*भुपेश सरकार ने जारी की निगम,मंडल की सूची देखिए किन्हें मिली है जिम्मेदारी mornews*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में काफी समय से निगम-मंडल की नियुक्ति को लेकर चर्चा हो रही थी। आज भूपेश सरकार ने बड़ी संख्या में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्य की सूची जारी कर दी, छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आयोग, निगम, मंडलों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों की सूची जारी कर दी गयी है।तीन दर्जन के आसपास की सूची जारी की गयी है। 

देखिए सूची-

ब्यूरो रिपोर्ट


*विकास प्राधिकरण में अध्यक्ष उपाध्यक्ष की नियुक्ति,देखिए किन्हें मिली जिम्मेदारीmornews*

रायपुर– मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के दो विकास प्राधिकरणों के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की नियुक्ति की है। डोंगरगढ़ के विधायक भुवनेश्वर बघेल को अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष बनाया गया है। इस प्राधिकरण के लिए दो उपाध्यक्ष की नियुक्ति की गई है। सरायपाली के विधायक किस्मत लाल नंद तथा सारंगढ़ की विधायक उत्तरी जांगड़े को अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है।

इसी तरह छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पद पर डोंगरगांव के विधायक दलेश्वर साहू की नियुक्ति की गई है । रायगढ़ के विधायक प्रकाश नायक एवं चन्द्रपुर के विधायक रामकुमार यादव को इस प्राधिकरण का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*कोयला सप्लाई के नाम लाखो की धोखाधड़ी,युवक के खिलाफ अपराध दर्ज*

रायपुर/बिलासपुर-शहर के युवक आकाश सिंघल पर रायपुर के टिकरापारा पुलिस ने महिला व्यापारी से 15 लाख की धोखाधड़ी के मामले में 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है। आकाश सिंघल ने छलपूर्वक न ही कोयला सप्लाई किया और न ही 15 लाख रु वापस किए,जिस पर प्रार्थी द्वारा अपराध पंजीबद्ध कराया गया हैं। महिला ने सीधे इसकी शिकायत सिटीजन कॉप में की थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आकाश सिंघल बिलासपुर में कोयले का व्यवसाई है और कोयले का क्रय-विक्रय के संबंध में शांभवी ट्रेडिंग से दिसंबर 2019 में संपर्क हुआ।
कोयला क्रय विक्रय करने मौखिक बातचीत कर आकाश सिंगल से कोयला क्रय किया गया। उक्त लेनदेन में कुछ भी नहीं बकाया था। वर्ष 2020 जनवरी में कोयले की आवश्यकता होने पर दोबारा आकाश सिंघल से शांभवी ट्रेडिंग कंपनी के प्रोपराइटर ने संपर्क किया कोयला लेने के संबंध में 15 जनवरी को आकाश सिंघल और शांभवी ट्रेडिंग कंपनी के बीच अनुबंध हुआ। अनुबंध के अनुसार शांभवी ट्रेडिंग कंपनी के प्रोपराइटर की हैसियत से 22 लाख ₹40000 सिंघल को दिया। आकाश सिंगल को 15 जनवरी से 28 जनवरी तक कोयले की सप्लाई करनी थी।अनुबंध के दिन ही एक चेक आकाश सिंगल के द्वारा 22 लाख 40 हजार का बतौर सुरक्षा शांभवी ट्रेडिंग कंपनी के प्रोपराइटर को दिया गया था। आकाश सिंगल द्वारा पैसे प्राप्त करने के बाद भी कोयले की सप्लाई नहीं की गई और बार बार कहने पर भी निरंतर टालमटोल कर प्रार्थी को घुमाता रहा। तब प्रार्थी ने आकाश सिंघल को कहा कि कोयला सप्लाई नहीं करना है तब हमारी रकम वापस कर दो इस पर आकाश सिंगल के द्वारा फरवरी 2020 में ₹400000 आरटीजीएस के माध्यम से वापस किया एवं 7 मार्च 2020 को आपस में हिसाब कर बाकी राशि देने के संबंध में इकरारनामा 7 मार्च 2020 को निष्पादित कर 1500000 वापस करने का वचन दिया और एक चेक 30 मार्च का प्रदान किया और यह शर्त किया कि रकम नहीं देने पर उक्त धनराशि के चेक को अनादरित करवा कर चल अचल संपत्ति से वसूली की कार्रवाई कर सकता है।इस बीच 07 मार्च 2020 को अनुबंध निष्पादित करने के बाद आकाश सिंगल लगातार प्रोपराइटर के संपर्क में रहा और बातचीत करता रहा, शर्त के अनुसार रकम समय पर न मिलने पर फोन एवं मैसेज के माध्यम से अनुबंध के अनुसार चेक को आईसीसीआई बैंक मंगला में लगाकर अपना पैसा वापस लेने की जानकारी उसको दी गई । तब आकाश सिंघल के द्वारा अपने दायित्व से एवं भुगतान से बचने के लिए स्टॉप पेमेंट करा दिया गया और एक झूठे आधार पर मुझे अपने अधिवक्ता के माध्यम से 8 अप्रैल को सूचना पत्र प्रेषित कराया।

