*धान खरीदी की तारीख 15 मार्च तक बढ़ाए सरकार,किसानों को हो रही है समस्या-पूनम चंद्राकर*

रायपुर:-भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष पूनम चन्द्राकर ने धान खरीदी को लेकर प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर एक बार फिर निशाना साधा है। चन्द्राकर ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरा धान खरीदी का एलान करके धान खरीदी से बचने के तमाम छल-प्रपंचों का जाल भी बुन रही है। चन्द्राकर ने कहा कि टोकन देने के सरकारी भरोसे के बावजूद प्रदेश भर के कई जिलों में किसानों को टोकन जारी नहीं किए जाने की शिकायतें मिल रही है। कवर्धा, महासमुंद,धमतरी आदि जिलों में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में किसानों की दिक्कतें अभी भी खत्म नहीं हो रही हैं। 20 फरवरी धान खरीदी की आखिरी तारीख है, और किसानों को टोकन नहीं दिए जाने से किसानों में काफी आक्रोश है। धान खरीदी की प्रक्रिया को जटिल करके सरकार किसानों को परेशान कर रही है। चन्द्राकर ने किसानों के साथ छल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ अधिकारी किसानों को भ्रमित कर रहे है और दूसरी तरफ व्यापारियों को धान बेचने पर पुलिस किसानों पर कार्रवाई कर रही है। ऐसे में किसानों की परेशानी बढ़ गई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*रायपुर जिला पंचायत अध्य्क्ष के पद पर कांग्रेस की डोमेश्वरी वर्मा की जीत*

रायपुर:-जिला पंचायत रायपुर में कांग्रेस की डोमेश्वरी वर्मा ने भाजपा की ललिता वर्मा को हराकर अध्यक्ष पद पर कब्जा जमाया है। डोमेश्वरी वर्मा को 12 वोट तो भाजपा की ललिता वर्मा को केवल 4 वोट मिले। राजधानी के 16 जिला पंचायत क्षेत्रों में 12 कांग्रेस के नाम और 4 भाजपा के नाम रहा। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*निजी स्कूल-सरकारी स्कूल शिक्षा का स्तर और सरकारी स्कूल के उपेक्षित बच्चे:-हुलेश्वर जोशी*

सरकारी स्कूल के शिक्षक अधिकांश निजी स्कूलों के शिक्षक से अधिक योग्य हैं, फिर भी हमारे बच्चे निजी स्कूल में पढ़ने को मजबूर हैं, ऐसा क्यो? एक बार जरूर सोचिए! जबकि छत्तीसगढ़ राज्य के संदर्भ में शैक्षणिक व्यवस्था का अवलोकन करेंगे तो पाएंगे कि राज्य के अधिकांश भाग में पर्याप्त सरकारी स्कूल और पर्याप्त शिक्षक हैं। सिर्फ इतना ही नही यहां पढ़ाई भी निःशूल्क होती है, छत्तीसगढ़ सरकार हमारे बच्चों को निःशूल्क शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए करोडों रूपये सालाना खर्च करती है फिर भी हम अपने बच्चों को निजी स्कूल में प्रवेश दिलाकर कम-से-कम 10 हजार से 30 हजार रूपये सालाना क्यों बर्बाद कर रहे हैं? प्रायः देखा गया है कि पालक सरकारी स्कूल के शिक्षकों के उपर व्यर्थ दोषारोपण करते हैं जो कि अनुचित है, चाहे निजी स्कूल हो या सरकारी स्कूल हो पढ़ाई सभी स्कूल में लगभग बराबर होता है। जरूरत है तो सिर्फ पालकों के जागरूक और सक्रिय होने की। आपसे निवेदन है अपने बच्चे के भविष्य को सवांरने में अपना भी योगदान दें, यदि किसी कारण से आपके बच्चे के स्कूल में पढ़ाई नही हो रही है तो पालकों को संगठित होकर, उचित शिक्षा के लिए प्रयास करना चाहिए।

