*छत्तीसगढ़ बजट ब्रेकिंग न्यूज़*

छत्तीसगढ़ बजट ब्रेकिंग

◆विधायक निधि की राशि दो करोड़ से बढ़ाकर 4 करोड़ किए जाने की घोषणा

◆जिला पंचायत विकास निधि योजना में 22 करोड़ का प्रावधान

◆जनपद पंचायत विकास निधि योजना में 66 करोड़ का प्रावधान

◆जिला पंचायत जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों के मानदेय में की गई वृद्धि

◆जिला पंचायत अध्यक्ष का मानदेय 15000 से बढ़ाकर 25000 किया गया

◆जिला पंचायत उपाध्यक्ष का मानदेय 10000 से बढ़ाकर 15000 किया गया

◆जिला पंचायत सदस्य का मानदेय 6000 से बढ़ाकर 10000 प्रति माह किया गया 


*भाजपा आई॰टी॰ सेल प्रदेश पदाधिकारी लेंगे सरगुज़ा संभाग की बैठक*

रायपुरः भाजपा आईटी सेल के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एवं सरगुजा संभाग प्रभारी आयुष्मान दीक्षित, आईटी सेल प्रदेश सहसंयोजक आदित्य कुरील, पवन शर्मा रहेंगे सरगुजा संभाग के दौरे पर 3 मार्च से 6 मार्च तक लेंगे संभाग के सभी जिलो की आईटी सोशल मीडिया की बैठकों में रहेंगे शामिल। विभिन्न बैठकों में आई॰टी॰ सेल के सदस्यों को मंडल स्थर में मज़बूती प्रदान करने और आने वाले चुनाव में सशक्त भूमिका निभाने हेतु कार्य योजना तैयार करेंगे। संभाग स्थर की बैठक संभाग के आईटी सेल सोशल मीडिया के जिला पदाधिकारियों का इसमे शामिल होना है ।। आयुष्मान जी ने बताया आई॰टी॰ सेल की कार्य योजना ही कांग्रेस को आने वाले चुनाव में सत्ता से हटायेगी। 


आईएएस चंदन त्रिपाठी को चिराग का प्रोजेक्टर डारेक्टर अपाइंट किया है। ब चंदन अभी तक चिराग का चीफ आपरेटिंग ऑफिसर थीं। इस पद से उन्हें मुक्त कर प्रमोशन किया गया है। चंदन के पास डायरेक्टर वेटनरी, एडिशनल सीईओ एनआरडीए की भी जिम्मेदारी है। ये दोनों पद यथावत रहेंगे।

बता दें कि चिराग वर्ल्ड बैंक की परियोजना है। छत्तीसगढ़ के आधा दर्जन जिलों में इसके काम चल रहे हैं। इसके तहत चिराग परियोजना के तहत किसानों की आमदनी को बढ़ाना, गांवों में पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना और युवाओं को विभिन्न तरह की फसलों के उत्पादन में मदद की जाएगी।



छह साल के इस प्रोजेक्ट के लिए विश्व बैंक, संयुक्त राष्ट्र संघ की कृषि विकास के लिए स्थापित संस्था आईएफएसडी ने वित्तीय सहायता दी है। बता दें कि 1735 करोड़ स्वीकृत किए गए हैं।

युवाओं को मिलेगी ट्रेनिंग
परियोजना के अंतर्गत आदिवासी इलाकों के स्थानीय युवाओं को मछली पालन, पशु-पालन, उद्यानिकी, विशेष प्रजातियों की फसलों के उत्पादन, क्षेत्रीय जलवायु आधारित पौष्टिक खाद्य पदार्थों के उत्पादन के कामों से जोड़ा जाएगा। साथ ही युवाओं को सेल्स और मार्केटिंग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। युवाओं को अत्याधुनिक कृषि तकनीकों की शिक्षा दी जाएगी। उन्हें स्टार्टअप के लिए प्रशिक्षित और प्रोत्साहित भी किया जाएगा।

