*कोरोना ब्रेकिंग:3 मरीजो को किया गया डिस्चार्ज,रायगढ में मिला 1 पॉजिटिव मरीज,एक्टिव केस 155*

रायपुर-प्रदेश में 3 कोरोना पॉजिटिव स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। वहीं एक और पॉजिटिव मरीज मिला है। स्वास्थ्य विभाग ने ट्वीट कर पुष्टि की है। बिलासपुर कोविड अस्पताल से जांजगीर जिले के 2 और अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज से कोरिया जिले का 1 कोरोना से पीड़ित मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं। वहीं रायगढ़ जिले में 1 पॉजिटिव मरीज की पहचान की गई है। प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 155 हो गई है। 


*बिलासपुर,कोरिया,बेमेतरा,सरगुजा,गरियाबंद,में 1-1 मरीज मिलने की पुष्टि,प्रदेश में मरीजो की संख्या 157 हो गई*

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में 5 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की जानकारी दी  गई है।स्वास्थ्य विभाग ने अपने टि्वटर हैंडल पर यह जानकारी दी है।ताजा मामला बिलासपुर से 1, सरगुजा से बेमेतरा, गरियाबंद, व कोरिया से 1-1मरीज मिलने की पुष्टि हुई है। जिन्हें अभी इलाज के लिए भर्ती कराया जा रहा है। इस प्रकार प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 157 हो गई है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*25 मई को श्रद्धांजलि दिवस मनाने के सरकार द्वारा किए फैसले का कांग्रेस ने किया स्वागत*

रायपुर/23.05.2020। 25 मई को झीरम में शहीद हुए नेताओं को श्रद्धांजलि दिवस हर साल मनाने के छत्तीसगढ़ सरकार के फैसले का स्वागत करते हुये प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिवंगत नेताओं की स्मृति को चिरस्थाई बनाने और इस दिन छत्तीसगढ़ को फिर से शांति का द्वीप बनाने की शपथ लेने का महत्वपूर्ण फैसला लिया है। इस बात को नहीं भुलाया जा सकता है कि कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा के काफिले में शामिल नेताओं की जो शहादत हुई थी उसकी षड्यंत्र की जांच अब तक अधूरी है। मोदी जी ने 2014 में छत्तीसगढ़ में धमतरी में कहा था कि मेरी सरकार बनेगी तो मैं इस कांड की जांच कराऊंगा लेकिन आज भी इस कांड की जांच में केंद्र सरकार की ओर से एनआईए की ओर से भाजपा की ओर से सिर्फ बाधाएं डाली जा रही है । इस दिन हमें शांति का द्वीप बनाने का संकल्प तो लेना ही है इसके साथ-साथ कांग्रेस नेताओं की शहादत के षडयंत्र के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा मिलनी चाहिये।

ब्यूरो रिपोर्ट


*बड़ी खबर:कोरोना ने बरपाया कहर पॉजिटिव मरीजो की संख्या प्रदेश में 150 पहुँची*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में शनिवार को अब तक कुल 42 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान की गई है। इनमें जिला राजनांदगांव से 10, मुंगेली से 9, बिलासपुर से 8, कोरिया व रायगढ़ से 4-4, सरगुजा से 3,गौरेला पेंड्रा मरवाही से 2, बलौदाबाजार व जशपुर से 1-1मरीज मिले हैं। साथ ही बालोद जिले के 2 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। इस तरह से प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 150 हो गई है। इसकी पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने अपने ट्वीटर हैंडल पर की है। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*कांग्रेस का सांसद सोनी पर बड़ा सवाल,क्या सुनील सोनी को लोकसभा के चुनाव में वोट हवाई जहाज में उड़ने वालो ने दिया था*

आपदा काल के नियम भी गरीबों और अमीरों के लिए अलग-अलग क्यों?दुर्घटना, अन्य बीमारी और सर्पदंश जैसे कारणों से होने वाली मौत को कोरोना से जोड़कर डर और भय का वातावरण बनाने में जुटे हैं छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता!रायपुर/23 मई 2020 । विमानों में चलने वालों और रेल यात्रा सड़क यात्रा करने वालों में दोहरे मापदंड अपनाने का आरोप लगाते हुए प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि क्या सुनील सोनी को लोकसभा चुनाव में वोट सिर्फ हवाई जहाज में उड़ने वालों ने दिया था ? भारतीय जनता पार्टी के सांसद सुनील सोनी आपदा काल में भी दोहरे मानदंड अपनाते हुये कोरी बयानबाजी और दिखावे की राजनीति कर रहे हैं। एक तरफ़ तो विदेशों में फंसे छात्रों के लिए केंद्र के बजाय राज्य सरकार को पत्र लिखते हैं, दूसरी ओर देश में सवा लाख कोरोना संक्रमण के आंकड़े पार होने पर घरेलू विमान सेवा शुरू करने एयरपोर्ट का जायजा लेने जाते हैं।प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने पूछा है कि सोनी जी यह बताएं कि व्यावहारिक रूप से क्या इस स्थिति में पहुंच गए हैं की अंतरराज्य परिवहन सेवा चालू किया जाए? क्या इससे सामुदायिक प्रसार बहुत तेजी से नहीं फैलेगा? श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से आने वाले कामगार भाइयों और बहनों के लिए जब 14 दिन क्वारंटाइन सेंटर में रहना अनिवार्य है तो फिर फ्लाईट से आने वालों के लिए क्यों नहीं?