ऐसा भी नही है कि आपका बच्चा यदि निजी स्कूल में पढ़ता है तो आप अलग से कोचिंग नही भेजते या आपको घर में गृहकार्य इत्यादि के लिए अपने बच्चे को समय देना ही नही पडता। मगर ऐसा अधिकांशतः देखा गया है कि यदि आपका बच्चा सरकारी स्कूल में पढ़ने जाता है तो आप उन्हें न तो कोचिंग कराते हैं और न तो बच्चे के गृहकार्य में सहयोग करते हैं।

कुछ प्रकरण ऐसा भी मिला है कि यदि किसी पालक के दो बच्चे हैं जिसमें एक बच्चा निजी स्कूल और दूसरा बच्चा सरकारी स्कूल में पढ़ने जाता हैं तो पालक स्वयं ही सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले अपने बच्चे के साथ अन्याय करता है। वह कैसे यह जानने के लिए निरंतर आगे पढ़िए- निजी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे को कोचिंग भेजते हैं, होमवर्क करने में सहयोग करते हैं, उनका टिफिन पैक करते हैं, ड्रेस जूते इत्यादि पहनने में सहयोग करते हैं, स्कूल/स्कूल बस अथवा आटो तक छोडने जाते हैं वापस घर लाते हैं इतना ही नहीं हर महिने उसके स्कूल में जाकर पालक मिटिंग में शामिल होते हैं और शिक्षक से मिलकर उनके सारे कमियों को दूर करने का प्रयास करते हैं। जबकि दूसरी ओर जो बच्चा सरकारी स्कूल में पढ़ने जाता है उसके लिए न तो कोचिंग, न होमवर्क में सहयोग, न पालक मिटिंग और न ही स्कूल जान/आनेे के लिए बस/आटो या अन्य सहयोग। कई प्रकरण में ऐसा भी मिलता है कि पालक सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले अपने ही बच्चे को सही समय में उचित शैक्षणिक सामग्री भी उपलब्ध नही कराते हैं। अंत में जब मार्च-अप्रेल में दोनों बच्चे का रिजल्ट आता है तो निजी स्कूल में पढने वाले बच्चे के नाम पर केक काटते हैं और पिकनिक जाते हैं जबकि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे के हिस्से उपेक्षा और अपमान से कम कुछ नही मिलता है।

अतः पालकों से अनुरोध है अपने बच्चे को अच्छी शिक्षा देने के अपने जिम्मेदारी से बचने का प्रयास न करें। माता श्यामा देवी ने कहा है ‘‘शिक्षा ग्रहण पहले भोजन ग्रहण नहले’’ इसलिए सभी काम छोडकर अपने बच्चे को उचित शिक्षा देने का प्रयास करें। पालकों, जनप्रतिनिधियों और सरकारी अधिकारी/कर्मचारियों से यह भी अपील है कि वे अपने बच्चों को यथा संभव सरकारी स्कूल में ही पढ़ायें और अपने बच्चे को उचित सहयोग प्रदान करें। 


*सुप्रीम कोर्ट ने राजनैतिक पार्टियों से आपराधिक रिकार्ड वालो को टिकट देने का कारण पूछा*

रायपुर:-सुप्रीम कोर्ट ने सभी राजनैतिक पार्टियों से आपराधिक रिकार्ड वालों को टिकट देने का कारण पूछा है और सभी ऐसे प्रत्याशियों का क्रिमिनल रिकार्ड भी मांग है और उसे सर्वजनिक करने के भी लिया कहा है। हालांकि सारे चुनाव लगभग निपट चुके है फिर भी बिहार और बंगाल राज्य में विधानसभा चुनाव होने वाले है। अगर राजनैतिक पार्टिया ईमानदारी से सुप्रीम कोर्ट के राजनीति से गंदगी साफ करने वाले कदम का समर्थन करती है तो हो सकता है राजनीति के शुद्धिकरण का श्रीगणेश हो जाये। ये शायद इस लोकतंत्र की जड़ो में लग रहे दीमक की रोकथाम करने का सबसे कारगर उपाय साबित होगा। बहरहाल सुप्रीम कोर्ट ने हंटर तो चला दिया है पर बेशर्मी में गेंडे को मात देने वाले नेताओं की मोटी चमड़ी पर कितना असर करेगी ये तो वक़्त ही बताएगा। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*पूरे प्रदेश में प्रशासनिक दबाव के बीच जबरन किसानो से शपथ पत्र भरवाकर रकबा घटाया जा रहा है:धरमलाल कौशिक*