इन जिलों में लागू है परियोजना
चिराग परियोजना को बस्तर, बीजापुर, दंतेवाड़ा, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, सुकमा, मंगेली, बलौदाबाजार, बलरामपुर, जशपुर, कोरिया, सुरजपुर और सरगुजा के आदिवासी विकासखंडों में लागू किया जाएगा। 


प्रदेश में आज 2373 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ मिले,वहीं 1744 मरीज़ स्वस्थ हुए देखिए जिलेवार आंकड़े*

2373 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की आज पहचान हुई वहीं 1744 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।


एसईसीएल का काला सच, नियम को ताक पर रख होती है भर्ती,जिम्मेदार मौन

बिलासपुर-यूं तो एसईसीएल के कई कारनामों के लिए कई बार सामने आ चुका है और अब अयोग्य अधिकारी की नियुक्ति का मामला उजागर हुआ है । वर्तमान में एसईसीएल के जनसंपर्क अधिकारी के पद पर विगत एक साल से एक ऐसे अयोग्य व्यक्ति को बैठा दिया गया है,जिससे यह स्पष्ट हो रहा है कि चेहरा और योग्यता के बीच मात्र चेहरे को प्राथमिकता दी गई है।
कायदे से जनसम्पर्क अधिकारी को एमबीए या उससे अधिक योग्यता की डिग्री होनी चाहिए लेकिन वर्तमान जनसम्पर्क अधिकारी महज एमए हिंदी का क्वालिफिकेशन रखते हैं।कोल इंडिया की इतनी बड़ी कंपनी में इस तरह की लापरवाही समझ से परे है

इनके ऊपर के अधिकारी जीएम,कार्मिक एंड प्रशासन अनलेश सक्सेना सहाब इस मुद्दे पर कुछ भी बोलने से बचते नजर आ रहे हैं।और तमाम नियम और कायदों को ताक पर रख कर पद में बैठाने की कारगुजारी की गई है।जबकि कोल इंडिया की ही एक और संस्था है।डब्ल्यू बी सीएल में तीन व्यक्ति बैठे हैं,जो इस पद के लिए अपनी पूरी योग्यता रखते हैं ,लेकिन कोल विभाग ऐसा काला खेल खेल रहा है कि इसमें सिर्फ निजी स्वार्थ नजर आ रही है। बिलासपुर-यूं तो एसईसीएल के कई कारनामों के लिए कई बार सामने आ चुका है और अब अयोग्य अधिकारी की नियुक्ति का मामला उजागर हुआ है । वर्तमान में एसईसीएल के जनसंपर्क अधिकारी के पद पर विगत एक साल से एक ऐसे अयोग्य व्यक्ति को बैठा दिया गया है,जिससे यह स्पष्ट हो रहा है कि चेहरा और योग्यता के बीच मात्र चेहरे को प्राथमिकता दी गई है।

 

 


CIF के तत्वावधान में कलिंग विश्वविद्यालय ने आणविक तकनीक पर ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया


◆CIF के तत्वावधान में कलिंग विश्वविद्यालय ने आणविक तकनीक पर ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया