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि देश में जब कोरोना संक्रमण के मामले 519 थे तब घरेलू विमान सेवा और रेलगाड़ियां बंद की गई। और वर्तमान में जब करोना के सामुदायिक प्रसार के मामले तेजी से आने लगे हैं तो अंतर राज्य परिवहन खोला जाना क्या प्रदेश की जनता के स्वास्थ्य और उनके जीवन से खिलवाड़ नहीं है?प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों, यात्री और छात्रों के साथ ही विशेष बसों से आने वाले लोगों के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग का नियम है लेकिन 25 मई से आरंभ हो रही घरेलू विमान सेवा में 1 सीट छोड़ने का नियम भी नहीं रखा गया और ना ही 14 दिन के क्वॉरेंटाइन का पालन करना इन हवाई यात्रियों के लिए अनिवार्य होगा।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि अमीर और गरीबों के बीच इतना भेदभाव क्यों? पूर्व में भी इसी तरह के कारणों से कोरोना का प्रसार हुआ है। यदि विदेशों से आने वाले लोगों को एयरपोर्ट पर ही उचित जांच और कोरनटाइन कर दिया गया होता तो पूरे देश में लॉक डॉउन लागू करके सभी को कैद में रखने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती!प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में अपनी राजनीतिक जमीन खिसकता हुआ देखकर भाजपा नेता गलत बयानी कर रहे हैं। देश में जहां कोरोना संक्रमण से मौत के मामले 3600 से अधिक पर पहुंच गया है, वहीं छत्तीसगढ़ सरकार की दूरदर्शिता, सही समय पर लिए गए सही निर्णय, प्रदेश की जनता के संकल्प और जागरूकता तथा स्वास्थ्य, सफाई और सुरक्षा अमलों के अथक प्रयासों से छत्तीसगढ़ में अब तक एक भी मौत कोरोना संक्रमण के कारण नहीं हुई है। भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को यही तथ्य गले नहीं उतर रही है।प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुरेंद्र वर्मा ने कहा है कि प्रदेश की जनता डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों, शासकीय कर्मचारियों, अधिकारियों और पुलिस के जवानों और पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ छत्तीसगढ़ सरकार के कार्यों की प्रशंसा के बजाय हतोत्साहित करने झूठे और भ्रामक तथ्य गढ़ने में भाजपा नेता लगे हुये हैं। प्रदेश में होने वाले दुर्घटना अन्य कारणों से आत्महत्या के प्रकरण अन्य बीमारी से होने वाली मौत और सर्पदंश जैसे मामलों को कोरोना से जोड़कर डर और भय फैलाने का उचित प्रयास भारतीय जनता पार्टी के नेताओं द्वारा किया जा रहा है!

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा सांसदों के एक वर्ष के कार्यकाल पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया*


कांग्रेस सांसद ज्योत्सना महंत,दीपक बैज से सीख ले भाजपा के सांसद ,देश की सर्वोच्च सदन में रखे निडर होकर छत्तीसगढ़ की हित हक की बात

सांसद सुनील सोनी सहित भाजपा के 9 सांसदों से 1 साल में ही क्षेत्र की जनता का विश्वास टूटा- कांग्रेस


सांसद सुनील सोनी का पहला वर्ष रायपुर संसदीय क्षेत्र की जनता के प्रति उदासीनता और निष्क्रियता से भरा हुआ,