रायपुर:- प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में प्रशासनिक दबाव के बीच किसानों को मजबूरन शपथ पत्र भरवा कर उनके धान के रकबा को घटाया जा रहा है। इससे पूरे प्रदेश में दो लाख एकड़ धान की खरीदी नहीं हो पाई है और बड़ी संख्या में किसान धान बेचने से वंचित हैं। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि धान खरीदी को लेकर प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नीति स्पष्ट नहीं है, जिसकी वजह से प्रदेश के किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। दो लाख एकड़ में करीब 30 लाख क्विंटल धान की खरीदी नहीं हो पायी है। कौशिक ने कहा कि इस पूरे मसले पर सरकार को स्पष्ट तौर पर जवाब देते हुए किसानों के हित में ठोस कदम उठाने चाहिए। कांग्रेस की सरकार के इस नीति से किसान पिस रहे है। इससे पूर्व हमारी सरकार में किसान अंतिम दिनों तक धान बेच सकता था लेकिन जिस तरह की उलझनें कांग्रेस की सरकार के समय में हैं इससे किसान आक्रोशित हैं। 
नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में किसान आंदोलनरत हैं। उनके आंदोलनों को सरकार दबाने में जुटी हुई है। जिस तरह से पूरे प्रदेश में किसानों के प्रति प्रदेश सरकार भय का वातावरण बना रही है, इससे स्पष्ट है कि धान खरीदी को लेकर कांग्रेस सरकार पर्दा डाल कर केवल बचने की कोशिश कर रही है। अपने साथ हो रहे इस छलावे का माक़ूल जवाब किसान एकजुट होकर जरूर देंगे। जिन वादों के साथ प्रदेश की कांग्रेस सरकार धान खरीदी को लेकर सत्ता में आई थी अब सत्ता में आते ही किसान विरोधी नीति अपना रही है। कौशिक ने कहा कि किसानों का धान पूरा खरीदने के बजाय अब शपथ पत्र लेकर रकबा सरेंडर करवा रही है। किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की कांग्रेस सरकार को प्रदेश के सभी किसानों का पूरा धान खरीदना चाहिए। 

ब्यूरो रिपोर्ट 


*प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी योजना की विस्तृत जानकारी के लिए काल सेंटर शुरू*

रायपुर:- प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को उनके आवेदन के पंजीयन और प्राप्त होने वाली राशि के संबंध में जानकारी देने के लिए कॉल सेन्टर शुरू किया गया है। लाभार्थी किसान अपने पंजीकृत 10 अंकों के मोबाइल नंबर या 12 अंकों के आधार नंबर से टोल फ्री नंबर 1800-11-5526 और 155261 पर फोन कर यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। भारत सरकार की ओर से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत (आईवीआरएस) सूचना के आदान-प्रदान के लिए स्वचालित टेलीफोन के आधार पर कॉल सेन्टर की सुविधा शुरू की गई है। कॉल सेन्टर शुरू होने के संबंध में किसानों को जानकारी उपलब्ध कराने के संबंध में संचालक भू-अभिलेख छत्तीसगढ़ नवा रायपुर की ओर से प्रदेश के सभी कलेक्टरों को पत्र भेजा गया है।  

ब्यूरो रिपोर्ट


*रायपुर,राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग 13 फरवरी को करेगा शिकायतो का निराकरण*

रायपुर:- राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग, नई दिल्ली की ओर से अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग की शिकायतों के निराकरण के संबंध में 13 फरवरी गुरुवार को रायपुर के सिविल लाइन स्थित न्यू सर्किट हाउस में कैम्प सीटिंग व जन सुनवाई का आयोजन किया जाएगा। इसमें राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति एचएल दत्तू, सदस्य ज्योतिका कालरा, सदस्य डॉ. डीएम मूले, सेक्रेटरी जनरल जयदीप गोविन्द सहित अन्य पदाधिकारी शामिल होगें। कार्यक्रम का शुभारंभ सुबह 10 बजे से होगा। इस अवसर पर दोपहर 3:15 से 3:45 तक स्वयंसेवी संगठनों, सिविल सोसायटी और मानवाधिकार के क्षेत्र में कार्य करने वाले नागरिकों से बैठक कर मुलाकात भी करेंगें। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*विधायक और एसएसपी आमने सामने विधायक ने किया चालानी कार्यवाही का विरोध*