आकाश सिंघल के द्वारा दिए गए चेक 000670 रकम 1500000 को 30 मार्च 2020 को आईसीआईसीआई बैंक मंगला चौक बिलासपुर को अपने बैंक में प्रार्थी ने लगाकर समाशोधन के लिए प्रस्तुत किया पर उक्त धनादेश अनादरित होकर 3 अप्रैल 2020 को प्रार्थी को प्राप्त हुआ। तब प्रार्थी के द्वारा आकाश सिंगल से फोन पर संपर्क किया गया आकाश सिंगल द्वारा अपना मोबाइल बंद कर दिया गया था और बात नहीं कर रहा था।

प्रार्थी ने अपनी शिकायत में आगे बताया कि आकाश सिंघल मुझे विश्वास में लेकर एक अनुबंध के अंतर्गत रकम प्राप्त कर लिया और ₹1500000 को वापस ना कर अदायगी से बचने के लिए छल कार्य करते हुए रकम को हड़पने की नियत से बेईमानी पूर्वक माल प्रदान न कर रकम दिया जाना कथन करते हुए झूठा सूचना पत्र प्रेषित कर मुझे धमकी दिया और रकम को हड़प लिया इस प्रकार आकाश सिंघल द्वारा मुझे विश्वास दिलाते हुए की कोयला प्रदान कर दूंगा और नहीं करने पर अनुबंध 7 मार्च के अनुसार दिए गए को प्रस्तुत कर प्राप्त कर सकते हैं का विश्वास दिलाते हुए अनुबंध किया और चेक को बैंक में प्रस्तुत करने पर छल कारीत करते हुए भुगतान होने से रुकवा दिया इस प्रकार मेरे साथ धोखाधड़ी कर मेरी रकम को हड़प लिया है। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*विधायक दल की बैठक मुख्यमंत्री निवास में आयोजित,निगम मंडल को लेकर हो सकता है फैसला,संगठन से जुड़े नेताओ को मिल सकती है जिम्मेदारी देखिए mornews*

रायपुर-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संसदीय सचिवों की नियुक्ति के बाद आज विधायक दल की बैठक बुलाई है। बैठक 12 बजे मुख्यमंत्री निवास में शुरू होगी। बैठक में राज्य सरकार के कामकाज को जन-जन तक पहुंचाने को लेकर चर्चा होगी। साथ ही कयास लगाए जा रहे हैं कि बैठक में निगम मंडलों के नामों पर चर्चा हो सकती है। संभावना यह भी है कि बैठक के बाद निगम-मंडलों की सूची जारी की जा सकती है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार संगठन से जुड़े पदाधिकारी सहित पांच विधायक को निगम मंडल में पद दिया जा सकता है।संगठन से जुड़े शैलेष नितिन त्रिवेदी ,गिरीश देवांगन,सहित चार नामो पर संगठन से जुड़े लोग पर पद देने की चर्चा है।

ब्यूरो रिपोर्टर


*नवनियुक्त संसदीय सचिव को विभागीय मंत्रियों के साथ किया गया अटैच देखिए किन्हें कौन से विभाग में मिली जिम्मेदारी*

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवनियुक्त संसदीय सचिवों को विभागीय मंत्रियों के साथ संबद्ध कर दिया है। मुख्यमंत्री निवास में कैबिनेट की बैठक के ठीक बाद इस संबंध में सूची जारी कर दी गई है। अब ये संसदीय सचिव विभागीय मंत्रियों के साथ संलग्न होकर अपने-अपने दायित्वों को संभालेंगे। बता दें कि मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में आयोजित समारोह में 15 संसदीय सचिवों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ लेने वाले संसदीय सचिवों में द्वारिकाधीश यादव, विनोद सेवनलाल चंद्राकर,चन्द्रदेव राय,शकुन्तला साहू, विकास उपाध्याय, अंबिका सिंहदेव, चिंतामणी महाराज, यूडी मिंज,पारसनाथ राजवाड़े, इंदरशाह मण्डावी, कुंवरसिंह निषाद, गुरूदयाल सिंह बंजारे,डॉ.रश्मि आशीष सिंह, शिशुपाल सोरी और रेखचंद जैन शामिल हैं।