जनता के विश्वास पर खरा नहीं उतर पाए भाजपा के 9 सांसद-कांग्रेस

चुनाव जीतने के बाद हवा हवाई दावा करने वाले भाजपा सांसदों की पोल एक साल में खुली,

रायपुर-रायपुर सांसद सुनील सोनी सहित भाजपा सांसदों के 1 वर्ष के कार्यकाल को कांग्रेस ने जनता के प्रति उदासीनता निष्क्रियता से भरा हुआ करार दिया प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ के नौ भाजपा सांसदो से अगर उनके एक साल के कार्यकाल की उपलब्धि के बारे में पूछा जाए तो सवाल के आगे सिर शर्म से झुक जाते है। उपलब्धि के नाम पर मोदी भक्ति,हवाई यात्रा और सत्तापरिक्रमा के अलावा कुछ भी नहीं है। भाजपा सांसदों को कांग्रेस के सांसद ज्योत्सना महंत दीपक बैज से सीख लेनी चाहिए और देश के सर्वोच्च सदन में छत्तीसगढ़ के हित हक की बात को निडरतापूर्वक रखना चाहिए। चुनाव जीतने के बाद सुनील सोनी ने दावा किया था कि वो घर में बैठने वाले सांसद नहीं बनेंगे हमेशा खेत में या सदन में दिखेंगे।एक साल में सुनील सोनी की दावा की पोल खुल गई कोरोना संकट महामारी काल में सुनील सोनी घर के चौखट से बाहर नहीं निकले।कोरोना महामारी संकटकाल में जनता ने भाजपा के सांसदों से जो अपेक्षाएं थी अपेक्षा को पूरा करने में रेणुका सिंह संतोष पांडे विजय विजय बघेल सहित सभी भाजपा सांसद भी निष्फल रहे हैं।सांसद सुनील सोनी का कार्यकाल उनके महापौर कार्यकाल की तरह ही निष्क्रियताओं और जनता के प्रति गैरजिम्मेदार, कर्तव्यविमुख जनप्रतिनिधि होने का इतिहास लिखने के साथ समाप्त होगा। दुर्भाग्य है रायपुर संसदीय क्षेत्र में आठवीं बार भाजपा के सांसद हैं लेकिन सांसद से जो सहयोग जो उम्मीद रायपुर संसदीय क्षेत्र की जनता ने पाल रखी है वह अब तक पूरा नहीं हुआ है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहां की भाजपा सांसदों ने जीत के बाद बड़े-बड़े दावे किए थे उन दावों की पोल एक साल में ही खुल गई चुनाव जीतने के बाद रेणुका सिंह ने कहा था कि राजा महाराजाओं की हार हुई जनता की जीत हुई है आज कोरोना महामारी काल में केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने जनता से दूरी बनाकर ली और राजा महाराजाओं की ठाठ से कम नही बल्कि चार कदम आगे सत्ता सुख भोग रही है। वही हाल राजनांदगांव के सांसद संतोष पांडे का है काम नहीं काम कराने के तरीके होने चाहिए का दावा करने वाले दावावीर सांसद संतोष पांडेय राजनांदगांव के संसदीय क्षेत्र में 1 इंच भी विकास कार्य नहीं करा पाए है। सांसद विजय बघेल की बात ही निराली है क्षेत्र की जनता उनको ढूंढते रहती है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने छत्तीसगढ़ के 9 भाजपा सांसदों के 1 साल के कार्यकाल की उपलब्धि को लेकर सवाल खड़े किए।भाजपा के सांसदो को क्षेत्र की जनता को बताना चाहिए। सदन में छत्तीसगढ़ के किसान मजदूर महिलाओं की हित अधिकार को लेकर कितने बार सवाल किए हैं? नोटबंदी और जीएसटी के कारण बढ़ती बेरोजगारी खत्म होती नौकरी तबाह होते अर्थव्यवस्था को लेकर क्या सवाल किए हैं ?छत्तीसगढ़ के किसानों के धान खरीदी में केंद्र सरकार द्वारा लगाई गई नियम शर्ते पर क्या सवाल पूछे हैं?किसान सम्मान निधि योजना की राशि छत्तीसगढ़ के सभी किसानों को नहीं मिल रहा है क्या इस विषय पर सवाल पूछे है? भाजपा ने लोकसभा चुनाव में सरकार बनने पर किसानों को उनके उपज का लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का वादा किया था मोदी सरकार से स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश कब लागू करेंगे इस पर सवाल पूछे हैं? पेट्रोल डीजल के महंगे दाम और गैस सब्सिडी की कटौती पर सवाल पूछे हैं? रसायनिक खादों की कीमतों में बढ़ोतरी पर सवाल खड़े किए हैं? भाजपा के 9 सांसद 1 साल में कितने दिन लोकसभा के कार्यवाही में शामिल हुए हैं इसका भी जवाब इनको देना चाहिए

ब्यूरो रिपोर्ट
 


*बड़ी खबर,प्रदेश में कोरोना के 5 मरीज मिलने की पुष्टी हुई है,रायगढ़ और जशपुर जिले से खबर*