रायपुर:- राजधानी रायपुर में पिछले दो दिनों से चल रही चालानी कार्रवाई का विरोध शुरू हो गया। रायपुर विधायक विकास उपाध्याय इसके विरोध में सामने आ गए हैं। मामले को लेकर विधायक विकास उपाध्याय और एसएसपी आरिफ शेख आमने सामने हो गए थे। विधायक ने चालानी कार्रवाई बंद करने की चेतावनी दी है।
विधयक ने कहा कि चालानी कार्रवाई से जनता परेशान हो रही है। इसे बंद नहीं किया गया वे तो खुद सड़क पर उतर कर बंद करवाएंगे। जबाव में एसएसपी ने कहा कि कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी, जनता सहयोग कर रही है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*13 फरवरी को होगा जनपदअध्यक्ष उपाध्यक्ष का चुनाव*

रायपुर;- प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के बाद 13 फरवरी को सभी जिलों में जनपद पंचायतों के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का निर्वाचन होगा। इस दिन सभी जनपद पंचायतों में अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए जनपद पंचायत सदस्यों का सम्मिलन आयोजित किया जाएगा। इसी दिन उनके निर्वाचन के प्रकाशन की अधिसूचना जारी की जाएगी। नवनिर्वाचित अध्यक्षों, उपाध्यक्षों और सदस्यों को 13 फरवरी को ही जनपद पंचायत के प्रथम सम्मिलन की सूचना जारी की जाएगी। जनपद पंचायतों का प्रथम सम्मिलन (विशेष) 18 फरवरी को होगा। 

 


*भाजपा ने जारी की पर्यवेक्षको की सूची पूर्व मंत्री विधायक किए गए नियुक्त*

रायपुर:- भारतीय जनता पार्टी प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की दृष्टि से जिला के पर्यवेक्षक की नियुक्ति की है। इसमें रायपुर ग्रामीण-बृजमोहन अग्रवाल,बलौदाबाजार- राजीव अग्रवाल,गरियाबंद-नीलू शर्मा,महासमुंद-श्रीचंद सुंदरानी, धमतरी-भरत वर्मा, दुर्ग-अशोक बजाज, बेमेतरा-संदीप शर्मा,बालोद-शंकर अग्रवाल, राजनांदगांव-केदार गुप्ता, कवर्धा-संजय श्रीवास्तव, कांकेर-सच्चिदानंद उपासने, कोण्डागांव-श्रीनिवास राव मद्दी, नारायणपुर-सतीश लाटिया, बस्तर-किरण देव, दंतेवाड़ा-संजय पाण्डेय, गौतम गोल्छा, सुकमा-मनोज देव, बीजापुर-महेश गागड़ा, बिलासपुर-गौरीशंकर अग्रवाल,मुंगेली-दीपक पटेल, जांजगीर चांपा-गिरधर गुप्ता, कोरबा -श्यामबिहारी जायसवाल, रायगढ़-डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, जशपुर-अनुराग सिंहदेव, सरगुजा-अमर अग्रवाल,सूरजपुर-लखनलाल साहू, बलरामपुर-रजनीश सिंह, कोरिया-भूपेन्द्र सवन्नी को पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*पुलिस विभाग में फेरबदल एसएसपी सीएसपी अधिकारियों के तबादले*

रायपुर:- पुलिस विभाग में गुरुवार को एएसपी, डीएसपी और सीएसपी स्तर के अधिकारियों के तबादले किए हैं। इस संबंध में डीपी कौशल अवर सचिव छत्तीसगढ़ शासन गृह पुलिस विभाग के हस्ताक्षर से आदेश जारी किया गया है। जारी आदेश के अनुसार सीएसपी कृष्ण कुमार पटेल को रायपुर से सुकमा भेजा गया है। अजय कुमार शर्मा को सीएसपी माना से डीएसपी चंद्रखुरी बनाया गया है। डीएसपी चंद्रखुरी सुभाष दास को एसडीओपी बलौदाबाजार बनाया गया है। आजाद चौक डीएसपी नसरूल्ला सिद्दीकी को सीएसपी सिविल लाइन बनाया गया है। राजश्री मिश्रा को पुलिस अधीक्षक पीटीएस माना का पदभार दिया गया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र कुमार को रायपुर पुलिस मुख्यालय से नारायणपुर बटालियन का प्रभारी कमांडेंट बनाया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*जनपद अध्यक्ष उपाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए पर्यवेक्षक की सूची कांग्रेस ने जारी की देखिए*