इन 15 संसदीय सचिवों ने ली शपथ-

चिंतामणि महाराज

सामरी विधानसभा क्षेत्र से विधायक
2018 में दूसरी बार विधायक बने
गहिरा गुरू के पुत्र और कंवर समाज के प्रतिनिधि
साफ सुथरी छवि और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक

चिंतामणि महाराज को ताम्रध्वज साहू के साथ पीडब्ल्यूडी विभाग में किया गया संलग्न

विकास उपाध्याय


रायपुर पश्चिम विधानसभा क्षेत्र से विधायक
रमन सरकार के दिग्गज मंत्री राजेश मूणत को हराकर विधायक बने। छात्रसंघ से राजनीति में रखा कदम
तेजतर्रार छवि, पार्टी का युवा चेहरा।

विकास उपाध्याय को पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू के साथ किया गया संलग्न

विनोद चंद्राकर


महासमुंद विधानसभा से विधायक
2018 में पहली बार चुनाव लड़े और जीते
महासमुंद जिले में पार्टी का युवा चेहरा

विनोद चंद्राकर को टीएस सिंह देव के साथ किया गया संलग्न है

चंद्रदेव राय


बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक
विधायक बनने से पहले शिक्षाकर्मी थे
2018 में बीजेपी के सनम जांगड़े को हराया
बलौदाबाजार जिले का प्रतिनिधित्व करते हैं।

चंद्र देव राय को मोहम्मद अकबर के साथ परिवहन आवास एवं पर्यावरण विभाग में किया गया संलग्न

अंबिका सिंहदेव


बैकुंठपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक
पहली बार चुनाव लड़ीं और विधायक बनीं
2018 में बीजेपी के भैयालाल राजवाड़े को हराया
महिला विधायक और कोरिया जिले का प्रतिनिधित्व।

अंबिका सिंह देव को गुरु रूद्र कुमार के साथ किया गया संलग्न।

द्वारिकाधीश यादव


खल्लारी विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं विधायक
2018 में पहली बार चुनाव लड़े और जीते
महासमुंद जिले में कांग्रेस युवा चेहरा

द्वारकाधीश यादव स्कूल शिक्षा विभाग आदिम जाति अनुसूचित जाति विभाग में संबद्द.

शकुंतला साहू


कसडोल विधानसभा क्षेत्र से चुनी गईं हैं विधायक
2018 में पहली बार चुनाव लड़ीं और जीतीं
पूर्व स्पीकर गौरीशंकर को हराकर बनी हैं विधायक
महिला समाज का प्रतिनिधित्व करती हैं।

शकुंतला साहू को कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के साथ किया गया संबद्ध

यूडी मिंज

कुनकुरी विधानसभा क्षेत्र से विधायक
2018 में बीजेपी के भरत साय को हराया
जशपुर जिले का प्रतिनिधित्व
अल्पसंख्यक वर्ग से ताल्लुक रखते हैं।

यूडी मिंज को आबकारी मंत्री कवासी लखमा के साथ किया गया संलग्न

पारसनाथ राजवाड़े


भटगांव विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं विधायक
2018 में दूसरी बार विधायक बने
2013 में रजनी त्रिपाठी को हराकर पहली बार विधायक बने। सूरजपुर जिले का प्रतिनिधित्व।

पारसनाथ राजवाड़े को उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल के साथ किया गया संलग्न

इंदरशाह मंडावी


मोहला मानपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक
राजनांदगांव जिले का प्रतिनिधित्व
2018 में पहली बार विधायक बने

इंदरशाह मंडावी को राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के साथ किया गया संलग्न

कुंवर सिंह निषाद


गुंडरदेही विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं विधायक
2018 में पहली बार विधायक बने
जोगी कांग्रेस के ताकतवर प्रत्याशी को हराया
बालोद जिले में पार्टी का युवा चेहरा

कुंवर सिंह निषाद को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत के साथ किया गया संलग्न

गुरदयाल बंजारे


नवागढ़ विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं विधायक
बेमेतरा जिले के साथ SC वर्ग का प्रतिनिधित्व
2018 में मंत्री दयालदास बघेल को हराकर विधायक बने।