रायपुर-प्रदेश में कोरोना के 5 नए मरीज मिले हैं, जानकारी के मुताबिक जिनमें से 4 रायगढ़ जिले के हैं और 1 मरीज जशपुर का है, इन नए संक्रमितों को रायगढ़ के कोविड हॉस्पिटल में भर्ती कराया जा रहा है। इन 5 नए मरीजो साथ ही अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 115 हो गई है। आपको बतादे की कोरोना प्रदेश में अपना पैर बहुत तेजी से पसार चुका है,इस प्रकार लगातार बढ़ोतरी मरीजों की हो रही हु।

ब्यूरो रिपोर्ट


*छत्तीसगढ़,प्रदेश में हर वर्ष 25 मई को मनाया जाएगा झीरम श्रद्धांजलि दिवस,-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में हर वर्ष 25 मई को ’झीरम श्रद्धांजलि दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा है कि 25 मई 2013 को झीरम घाटी में नक्सल हिंसा के शिकार हुए प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं, सुरक्षा बलों के जवानों और विगत वर्षों में नक्सल हिंसा के शिकार हुए सभी लोगों की स्मृति में 25 मई को प्रतिवर्ष ’झीरम श्रद्धांजलि दिवस’ के रूप में मनाया जाए। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश के सभी शासकीय और गैर शासकीय कार्यालयों में 25 मई को शहीदों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी जाएगी। राज्य को पुनः शांति का टापू बनाने के लिए संकल्पित रहने की शपथ ली जाएगी। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*अब तक प्रदेश में कुल कोविड-19 मरीज की संख्या 110 देखिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी अपडेट*

स्वास्थ्य विभाग का ताजा बुलेटिन,ताजा अपडेट,

रायपुर-राज्य में अब एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 110 हो गई है. जिसमें कांकेर 5, बिलासपुर 10, रायगढ़ 5, राजनांदगांव 11, बालोद 18, कोरिया 1, कवर्धा 7, जांजगीर 12, बलौदाबाजार 14, गरियाबंद (राजिम) 4, सरगुजा 3, सूरजपुर 1, कोरबा 13, मुंगेली 3, रायपुर 1, बेमेतरा 1, बलरामपुर 1 मरीज शामिल है।

दुर्ग और दुरुग में हुआ कन्फ्यूजन,

शुक्रवार रात एम्स द्वारा जारी कोरोना संक्रमितों की सूची में कन्फ्यूजन की वजह से दुर्ग में दो कोरोना संक्रमितों के मिलने की पुष्टि की थी, लेकिन दुर्ग में प्रशासन ने स्पष्ट करते हुए कहा, कि दुर्ग में आज की स्थिति में कोरोना पॉजिटिव का कोई भी मामला सामने नहीं आया है, और दुर्ग में जो दो पॉजिटिव की संख्या बताई जा रही है उसकी वास्तविक जानकारी यह है, कि बलौदाबाजार भाठापारा जिले में ” दुरुग” नाम से एक गाँव है, जहां दो पॉजिटिव केस पाये गये हैं, और उन्हें ट्रेस किया जा चुका है।”

ब्यूरो रिपोर्ट

 


*लॉक डाउन क्वारंटाइन उलंघन करनेजानकारी छिपाने मामले में 24 घण्टे में 35अपराध दर्ज*

रायपुर-लॉक डाउन, क्वारंटाइन उल्लंघन करने और जानकारी छिपाने पर पुलिस ने पिछले 24 घंटे में 35 अपराध दर्ज किये हैं। रायपुर में 1, महासमुंद में 2, कबीरधाम में 2, बिलासपुर में 14, मुंगेली में 10, बस्तर में 4 और दंतेवाड़ा में 2 अपराध दर्ज किये गए हैं। पुलिस ने आईपीसी की धारा 188, 269, 270 के तहत अपराध दर्ज किए हैं। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*गरीबों,मजदूरों,किसानों से भाजपा इतनी नफरत क्यों करती है-शैलेष नितिन*

कांग्रेस पार्टी छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा ग्रामीण अस्पतालों के लिए राशि जारी किए जाने का स्वागत करती हैं।