रायपुर:-अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के निर्देशानुसार छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने जनपद पंचायत क्षेत्रों में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए क्षेत्रवार पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है। यह जानकारी देते हुए पीसीसी महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि रायपुर जिले में आरंग के लिए गणेश सिंह ध्रुव, अभनपुर में उधोराम वर्मा,धरसीवा में सुरेन्द्र शर्मा,तिल्दा में द्वारिका देवांगन को पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। इसी तरह प्रदेश के अन्य सभी जिलों में भी जनपद पंचायत क्षेत्रों में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के निर्वाचन के लिए क्षेत्रवार पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*पं दीनदयाल की पुण्यतिथि पर महापौर ने श्रधांजलि अर्पित की*

रायपुर:-नगर निगम संस्कृति विभाग की ओर से मंगलवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय को उनकी 52वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी गई। तेलीबांधा रिंगरोड चौक के किनारे स्थित पंडित उपाध्याय की प्रतिमा के समक्ष नमन करने एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ। महापौर एजाज ढेबर ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय को पुण्यतिथि पर नमन करते हुए सभी राजधानीवासियों की ओर से आदरांजलि अर्पित की। निगम संस्कृति विभाग के संक्षिप्त आयोजन में नगर निगम संस्कृति विभाग अध्यक्ष आकाश तिवारी, पार्षद मृत्युंजय दुबे, पूर्व पार्षद राधेश्याम विभार, सच्चिदानंद उपासने, राजीव अग्रवाल सहित नगर के अनेक लोग, सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे। सभी ने पंडित उपाध्याय को प्रतिमा स्थल पर उनकी पुण्यतिथि पर नमन कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*11 फरवरी को पं दीनदयाल की पुण्यतिथि पर भाजपा मनाएगी समर्पण दिवस*

रायपुर:-पं.दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर में श्रद्धांजलि दी जाएगी। भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर में 11 फरवरी मंगलवार को सुबह 11 बजे समर्पण दिवस का कार्यक्रम रखा गया है। भाजपा कार्यकर्ता बूथों में भी समर्पण दिवस मनाकर पं.दीनदयाल उपाध्याय को नमन करेंगे। सुबह 10 बजे तेलीबांधा में पं.दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जाएगा। भाजपा जिला अध्यक्ष राजीव कुमार अग्रवाल ने कहा कि समर्पण दिवस कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ता, सभी मोर्चा-प्रकोष्ठ के पदाधिकारी व आमजन शामिल होंगे। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*आरटीआई एक्टिविस्ट कुणाल शुक्ला और भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास के खिलाफ डीडी नगर थाने में मामला दर्ज*

रायपुर:-राजधानी की महिला टीआई को धमकी देने के मामले में रायपुर पुलिस ने अपराध कायम किया है। आरटीआई एक्टिविस्ट और कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विवि में कबीर शोध पीठ के अध्यक्ष कुणाल शुक्ला और भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास के खिलाफ डीडी नगर थाना प्रभारी मंजूलता राठौर की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है। आरोप है कि थाने में टीआई मंजूलता राठौर को दोनों ने गिरफ्तार वारंटी को छोड़ने धमकी दी। मामले में शिकायत दर्ज हो चुकी है। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। धारा 189, 353, 506 के तहत अपराध कायम किया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का दौरा कार्यक्रम आज दुर्ग कांकेर गरियाबंद के दौरे पर*