कलिंग विश्वविद्यालय, रायपुर एक NAAC B+ मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय है जिसकी NIRF रैंकिंग 151-200 के बैंड में है और यह वास्तव में मध्य भारत में उच्च शिक्षा में उत्कृष्टता के केंद्र के रूप में उभरा है। विश्वविद्यालय के सभी पाठ्यक्रमों को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, बार काउंसिल ऑफ इंडिया, फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद आदि जैसे अनुमोदन अधिकारियों द्वारा मान्यता प्राप्त है। कलिंग विश्वविद्यालय, रायपुर एक प्रसिद्ध शैक्षिक संस्थान जो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और अनुसंधान पर केंद्रित है। अनुसंधान और विकास के प्रयास को आगे बढ़ाने के लिए, कलिंग विश्वविद्यालय ने अच्छी तरह से सुसज्जित सेंट्रल इंस्ट्रुमेंटेशन फैसिलिटीज (सीआईएफ) की स्थापना की। सीआईएफ छात्रों, शिक्षकों, बाहरी शैक्षणिक संस्थानों और अनुसंधान एवं विकास संगठनों को उच्च-स्तरीय शोध उपकरणों तक पहुंच प्रदान करके एक शोध वातावरण बनाने पर जोर देता है।
कलिंग विश्वविद्यालय की केंद्रीय उपकरण सुविधा (सीआईएफ) का उद्देश्य विज्ञान और प्रौद्योगिकी के विभिन्न क्षेत्रों में अत्याधुनिक अनुसंधान के लिए नवीनतम और सबसे उन्नत विश्लेषणात्मक तकनीकों के साथ एक केंद्रीय सुविधा प्रदान करना है। सीआईएफ की सुविधाओं का व्यापक रूप से स्नातक, स्नातकोत्तर, डॉक्टरेट छात्रों और विश्वविद्यालय के संकाय सदस्यों और पूरे भारत के बाहरी संगठनों द्वारा उपयोग किया जाता है। यह सुविधा कम से कम प्रभार्य आधार पर बाहरी संगठनों, मुख्य रूप से देश के शैक्षणिक संस्थानों तक प्रदान की जाती है। कलिंग विश्वविद्यालय का सीआईएफ संकाय / छात्र अनुसंधान और औद्योगिक अनुसंधान एवं विकास का समर्थन करने के लिए परिष्कृत उपकरणों और तकनीकी विशेषज्ञता के पूरक की पेशकश कर रहा है।
स्कैनिंग इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप (एसईएम) और एक्स-रे डिफ्रेक्टोमीटर (एक्सआरडी) पर प्रशिक्षण कार्यक्रम के सफल निष्पादन के बाद, कलिंग विश्वविद्यालय के सीआईएफ ने 28 जनवरी, 2022 को आणविक तकनीकों पर एक दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम एक उद्घाटन समारोह के साथ शुरू हुआ। वर्चुअल प्लेटफॉर्म जिसने कुलपति- डॉ आर श्रीधर, महानिदेशक- डॉ बायजू जॉन, विभिन्न विभागों के डीन और प्रमुखों, संकाय सदस्यों, प्रतिभागियों और विश्वविद्यालय के छात्रों की प्रख्यात उपस्थिति को चिह्नित किया। चूंकि हर शुभ अवसर पर भगवान का आशीर्वाद मांगा जाता है, इसलिए इस आयोजन की शुरुआत भी सरस्वती वंदना द्वारा ज्ञान की देवी के आशीर्वाद से हुई। कुलपति- डॉ. आर. श्रीधर ने अपने संबोधन में कहा कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य अपने उपयोगकर्ताओं को वैश्विक विकास के साथ तालमेल बिठाने और उच्च प्रभाव कारक सहकर्मी की समीक्षा की गई पत्रिकाओं में अपने शोध निष्कर्षों को प्रकाशित करने में सक्षम बनाना है। महानिदेशक और डीन रिसर्च- डॉ. बायजू जॉन ने कहा कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की सामग्री और गुणवत्ता इस तरह से तैयार की गई है कि एक प्रशिक्षु प्रयोगशाला अनुसंधान और औद्योगिक आवश्यकता को आसानी से पूरा कर सके। प्रशिक्षण के बाद, प्रशिक्षु निश्चित रूप से इस मंच के तहत चर्चा की जाने वाली विभिन्न आणविक तकनीकों के निर्माण, कार्य और संचालन को समझेंगे।