रायपुर- छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा ग्रामीण अस्पतालों के लिए राशि जारी किए जाने का स्वागत करते हुये कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों के अस्पतालों की व्यवस्थाएं और स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाने के लिये छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राशि जारी किए जाने पर भाजपा की आपत्ति समझ से परे है। भाजपा बताये कि वह गांव वालों से, गरीबों से, मजदूरों से, किसानों से इतनी नफरत क्यों करते हैं? यदि छत्तीसगढ़ के सुदूर ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सुविधायें और व्यवस्थाएं बेहतर हो रही है तो इसमें भाजपा को आपत्ति क्यों है? 15 वर्ष तक भाजपा शासन काल में अस्पतालों की जो दुर्दशा थी वो किसी से छिपी नहीं है। भाजपा ने यदि अपने शासनकाल में व्यवस्थाएं ठीक से की होती तो शायद आज करोना काल में यह राशि आज जारी करने की जरूरत ही नहीं पड़ती।भारतीय जनता पार्टी द्वारा यह कहने पर कि कोरोना फैलने पर यह राशि जारी की जा रही है, कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि गांव वालों के हित में कोई भी काम होता है तो भाजपा इतनी आपत्ति क्यों करती है ? कांग्रेस सरकार ने गांव के अस्पतालों के लिए 1500 करोड़ की राशि जारी की है। इस राशि से अस्पतालों की व्यवस्थाएं और स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाया जाएगा। पहले भी अस्पतालों को बेहतर बनाने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने बेहतर काम किया है। गांव वालों के हित में ये बहुत बड़ी पहल है। भूपेश बघेल जी की सरकार, टी.एस. सिंहदेव जी की सरकार गांव वालों की हित की चिंता करती है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*नवगठित ग्रामपंचायतों के निर्माण कार्य शिघ्र प्रारंभ कराने,पंचायत मंत्री टी.एस.सिंहदेव ने सभी जिलापंचायत अध्यक्ष को लिखा पत्र*

रायपुर-पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने प्रदेश में गठित सभी नए ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन निर्माण का काम 2 अक्टूबर से पहले पूर्ण कराने जिला पंचायत अध्यक्षों को पत्र लिखा है। उन्होंने सभी जिला पंचायत अध्यक्षों को इस काम में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का आग्रह करते हुए लिखा है कि 2 अक्टूबर 2020 तक नए पंचायत भवन तैयार हो जाने पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती कार्यक्रमों के समापन के मौके पर इनका लोकार्पण किया जा सकेगा। सिंहदेव ने जिला पंचायत अध्यक्षों को लिखे पत्र में जानकारी दी है कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा मनरेगा और राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत प्रदेश में नवगठित सभी 704 ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन के निर्माण के लिए कुल 101 करोड़ 51 लाख 68 हजार रूपए स्वीकृत किए गए हैं। प्रत्येक भवन की लागत 14 लाख 42 हजार रूपए है। विभाग ने नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के सुझावों एवं उनकी मांगों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए इतनी बड़ी राशि मंजूर की है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने पत्र में पंचायतीराज व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण और उन्हें अधिकार संपन्न बनाने में देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की भूमिका को भी रेखांकित किया है। सिंहदेव ने 21 मई को पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए कहा है कि स्व.राजीव गांधी की दूरदर्शिता के कारण ही आज पंचायतीराज संस्थाएं इतनी सशक्त भूमिका में हैं। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*Big Breaking:20 नए पॉजिटिव मरीज मिलने की पुष्टि,ये मरीज बालोद,कवर्धा,गरियाबंद,दुर्ग,राजनांदगांव,से है*

रायपुर-कोरोना छत्तीसगढ़ में अब तक की सबसे बड़ी खबर आ रही है। एक ही दिन में प्रदेश में 20 नये मरीज मिले हैं। सुबह और दोपहर तक कोरोना के 19 मरीज मिले थे, देर शाम उसमें 20 और नये मरीज जुड़ गये। प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 109 हो गयी है। देर शाम जो 20 नये मरीज मिले हैं, उनमें कवर्धा में 5, बलौदाबाजार में 4, बालोद में 4, गरियाबंद में 3, राजनांदगांव में 2 और दुर्ग में 2 नये मरीज शामिल हैं। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*पहले मजदूरों को मजबूर किया अब उनका अपमान कर रही भाजपा-शैलेष नितिन*