गुरदयाल सिंह बंजारे को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के साथ किया गया संलग्न

डॉ. रश्मि सिंह


तखतपुर विधानसभा क्षेत्र से हैं विधायक
2018 में पहली बार चुनाव लड़ीं और जीतीं
बीजेपी की हर्षिता पांडे को हराकर विधायक बनीं
पूर्व विधायक ठाकुर बलराम सिंह की बहू हैं।

रश्मि आशीष सिंह को महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया के साथ किया गया संलग्न

शिशुपाल सोरी


कांकेर विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं विधायक
2018 में पहली बार विधायक बने
रिटायर्ड IAS को कांग्रेस ने शंकर ध्रुवा की जगह दिया टिकट, 2018 में बीजेपी के हीरा मरकाम को हराया।

शिशुपाल सॉरी को वन मंत्री मोहम्मद अकबर के साथ किया गया संलग्न

रेखचंद जैन


जगदलपुर विधानसभा से विधायक
2018 में पहली बार विधायक बने
बीजेपी के दिग्गज संतोष बाफना को हराया
अल्पसंख्यक और बस्तर जिले का प्रतिनिधित्व करते हैं।

रेख चंद जैन नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया के साथ होंगे संलग्न

विभागों का हुआ बंटवारा, देखिए लिस्ट

संसदीय सचिवों के शपथ ग्रहण के साथ ही मंत्रियों के साथ उनकी संबंद्धता लिस्ट भी जारी कर दी गयी है। देखिये किसे किन मंत्रियों के साथ किया गया अटैच

ब्यूरो रिपोर्ट


*Big Breaking:भुपेश केबिनेट की बैठक में लिए कई फैसले,शिक्षाकर्मियों के संविलयन पर लगी मुहर और देखिएMornews*

रायपुर:-भूपेश सरकार ने शिक्षाकर्मियों के संविलियन का ऐलान कर दिया है। 1 नवंबर 2020 से शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया जायेगा। दो वर्ष एवं उससे अधिक की सेवा अवधि पूर्ण करने वाले शेष बचे पंचायत और नगरीय निकाय संवर्ग के शिक्षकों का संविलियन एक नवंबर 2020 से स्कूल शिक्षा विभाग में किए जाने का अनुमोदन किया गया। इसका लाभ 16 हजार 278 शिक्षकों को मिलेगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज उनके राजधानी रायपुर निवास कार्यालय में मंत्रिपरिषद की बैठक आयोजित हुई। बैठक में निम्नानुसार महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए: –

गोधन न्याय योजना: राज्य के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम – नरवा, गरूवा, घुरूवा और बाड़ी के स्वीकृत गोठानों को रोजगारोन्मुख बनाने हेतु ‘‘गोधन न्याय योजना‘‘ का अनुमोदन किया गया। प्रदेश में हरेली पर्व से इस योजना की शुरूआत होगी। प्रदेश में अब तक 5300 गोठान स्वीकृत किए जा चुकें है जिसमें से ग्रामीण क्षेत्रों में 2408 और शहरी क्षेत्रों में 377 गोठान बन चुकें हैै। जहां से इस योजना की शुरूआत की जाएगी।

प्रदेश में स्थापित गोठान में गोवंशीय और भैसवंशीय पशुपालक से गोठान समितियों के माध्यम से गोबर क्रय कर उससे वर्मी कम्पोस्ट एवं अन्य उत्पाद तैयार किया जाएगा। इससे जैविक खेती को बढ़ावा के साथ ही ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसर, गौपालन एवं गौ-सुरक्षा को प्रोत्साहन, खुली चराई पर रोक, द्विफसली क्षेत्र के विस्तार के साथ ही पशुपालको को आर्थिक लाभ प्राप्त होगा।

मंत्रिमण्डलीय समिति द्वारा गोठान ग्राम में पशुपालकों से 1.50 रूपए प्रति किलो की दर से गोवंशी और भैसवंशी मवेशियों के गोबर क्रय की अनुशंसा की गई थी। मंत्रिपरिषद की बैठक में गोबर के क्रय की दर को 2 रूपए प्रति किलो परिवहन व्यय सहित करने का अनुमोदन किया गया।