प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत डॉ. वी.पी. कोल्ला, डीन- विज्ञान संकाय। प्रथम वैज्ञानिक सत्र में जैव प्रौद्योगिकी विभाग की प्रमुख डॉ सुषमा दुबे द्वारा आणविक तकनीकों का परिचय दिया गया। इस सत्र के बाद डॉ. प्रीति पांडे, सहायक प्रोफेसर, रसायन विज्ञान विभाग, रसायन विज्ञान में आणविक तकनीकों के अनुप्रयोगों पर एक तकनीकी सत्र का आयोजन किया गया। फार्मेसी में आणविक तकनीकों के अनुप्रयोग पर अगला तकनीकी सत्र डॉ संदीप तिवारी, प्राचार्य, द्वारा दिया गया था। फार्मेसी विभाग। प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन सत्र को डॉ. सुषमा दुबे, प्रमुख- जैव प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा दिया गया। ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन एक औपचारिक समापन समारोह द्वारा किया गया, जिसे डॉ प्रीति पांडे, सहायक प्रोफेसर, रसायन विज्ञान विभाग द्वारा अच्छी तरह से सिंक्रनाइज़ किया गया था। समापन समारोह में कुलपति- डॉ. आर. श्रीधर, महानिदेशक- डॉ. बायजू जॉन, विभिन्न विभागों के डीन और प्रमुख, विश्वविद्यालय के संकाय सदस्य, प्रतिभागी और छात्र उपस्थित थे।
यह प्रशिक्षण आणविक तकनीकों की क्षमताओं और सीमाओं का बुनियादी ज्ञान प्रदान करने में सफल रहा जिसमें सैद्धांतिक पहलुओं पर व्याख्यान और उसके बाद प्रदर्शन प्रशिक्षण सत्र शामिल थे। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभागियों को विभिन्न अनुप्रयोगों पर विस्तृत प्रशिक्षण दिया गया। इसने प्रतिभागियों को आणविक जीव विज्ञान और आनुवंशिक अनुसंधान के मूल सिद्धांतों की एक बुनियादी समझ से परिचित कराया और उन्हें आणविक जीव विज्ञान प्रयोगशाला में कुछ बुनियादी उपकरणों का उपयोग करने में सुविधा प्रदान की। आणविक तकनीकों पर प्रशिक्षण कार्यक्रम ने प्रशिक्षुओं को उन्नत आणविक तकनीकों का अध्ययन करने का अवसर दिया, जिसने निश्चित रूप से सूक्ष्म प्रसार विधियों और आनुवंशिक विश्लेषण विधियों पर ज्ञान को व्यापक बनाया है जो प्रतिभागियों के साथ-साथ देश के लिए भी फायदेमंद होगा। कार्यक्रम के प्रारूप और सामग्री को तैयार करने से प्रतिभागियों को सहायक प्रक्रियाओं, नमूना तैयार करने, डेटा संग्रह और मात्रा का ठहराव की चुनौतियों से निपटने में मदद मिलेगी।
कलिंग विश्वविद्यालय के सीआईएफ में कई परिष्कृत विश्लेषणात्मक उपकरण हैं जिनका संचालन और रखरखाव विश्वविद्यालय के डीन, अनुसंधान के सक्षम नेतृत्व में प्रोफेसरों, वैज्ञानिकों और इंजीनियरों के एक समर्पित और योग्य समूह द्वारा किया जाता है। 