रायपुर- खाने कमाने बाहर गये छत्तीसगढ़ के मजदूर भाइयों के लौटने पर कुछ के कोरोना संक्रमण का शिकार पाये जाने पर भाजपा की प्रतिक्रिया पर गहरा दुख व्यक्त करते हुये छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि पहले मजदूरों को मजबूर किया अब भाजपा उनका अपमान कर रही है। भाजपा नेताओं की यह टिप्पणियां भाजपा के गरीब विरोधी मजदूर विरोधी छत्तीसगढ़ विरोधी रवैयें का जीता जागता सबूत है। अगर बाहर कमाने खाने गये हुये हमारे छत्तीसगढ़ के मजदूर कोरोना संक्रमण के कारण वापस आ रहे है और उनमें से कुछ लोग संक्रमित है तो इस अव्यवस्था कहकर भाजपा नेताओं ने सारी मानवीय संवेदनायें ताक पर रख दी है।  ये मजदूर छत्तीसगढ़ महतारी के बेटे है।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने तो ऐसी बातें करके मजदूरो का अपमान करने की कोशिश न करें। कोरोना संक्रमण की परिस्थितियां के लिये भाजपा की केन्द्र सरकार जिम्मेदार है। केक्न्द्र सरकार के प्रबंधन ने ही आज की परिस्थिति को पैदा किया है। भाजपा की केन्द्र सरकार ने अंर्तराष्ट्रीय हवाई अड्डो में आने वालो की जांच नहीं करवायी संदिग्धों को क्वारेंटाईन नहीं किया।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि अब मजदूरो के घर गांव छत्तीसगढ़ वापस आने पर कोरोना के कुछ मामले सामने आ रहे है तो भाजपा नेता गरीब विरोधी, मजदूर विरोधी बयान देकर स्तरहीन राजनीति कर रहे है। इस गरीब विरोधी, मजदूर विरोधी राजनीति को छत्तीसगढ़ के लोग सहन नहीं करेंगे।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कोरोना एक संक्रामक बीमारी है और इस संक्रामक बीमारी के फैलाव को सबसे पहले रोका जाना था अंर्तराष्ट्रीय हवाई अड्डो में। जब विदेशो से लोग आ रहे थे, जब 30 जनवरी को कोरोना का पहला मामला सामने आया, फिर 24 फरवरी को गुजरात को लाखो लोगो को इकट्ठा कर के नमस्ते ट्रम्प कार्यक्रम कराया गया। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के निर्वाचित सरकार को गिराते तक लाकडाउन को रोका गया। भाजपा की केन्द्र सरकार ही कोरोना संक्रमण की हालत बिगड़ने के लिये जिम्मेदार है।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कोरोना का जो आपदा है वो किसी दल विशेष की, किसी सरकार विशेष की नहीं पूरे देश की समस्या है। इसमें केन्द्र सरकार को, राज्य सरकार को सत्ताधारी दल को विपक्षी दल को सामाजिक संगठनों को सबको भूमिका निभाने थी। छत्तीसगढ़ सरकार ने बहुत अच्छा काम किया है। छत्तीसगढ़ में हमने देश में सबसे पहले स्कूलो को बंद कर दिये है। हमने देश में सबसे पहले 144 लागू की और इसी कारण छत्तीसगढ़ में स्थिति नियंत्रित है। कुछ मरीजो की संख्या बाहर से प्रवासी मजदूर वापस आ रहे तो बढ़ रही है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी इस पूरे परिदृश्य से नदारद है। विपदा में मद्द करने के बजाय भाजपा केवल राजनीति कर रही है, गलतियां निकालने वाले बयान दे रही है लेकिन इससे समस्या के हल तो में नहीं होगा। भाजपा के सांसदो ने छत्तीसगढ़ सरकार को सीएम रिलीफ फंड में एक पैसा तक नहीं दिया जबकि छत्तीसगढ़ के मजदूरों को सीएम रिलीफ फंड से ही मद्द दी जा रही है।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के मजदूर बड़ी संख्या में कमाने खाने बाहर के प्रदेशो में जाते है। बहुत बड़ी संख्या है और कोरोना के बाद जिस तरीके से ट्रेन बंद की गयी भाजपा की केन्द्र सरकार द्वारा सारे मजदूर वहां फस के रह गये और जहां वे फंसे थे उनके पास न रोजी रोटी थी, न खाने को था। अब वे मजदूर लौट के आ रहे है, पैदल आ रहे है, भूखे प्यासे आ रहे है, अब इन मजदूरों को छत्तीसगढ़ की सरकार द्वारा बसे लगाकर घर, गांव पहुंचाया जा रहा है। जिन मजदूरो को क्वारेंटाईन करने की आवश्यकता है उनको क्वारेंटाईन भी किया जा रहा है। भाजपा द्वारा क्वारेंटाईन सेंटरों में गलतियां निकालने पर प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि भाजपा बताये भाजपा शासित राज्यों में क्वारेंटाईन सेंटर की क्या स्थिति है, क्या हालात है? पूरे देश की रिपोर्ट की सूचनायें बायोलाॅजी के इस युग में मिलती है। भाजपा शासित राज्यों में मजदूरों की हालात बहुत खराब है। भाजपा शासित राज्यों में क्वारेंटाईन सेंटरों की हालत बहुत खराब है।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मजदूरो की सारी चिंता का काम कांग्रेस की सरकार ने भूपेश बघेल की सरकार ने किया है। छत्तीसगढ़ में पूरे संवेदना साथ कांग्रेस सरकार उनका ध्यान रखने का काम कर रही है। भाजपा इसमें गलती निकाले तो उसे याद रखना चाहिए कि जब एक उंगली किसी की तरफ उठाते है तो चार उंगली आप की ओर तो उठती ही है। 

