायपुर/29 मई 2020। छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर बिलासपुर के रौनक सलूजा ने गहरा दुख व्यक्त करते हुये श्रद्धांजलि अर्पित की है। राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में उनकी सेवाओं का स्मरण करते हुये रौनक़ सलूजा ने गहरा दुख व्यक्त किया है।


 


*पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन,प्रदेश शोक की लहर*

रायपुर- छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का आज दोपहर निधन हो गया। लगातार उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। उन्हें थोड़ी देर पहले कार्डियक अरेस्ट आया था। इसके बाद डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य सुधार के लिए जुट गई थी। लेकिन डॉक्टरों की टीम उन्हें बचाने में नाकाम साबित हुई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*मजदुरो को गृह नगर लेकर जा रही बस दुर्घटनाग्रस्त,दर्जन भर लोग घायल*

महासमुंद- दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को उनके गृह ग्राम भेजे जा रहे है। वहीँ देश भर से लगातार मजदूरों से भरे वाहनों के हादसे के शिकार होने की खबरें आ रही है। ऐसा ही एक हादसा छत्तीसगढ़ के महासमुंद में हुआ, जहां मजदूरों से भरी बस पलट गई। बताया जा रहा है कि मजदूरों को मुंबई से पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा था। इसी बीच महासमुंद में ये हादसा हो गया।
दुर्घटना में 12 मजदूरों के घायल होने की खबर है, वहीं एक का पैर फ्रैक्चर हो गया है। बस में कुल 26 मजदूर सवार थे। ये मुंबई में फंसे हुए थे जिन्हें पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा था। इसी बीच बस चालक को झपकी आ गई और बस सड़क किनारे जा पलटी। हादसे में किसी के मौत की खबर नहीं है लेकिन 12 मजदूर घाययल हो गए। उनका इलाज कराया जा रहा है। वहीं बाकी मजदूरों के लिए दुसरे बस की व्यवस्था कर उन्हें उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*बिलासपुर के नए कलेक्टर सारांश मित्तर कलेक्ट्रेट पहुँचे किया पदभार ग्रहण*

बिलासपुर-: बिलासपुर जिले के नवपदस्थ कलेक्टर सारांश मित्तर ने आज अपरान्ह में अपना कार्यभार ग्रहण किया। उन्होंने पूर्व पदस्थ कलेक्टर डाॅ.संजय अलंग से जिले के कलेक्टर का प्रभार प्राप्त किया। सारांश मित्तर वर्ष 2010 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी है। इसके पूर्व वे सरगुजा जिले के कलेक्टर थे।निवृतमान कलेक्टर डॉ संजय अलंग को राज्य शासन ने बिलासपुर सम्भाग का कमिश्नर बनाया है । नवपदस्थ कलेक्टर के समक्ष बिलासपुर जिले को कोरोना संक्रमण में मिले रेड जोन से बाहर निकलने की बड़ी चुनौती है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*हर्षिता पांडेय ने किया क्वारन्टीन सेंटरों का निरीक्षण,बोली क्वारन्टीन सेन्टर को लेकर प्रदेश सरकार असंवेदनशील*

बिलासपुर/तखतपुर-भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश प्रतिनिधि श्रीमती हर्षिता पांडेय के नेतृत्व में भाजपा जनों द्वारा क्षेत्र के अनेंक गाँवों का भ्रमण कर क्वारेंटाईन में रह रहे मजदूरों से मुलाकात कर उन्हें मास्क, साबुन, सेनेटाईजर,बच्चों के लिए बिस्किट, टाफी इत्यादि सामग्री का वितरण किया गया। साथ ही क्वारेंटाईन स्थल पर होने वाली परेशानियों, असुविधा के बारे में जानकारी लिया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय महिला आयोग की सलाहकार श्रीमती हर्षिता पांडेय ने कहा कि - हमारे देश तथा प्रदेश के मजदूर हमारे अपने है उनके सुख दुख का ध्यान रखना हम सबका दायित्व है। ऐसे संकट के समय में हम आपके दुख दर्द को महसूस कर रहे है अतः आप सबको निराश ना होकर इस राष्ट्रीय आपदा के समय धैर्य और साहस के साथ लड़ते हुए कोरोना से विजय हासिल करना है। श्रीमती हर्षिता ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार क्वारन्टीन सेंटरों को ले कर बिल्कुल संवेदनशील नही है। अव्यवस्था से
हमारे श्रमिक साथी परेशान हो रहे हैं।
ग्राम हरदी, विजयपुर, सिलतरा, चुलघट, निगारबंद, तखतपुर तथा जरौंधा में प्रवासी मजदूरों को सामग्री वितरण करते समय भाजपा मंडल अध्यक्ष त्रेतानाथ पांडेय, संतोष कश्यप, महामंत्री प्रदीप कौशिक, नैन लाल साहू, दिनेश साहू, विश्वनाथ यादव, ईतवारी पाल, राजा राम कौशिक, सरपंच प्रतिनिधि श्याम सुंदर कश्यप सरपंच कला बाई, ईश्वर साहू सरपंच, अश्वनी श्रीवास सरपंच प्रतिनिधि प्रवीण साहू जनपद सदस्य प्रतिनिधि अजय यादव पार्षद कोमल सिंह ठाकुर दिलीप तोलानी दुर्गेश साहू दुर्गा कौशिक संतोष कौशिक ओमप्रकाश कौशिक रशीद अली रुख़सार निशा लोकेश वैष्णव उपस्थित रहे। 

ब्यूरो रिपोर्ट