प्रदेश में आज 3318 नए कोरोना मरीज मिले,4382 मरीज़ स्वस्थ हुए-देखिए जिलेवार आंकड़े*

रायपुर।प्रदेश में आज 3318 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान हुई, वहीं 4382 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।


*पुलिस अधीक्षक ने लिया यूनिफाइड डिस्ट्रिक ऑपरेशन कमांड की बैठक*

रायपुर/नारायणपुर- यूनिफाईड डिस्ट्रीक्ट ऑपरेशनल कमाण्ड (UDOC) की बैठक पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित की गई। जिले में तैनात अर्द्धसैनिक बलों के साथ बेहतर समन्वय तथा सकारात्मक कार्यो के माध्यम से आमजनता से मधुर संबंध स्थापित करने पर जोर दिया गया। साथ ही नक्सलियों द्वारा वर्तमान में अपनाएं जा रहे रणनीति के खिलाफ पुलिस द्वारा आगामी दिनों में रणनीति तैयार कर नक्सल विरोधी अभियान में गति लाने तथा सड़क व पुल-पुलियों का निर्माण सुरक्षा के साथ तेजी से कराने पर जोर देते हुए, कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान आवश्यक सावधानियां व सुरक्षात्मक पहलुओं पर चर्चा किया गया। बैठक में श्री गिरिजा शंकर जायसवाल, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर, श्री कुलदीप सिंह, कमाण्डेंट 11वी वाहिनी बीएसएफ, श्री पंकज वर्मा, कामण्डेंट 53वी वाहिनी आईटीबीपी, श्री नीरज चन्द्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणपुर, श्री हेमन्त कुमार, डिप्टी कमाण्डेंट 41वी वाहिनी आईटीबीपी सहित डीआरजी, आईबी, एसआईबी के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
 


*प्रभारी डीईओ का कार में विभाग की महिला कर्मी से अय्याशी करते वीडियो वायरल,निलंबित*,

रायपुर। प्रभारी डीईओ को कार में विभाग की महिला कर्मी से अय्याशी करना भारी पड़ गया। शिनाख्ती होने के बाद प्रभारी ड़ीईओ को निलंबित कर दिया गया हैं। मामले में मिली जानकारी के अनुसार कुछ दिनों पहले रायपुर क्षेत्र के आउटर में एक कार में एक महिला व पुरूष का आपतिजनक हालत में वीडियो वायरल हुआ था। सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में दिख रहे कार में छतीसगढ़ शासन लिखा था।वाइरल वीडियो को संज्ञान में ले कर पहचान की गई। जिसमें वाइरल वीडियो में कार के अंदर अश्लील हरकत करने वाले व्यक्ति की पहचान महासमुन्द के प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी परसराम चंद्राकर के रूप में हुई। उनका मूल पद प्राचार्य हैं। वीडियो में जो कार का नम्बर सीजी 04, एम क्यू 0669 दिख रहा था वह भी श्री चन्द्राकर के नाम से ही रजिस्टर्ड हैं। निलंबन आदेश में स्प्ष्ट लिखा गया हैं कि श्री चन्द्राकर एक विभागीय महिला कर्मी के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दिए थे। उनके कृत्य को छतीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम -3 ल विपरीत कदाचार व गम्भीर नैतिक पतन की श्रेणी में मान कर उन्हें निलंबित कर दिया गया हैं। निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय संभागीय सँयुक्त संचालक शिक्षा रायपुर नियत किया गया हैं। 


*राज्यपाल ने छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर(संशोधन)विधेयक पर किए हस्ताक्षर*

रायपुर।राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर अधिनियम 2017 में संशोधन हेतु प्रस्तुत विधेयक पर हस्ताक्षर कर दिए हैं।उल्लेखनीय है कि जीएसटी लागू होने के पश्चात् नई कर प्रणाली में कुछ कठिनाईयां सामने आई हैं। छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर अधिनियम 2017 करदाताओं के लेखा पुस्तकों की संपरीक्षा विशेष वृत्तिक (सी.ए. आदि) से कराने संबंधी उपबंध करता है, परिणाम स्वरूप करदाताओं विशेषकर लघु एवं मध्यम उद्यमों को अतिरिक्त अनुपालन भार का सामना करना पड़ता है। इसके अतिरिक्त अधिनियम के विभिन्न उपबंधों में कतिपय विसंगतियां पाई गई थी। साथ ही आगत कर प्रत्यय (इनपुट टैक्स क्रेडिट) लिये जाने के प्रावधान को अधिक कठोर करने की आवश्यकता है ताकि गलत आगत कर प्रत्यय (इनपुट टैक्स क्रेडिट) की उपलब्धता रोकी जा सके। उपर्युक्तानुसार यथावर्णित अनुपालन भार को कम करने अधिनियम के प्रावधानों में विद्यमान विसंगतियों कोे दूर करने एवं आगत कर प्रत्यय (इनपुट टैक्स क्रेडिट) से संबंधित प्रावधानों को सुदृढ़ करने के लिए छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर अधिनियम 2017 में कतिपय संशोधन का निर्णय लिया गया था। जी.एस.टी. काउंसिल द्वारा लिए गए निर्णय के परिप्रेक्ष्य में केंद्रीय माल आौर सेवा कर (संशोधन) अधिनियम 2021 दिनांक 28 मार्च 2021 से प्रवृत्त है। अतः छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर अधिनियम 2017 में भी तद्नुसार संशोधन किया जाना आवश्यक था। अतः छत्तीसगढ़ माल और सेवा कर अधिनियम (संशोधन) विधेयक को 15 दिसंबर 2021 को पारित किया गया।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*छत्तीसगढ़ में नए रोजगार देने के उद्देश्य से किया जाएगा छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन का गठन*