ब्यूरो रिपोर्ट  


*राज्य सरकार ने कल पूरे प्रदेश में अवकाश की घोषणा की,सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया आदेश*

रायपुर- कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर छत्तीसगढ़ सरकार ने शनिवार 23 मई को पूरे प्रदेश में अवकाश की घोषणा की है। सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी किया है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर प्रदेश में हर शनिवार और रविवार को पूर्ण लॉक डाउन रखने का निर्णय पहले ही लिया जा चुका है। इसे ध्यान में रखते हुए 23 मई शनिवार के लिए सामान्य अवकाश की घोषणा की गई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*किसानों के आत्म सम्मान को लहूलुहान करने वाली सरकार अंतर राशि देकर कोई एहसान नही कर रही है-भाजपा*

किसानों के आत्म-सम्मान को लहूलुहान करने वाली सरकार अंतर राशि देकर कोई अहसान नहीं कर रही : साहू*

रायपुर-भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार सत्ता में आते ही किसानों के विश्वास और आत्म-सम्मान से खिलवाड़ करने पर आमादा रही है। भाजपा ने कहा कि किसानों के धान मूल्य की अंतर राशि का चार किश्तों में भुगतान करने वाली सरकार न्याय योजना के नाम पर इस कोरोना-काल में किसानों के साथ जो भद्दा मजाक कर रही है, अन्नदाता किसान उसे पूरी गंभीरता से ले रहा है और समय आने पर वह इस मजाक का सूद सहित करारा जवाब भी देगा।
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष व संसद सदस्य सुनील सोनी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों के साथ वादाखिलाफी कर अपने नाकारेपन का ही परिचय दिया है। प्रदेश सरकार बताए कि जब कोरोना संकट से पहले ही प्रदेश सरकार ने अपने बजट में धान मूल्य की राशि के लिए प्रावधान कर दिया था तो फिर ऐसी कौन-सी विपरीत परिस्थिति आ गई कि सरकार धान मूल्य की अंतर राशि का किश्तों में भुगतान कर रही है? जबकि प्रदेश सरकार ने कोरोना काल में भी किसानों को एक पैसे की भी कोई मदद अपनी ओर से मुहैया नहीं कराई। श्री सोनी ने कहा कि एक तरफ कोरोना संकट के चलते हर वर्ग के लोग आर्थिक दिक्कतों से दो-चार हो रहे हैं, तब प्रदेश सरकार का अंतर राशि के किश्तों में भुगतान को लेकर लिया गया फैसला किसानों के साथ आपराधिक अन्याय है।
भाजपा संसद सदस्य चुन्नीलाल साहू ने कहा कि प्रदेश सरकार ने शुरू से ही अपने किसान विरोधी चरित्र का प्रमाण दिया है। धान खरीदी की शुरुआत से ही प्रदेश सरकार किसानों से एक तरह की दुश्मनी भंजाती नजर आई है। पहले खरीदी को एक माह टाल दिया, फिर धान का रकबा घटा दिया, टोकन देने के लिए नित-नए तुगलकी फरमान जारी कर किसानों को परेशान किया, बारदाना तक देने में आनाकानी की। फिर धान भंडारण को लेकर किसानों पर छापेमारी कर किसानों को अपराधी साबित करने का शर्मनाक कृत्य किया। कुल मिलाकर, सरकार ने किसानों के आत्म-सम्मान को लहूलुहान करने का काम किया। श्री साहू ने कहा कि आज भी किसान अपना धान बेचने के लिए परेशान हो रहा है और सरकार उसके हक के पैसे देने में जी चुरा रही है। धान मूल्य की अंतर राशि किसानों के गाढ़े पसीने और जायज हक की कमाई है जिसे देकर हुए प्रदेश सरकार किसानों पर कोई अहसान नहीं कर रही है।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा का राज्य सरकार पर गंभीर आरोप,सरकार कोरोना से जुड़ी अहम तथ्यात्मक जानकारियां छिपा रही है-विक्रम उसेंडी*

 उसेंडी ने सवाल दागा : कोरोना संक्रमण का सच छिपाकर प्रदेश सरकार क्या प. बंगाल सरकार के नक्श-ए-कदम पर चल रही ?