रायपुर:- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 9 फरवरी को दुर्ग, कांकेर और गरियाबंद जिले के दौरे पर रहेंगे। मुख्यमंत्री बघेल निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार भिलाई-3 दुर्ग से दोपहर 12 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर 12.30 बजे पाटन पहुंचेंगे, और वहां देवांगन सामाजिक भवन में आयोजित मां परमेश्वरी महोत्सव में शामिल होंगे।
मुख्यमंत्री बघेल 2.15 बजे कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर पहुंचेंगे और शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खेल मैदान में लयांग लयोर करसाना पंडुम (खेल युवा महोत्सव) के समापन समारोह में शामिल होंगे। श्री बघेल शाम 5 बजे गरियाबंद जिले के राजिम पहुंचेंगे और वहां रात 7 बजे राजिम माघी पुन्नी मेले का उद्घाटन करने के बाद रात 8 बजे मुख्यमंत्री निवास के लिए रवाना होंगे।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*भूपेश केबिनेट में इन पर लिया गया निर्णय 5 दिन अतरिक्त होगी धानखरीदी 49 शराब दुकान को बंद करने सहीत देखिएmornews*

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में शनिवार शाम यहां उनके निवास कार्यालय में आयोजित कैबिनेट की बैठक में धान खरीदी पर बड़ा फैसला लिया गया है। बैठक खत्म होने के बाद मंत्री मो.अकबर ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि प्रदेश में धान खरीदी की तिथि को 5 दिन बढ़ाई गई है, अब 20 फरवरी तक धान खरीदी की जाएगी। इसी तरह प्रदेश में 49 अंग्रेजी शराब दुकान बंद करने  का निर्णय लिया गया है।


केबिनेट मंत्रिमंडल की बैठक में इन पर लिए गए फैसले देखिए:-

!!निर्णय लिया गया कि समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की अवधि को 15 फरवरी से बढ़ाकर 20 फरवरी तक की जावेगी।
!! वर्ष 2019-20 का तृतीय अनुपूरक अनुमान का विधानसभा में उपस्थापन बावत् छत्तीसगढ़ विनियोग विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया।
!!बजट अनुमान वर्ष 2020-21 का विधानसभा में उपस्थापन बावत् छत्तीसगढ़ विनियोग विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया।
!! राज्य के गन्ना किसानों के हित में निर्णय लेते हुए सार्वजनिक वितरण प्रणाली में आवश्यक शक्कर का क्रय सहकारी शक्कर कारखानों से 3200 रूपए प्रति क्विंटल करने का निर्णय आगामी एक वर्ष हेतु लिया गया।
!!छत्तीसगढ़ आबकारी नीति वित्तीय वर्ष 2020-21 का अनुमोदन किया गया।
!! प्रस्तावित छत्तीसगढ़ प्लास्टिक और अन्य जीव अनाशित सामग्री (उपयोग और निस्तारण का विनियमन) विधेयक, 2020 का अनुमोदन किया गया।
!!खदान/खदान समूहों के खनन से संबंधित संक्रियाओं से समीपस्थ जिले के समस्त क्षेत्र को ‘‘प्रभावित क्षेत्र‘‘ घोषित करने हेतु जिला खनिज संस्थान न्यास नियम, 2015 में संशोधन का अनुमोदन किया गया।
!! जिला खनिज संस्थान न्यास नियम 2015 में संशोधन का अनुमोदन किया गया। जिसके तहत अब उच्च एवं अन्य प्राथमिकता क्षेत्रांतर्गत शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पेयजल आपूर्ति के क्षेत्रों में अधोसंरचना/निर्माण कार्यो को छोड़कर शेष सभी प्रकार के अधोसंरचना/निर्माण कार्यो पर न्याय निधि में प्राप्त राशि के 20 प्रतिशत तक ही व्यय किया जा सकेगा।
!! प्रदेश के बस्तर और दुर्ग जिले में स्वीकृत मुख्य खनिज चूना पत्थर के खनिपट्टा क्षेत्र से उत्पादित खनिजों का बाजार उपलब्ध नही होने और आसपास सीमेंट प्लांट स्थापित नही होने के कारण मुख्य खनिज चूना पत्थर को गौण खनिज के रूप में विक्रय करने की अनुमति प्रदान की गई।
!! छत्तीसगढ़ राज्य की विशिष्टिताओं एवं विविधताओं को समाहित कर पूर्व से उपयोग किए जा रहे राज्य पुलिस के लिए गठन संकेत/प्रतीक का अनुमोदन किया गया।
!! महाधिवक्ता कार्यालय बिलासपुर में विधि अधिकारियों के 15 पद सजृन का कार्योत्तर अनुमोदन प्रदान किया गया।
!! नागरिक सेवाओं को घर तक पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री मितान योजना प्रारंभ किए जाने के संबंध में निर्णय लिया गया। समस्त औपचारिकता पूरी करने के बाद आगामी अगस्त माह से योजना लागू की जाएगी। प्रथम चरण में प्रदेश के सभी नगर निगमों में शासकीय सेवाओं की घर पहुंच सेवा आरंभ की जाएगी।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय रायपुर में कार्यक्रम को संबोधित करते आईएएस सोनमणी बोरा*