रायपुर।छत्तीसगढ़ में रोजगार के नए अवसर सृजित करने के उद्देश्य से किया जाएगा छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन का गठन,छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन के जरिए आगामी 5 वर्षों में 12 से 15 लाख रोजगार के नए अवसर सृजित करने का लक्ष्य*मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल होंगे छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन के अध्यक्ष मुख्य सचिव होंगे उपाध्यक्ष, प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला मिशन के मुख्य कार्यपालन अधिकारी होंगे*रोजगार मिशन के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आगामी एक माह में सभी विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन के गठन की कार्ययोजना प्रस्तुत करेंगे*छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक सहित मिशन के अन्य सदस्यों में संचालक उद्योग, संचालक तकनीकी शिक्षा, रोजगार एवं प्रशिक्षण, संचालक मत्स्य पालन, प्रबंध संचालक ग्रामोद्योग हस्तशिल्प विकास बोर्ड, खादी बोर्ड, प्रबंध संचालक राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, मुख्य कार्यपालन अधिकारी गोधन न्याय मिशन शामिल होंगे।

ब्यूरो रिपोर्ट


*कोरोना ब्रेकिंग:प्रदेश में आज 6153 नए कोरोना मरीज मिले,वहीं 4083 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किए गए-देखिए जिलेवार आंकड़े*

6153 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की आज पहचान हुई वहीं 4083 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।


*निलंबित आईपीएस जीपी सिंग की रिमांड 18 जनवरी तक बढ़ाई गई,एसीबी ने कहा जांच में सहयोग नही कर रहे जीपी*

रायपुर।निलंबित डीजी जीपी सिंग को दो दिन की रिमांड पूरी होने के बाद विशेष अदालत में पेश किया गया जहां उन्हें फिर से 4 दिन की रिमांड पर सौंप दिया गया है,आज जानकारी के मुताबिक एसीबी ने पांच दिन की रिमांड मांगी थी लेकिन अदालत ने 4 दिन की ही स्वीकृति की। अब जीपी को 18 जनवरी को दोपहर तक कोर्ट में पेश करना होगा, आज मामले में जानकारी के मुताबिक रिमांड पूरी होने पर जीपी सिंह को स्पेशल जज लीना अग्रवाल की अदालत में पेश किया गया जहां पर 2 दिन की रिमांड में लिए एसीबी ने कहा जीपी जांच सहयोग नहीं करने का आरोप लगाकर एसीबी ने अगले 5 दिन की रिमांड मांगी जिसे अदालत ने 4 दिन की रिमांड मंजूर किया है।