रायपुर- भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने प्रदेश सरकार पर कोरोना संक्रमण से जुड़ीं अहम तथ्यात्मक जानकारियाँ छिपाने का गंभीर आरोप लगाया है। श्री उसेंडी ने सवाल दागा कि कोरोना संक्रमण के मरीजों का आँकड़ा और उससे हुई मौतों का सच छिपाकर प्रदेश सरकार क्या प. बंगाल की राज्य सरकार के नक्श-ए-कदम पर चल रही है?
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेंडी ने कहा कि संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौतों को लेकर सरकार की पारदर्शिता और ईमानदारी सवालों के दायरे में आ गई है। अभी हाल ही बेमेतरा में एक युवक की मृत्यु होने के तीन घंटे के बाद उसकी सैम्पलिंग की गई जबकि अब तक उसकी मौत के कारणों को स्पष्ट नहीं किया गया है। एक अन्य व्यक्ति का कोरोना संदिग्ध बता उपचार किया जा रहा था और बाद में उसे कोरोना निगेटिव बता दिया गया जबकि उसका इलाज कर रहे डॉक्टर को क्वारेंटाइन कर रखा गया है। श्री उसेंडी ने कहा कि सूरजपुर में दो लोगों की मौत को लेकर भी प्रदेश सरकार की विश्वसनीयता दाँव पर है। इन मौतों को संदिग्ध माना जा रहा है क्योंकि सूरजपुर के इन मृतकों को कोरोना निगेटिव बताने पर सरकार आमादा नजर आ रही है। इन मृतकों का पोस्टमार्टम क्यो नहीं कराया गया ?
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेंडी ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर्स में में लगातार मौतों का सिलसिला जारी है और प्रदेश सरकार और उसकी प्रशासनिक मशीनरी इन मौतों को छिपाकर प्रदेश को अंधेरे में रख रही है। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार प. बंगाल की राज्य सरकार की तरह ही तथ्य और सत्य को छिपाकर कोरोना नियंत्रण के झूठे दावे कर रही है। श्री उसेंडी ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के कोरोना को लेकर परस्पर विरोधाभासी बयानों पर हैरत जताई कि एक तरफ मुख्यमंत्री कोरोना पर नीयंत्रण का दावा करते फिर रहे हैं वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्री कोरोना संकट के और गहराने की आशंका जता रहे हैं। इन परस्पर विरोधाभासी बयानों से प्रदेश में दुविधा की स्थिति बन रही है।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा के किसान विरोधी चरित्र की उपज राजीव गांधी किसान न्याय योजना-कांग्रेस*

रायपुर/21 मई 2020। भाजपा अध्यक्ष विक्रम उंसेण्डी द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के सम्बंध में की गयी बयान बाजी और अंतर राशि एक मुश्त भुगतान की मांग का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है । प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के सदस्य सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि प्रदेश की जनता और किसान भली भांति जानते है मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को यह योजना क्यो लागू करनी पड़ी । राजीव गांधी किसान न्याय योजना भाजपा के किसान विरोधी चरित्र की उपज है ।भाजपा और उसकी केंद्र सरकार अपने छुद्र राजनैतिक स्वार्थ के कारण राज्य के किसानों का धान 2500 में नही खरीदने देना चाहती थी ।कांग्रेस से अपनी राजनैतिक प्रतिद्वंदिता को भुनाने धान खरीदी में अनेको धमकियां दी गयी ।छत्तीसगढ़ से लिये जाने वाले सेन्ट्रल पुल के कोटे के चावल को नही लेने तक कि चेतावनी दी गई उसी धान की कीमत पर भाजपाध्यक्ष किस नैतिकता से बयान दे रहे ? किसानों को जो धान की जो राशि न मिले जिसके लिए रायपुर से दिल्ली तक षड्यंत्र रचे गए धमकियां दी गयी उस राशि के बारे में बोलने का भाजपा को कोई नैतिक अधिकार नही ।प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला के कहा किसानों के हितैषी होने का स्वांग रचने वाले छत्तीसगढ़ भाजपा के नेता और सांसद धान खरीदी के समय राज्य के किसानों के हित में राज्य सरकार के साथ आवाज उठाए होते तो राज्य के किसानों को धान की कीमत 2500रु का एक मुश्त भुगतान खरीदी के साथ ही हो गया होता ।संघीय ढांचे में केंद्र सरकार के दबाव की विवशता के कारण उस समय किसानों को घोषित समर्थन मूल्य का ही भुगतान किया जा सका था।कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने किसानों से किये अपने वायदे को पूरा करने के लिए न्याय योजना को लागू किया ।कांग्रेस द्वारा लागू की गई राजीव गांधी किसान न्याय योजना ईस बात का प्रमाण है कि कांग्रेस जो कहती है वो करती है।

ब्यूरो रिपोर्ट