रायपुर:- राज्यपाल के सचिव सोनमणि बोरा ने कहा कि आज विभिन्न कारणों से जलवायु में परिवर्तन हो रहा है। इसे हम समस्या के रूप में माने या वृहत विज्ञान के रूप में, यह चिंतन का विषय है। इसे वृहत विज्ञान के रूप में मान सकते हैं। इसका सभी को मिलकर समाधान ढूंढ़ना होगा। नीति निर्माता, वैज्ञानिक और युवाओं को एक साथ मिलकर इसका सामना करना होगा। इस महा आंदोलन में समाज विशेषकर युवाओं की भूमिका भी महत्वपूर्ण होगी। श्री बोरा आज श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय रायपुर द्वारा पर्यावरण विषय पर आधारित राष्ट्रीय सेमिनार को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि हमारी धरती की आयु 3.8 बिलियन है। यह बताया जाता है कि पिछले 500 मिलियन वर्ष में 5 बड़े दुर्घटना हुई, जिससे कभी 30-40 प्रतिशत प्रजाति धरती से विलुप्त हो गई। मनुष्य के असीमिति लोभ के कारण 6वीं महाप्रलय हो सकता है।
श्री बोरा ने गांधी जी द्वारा दिए गए उद्धरण के माध्यम से कहा कि पर्याप्त संसाधन होते हुए भी अत्यधिक पाने की चाह के कारण हमें वातावरण में यह परिवर्तन देखने को मिल रहा है। इन परिवर्तनों के लिए कहीं न कहीं जिम्मेदार हम ही हैं। आज बेमौसम बारिश हो रही है। मौसम चक्र में बदलाव देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कुछ समय के अंतराल में ऐसा हुआ है कि कम विजीबिलिटी के कारण राजधानी के एयरपोर्ट में विमान नहीं उतर पा रहे हैं। यहां तक के हमारे द्वारा उगाए जा रहे धान के फसलों की वेरायटी में भी फर्क देखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक जगह से दूसरे जगह हो रहे पलायन का संबंध भी किसी न किसी रूप में जलवायु परिवर्तन से है।
श्री बोरा ने कहा कि इस समस्या का सामना करने के लिए हमें जागरूक होना पड़ेगा। हमें ऐसे साधन अपनाने पड़ेंगे कि पर्यावरण सतत रहे। ऐसे सेमिनार के माध्यम से प्रयास करें कि इसका हम सही समाधान ढूंढें और हमारी पृथ्वी को नष्ट होने से बचाएं।
कुलाधिपति स्वामी रावतपुरा सरकार ने कहा कि विश्वविद्यालय में ऐसे सेमिनार होते रहना चाहिए। यह विद्यार्थियों के लिए उपयोगी तो होते ही हैं। ऐसे कार्यक्रमों से ही विश्वविद्यालय की पहचान बनती है। इस अवसर पर नीरी के वैज्ञानिक डॉ. राजेश बी. बिनावाले और पर्यावरण संरक्षण मण्डल भोपाल के वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री आर. पी. मिश्रा ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में कुलपति श्री अंकुर अरूण कुलकर्णी, डॉ. छबिराम मतवाले, डॉ. देवियानी शर्मा, विद्यार्थीगण एवं शिक्षकगण उपस्थित थे। इस अवसर पर कार्यक्रम से संबंधित पत्रिका का भी विमोचन किया गया। 

ब्यूरो रिपोर्ट