पूर्व सीएम रमन सिंह और उनकी पत्नी को फंसाने डाला जा रहा है दबाव*-

ई ओ डब्ल्यू ने निलंबित आईपीएस जीपी सिंह को कोर्ट में पेश किया,जीपी सिंह को विशेष न्यायाधीश लीना अग्रवाल की कोर्ट में पेश किया गया।कोर्ट में पेश होने से पहले जीपी सिंह ने मीडिया में बयान देते हुए कहा है कि नान घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनकी पत्नी को फसाने के लिए दबाव डाला जा रहा था। वही होस्टाइल नहीं होने वाले गवाहों पर भी कार्रवाई के लिए जबरदस्ती दबाव बनाया जा रहा है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*कोरोना का कहर जारी प्रदेश में आज 6015 नए मरीज राहत की बात 4636 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए -देखिए जिलेवार आंकड़े*

आज 6015 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान हुई वहीं 4636 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।


*कोरोना ब्रेकिंग:प्रदेश में 5476 नए मरीज,1933 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए-देखिए जिलेवार आंकड़े*

5,476 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की आज पहचान हुई वहीं 1,933 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।


*कलिकाल के अंतिम चरण में लंबोदर महाराज पुनः लेंगे अवतार,घर मे रखें केसरिया गणेश जी,पूजन से होगा कल्याण-आचार्य रजनीकांत*

श्रीमद्भागवत  के अनुसार कलियुग के अंत में भगवान श्री हरि का कल्कि अवतार होने वाला है। लेकिन कलयुग में भगवान विष्णु अकेले नहीं आएंगे उनके साथ विघ्नहर्ता गणेश जी का भी अवतार होगा। जिस प्रकार कल्कि भगवान देवदत्त नाम के घोड़े पर सवार होकर पाप का नाश करेंगें।
उसी प्रकार गणेश जी भी नीले रंग के घोड़े पर सवार होकर पापियों का विनाश करेंगे और सतयुग की नई शुरूआत होगी। गणेश पुराण के अनुसार गणेश जी के इस अवतार का विस्तार से वर्णन किया गया है। इस पुराण में भगवान शिव ने पार्वती से कहा है कि कलयुग के अंत में भगवान गणेश चारभुजा से युक्त होकर अवतार लेंगे।
इस अवतार में गणेश जी का नाम  धूम्रवर्ण एवं शूर्पकर्ण होगा। भगवान के हाथों में खड्ग होगा। अपनी इच्छा से गणेश जी सेना और अस्त्र-शस्त्र उत्पन्न करेंगे। पापियों के बढ़ते मनोबल और धर्म की हानि से गणपति के नेत्रों में क्रोध भरा रहेगा। पापियों को नष्ट करने के लिए शूर्पकर्ण आंखों से अग्नि की वर्षा करेंगे।

घर में रखें केसरिया गणेश जी ,पूजन से होगा कल्याण --

केसरिया गणेश जी के पूजन करने से घर में आने वाली समस्त बाधाएं शीघ्र ही दूर हो जाती है , साथ ही इन्हें नित्य दुर्वा भेंट करने से संतति वृद्धि होती है ..…
 

{आचार्य रजनीकांत शर्मा}प्रदेश धर्माचार्यहिंदू शक्ति सेवा संगठन

96858653868,839822777 


मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद राशन कार्ड के लिए पात्र परिवार व आवेदकों को समय सीमा में जारी होंगे नए राशन कार्ड*

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर खाद्य विभाग ने जारी किये निर्देश, राशन कार्ड के लिए पात्र परिवार व आवेदकों को समय सीमा में जारी होंगे नये राशन कार्ड,मुख्यमंत्री के आदेश में कहा गया है कि कार्ड के लंबित आवेदनों की नियमित समीक्षा कलेक्टर करेंगे,आवेदकों के सत्यापन व पात्रता की जांच 15 दिनों के भीतर करना अनिवार्य होगा राशनकार्ड बनवाने की प्रक्रिया में आम जनता को किसी प्रकार की परेशानी न हो इसे ध्यान में रखते हुए विभाग को निर्देशित किया गया है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*कोरोना के बढ़ते आंकड़े आज प्रदेश में चार हजार से ज्यादा मरीज मिले,देखिए जिलेवार रिपोर्ट*

4120 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की आज पहचान हुई वहीं 358 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/रिकवर्ड हुए।