योजना में उत्पादित वर्मी कम्पोस्ट का सहकारी समितियों के माध्यम से प्राथमिकता के आधार पर किसानों को 8 रूपए प्रति किलोग्राम की दर से विक्रय किए जाने के साथ ही लैम्पस एवं प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति के अल्पकालीन कृषि ऋण के अंतर्गत सामग्री घटक में जैविक खाद (वर्मी कम्पोस्ट) को शामिल करने का अनुमोदन किया गया।

दो वर्ष एवं उससे अधिक की सेवा अवधि पूर्ण करने वाले शेष बचे पंचायत और नगरीय निकाय संवर्ग के शिक्षकों का संविलियन एक नवंबर 2020 से स्कूल शिक्षा विभाग में किए जाने का अनुमोदन किया गया। इसका लाभ 16 हजार 278 शिक्षकों को मिलेगा।

अनुकम्पा नियुक्ति के संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी परिपत्र 14.06.2013 में संशोधन करते हुए निर्णय लिया गया कि – यदि भाई/बहन अवयस्क हो तो, नियोक्ता द्वारा इस संबंध में अविवाहित दिवंगत शासकीय सेवक के माता/पिता से अंतरिम आवेदन पत्र प्राप्त कर अवयस्क सदस्य (भाई/बहन) के वयस्क होने पर उसे उसकी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर तृतीय/चतुर्थ श्रेणी के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ मोटरयान कराधान अधिनियम 1991 की धारा 21 के तहत यात्री बसों के माह-जून के देय मासिक कर में पूर्णतः छूट प्रदान करने एवं दो माह तक की कालावधि के लिए वाहन अथवा अनुज्ञा पत्र निष्प्रयोग में रखे जाने पर अग्रिम देय मासिक कर जमा करने संबंधी प्रावधान को अस्थाई रूप से शिथिल करने का निर्णय लिया गया।

नगरीय क्षेत्रों में शासकीय भूमि के आबंटन, अतिक्रमित भूमि के व्यवस्थापन, गैर रियायती एवं रियायती दरों पर आबंटित नजूल पट्टों को भूमि स्वामी अधिकार में परिवर्तन विलेखों में देय स्टाम्प शुल्क/पंजीयन शुल्क में छूट देने का निर्णय लिया गया।

जिसके तहत आबंटन/व्यवस्थापन तथा भूमि स्वामी अधिकार में हस्तांतरित किए जाने वाले विलेखो पर देय स्टाम्प शुल्क 5 प्रतिशत तथा उपकर में छूट प्रदान करते हुए अधिकतम 2 हजार रूपए निर्धारित किया गया।

आबंटन/व्यवस्थापन तथा भूमि स्वामी अधिकार के पंजीयन विलेखों पर देय पंजीयन शुल्क 4 प्रतिशत की छूट प्रदान करते हुए अधिकतम 2 हजार रूपए निर्धारित किया गया।

आबंटन/व्यवस्थापन तथा भूमि स्वामी अधिकार में परिवर्तन पर देय स्टाम्प शुल्क पर एक प्रतिशत अतिरिक्त (नगरीय निकाय) शुल्क को पूर्णतः माफ किया गया।
ये सभी छूट 31 मार्च 2021 तक प्रभावशील रहेंगी।

छत्तीसगढ़ खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत जारी राशनकार्डों (एपीएल श्रेणी को छोड़कर) पर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के राशनकार्ड के समान ही 5 किलोग्राम चावल प्रति व्यक्ति प्रतिमाह जुलाई 2020 से नवंबर 2020 तक निःशुल्क वितरण किए जाने का निर्णय लिया गया। इस संबंध में प्रति व्यक्ति/कार्ड, प्रतिमाह कुल खाद्यान्न की अधिकतम पात्रता CGFS और NFSA के तहत जारी किए गए खाद्यान्न की अधिकतम पात्रता के बराबर होगी।

छत्तीसगढ़ खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत जारी राशनकार्डो (एपीएल कार्डो का छोड़कर) पर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के राशनकार्डो के समान ही एक किलो चना प्रति कार्ड प्रतिमाह जुलाई 2020 से नवंबर 2020 तक निःशुल्क वितरण करने का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार प्रत्याभूति नियम-2003 में संशोधन के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

राज्य के सीधी भर्ती के समस्त पदों पर 3 वर्ष की परिवीक्षा अवधि में नियुक्त किए जाने का निर्णय लिया गया।

इन्द्रावती नदी घाटी के छत्तीसगढ़ राज्य सीमा अंतर्गत आने वाले भू-भाग के समग्र विकास हेतु ‘‘इन्द्रावती बेसिन विकास प्राधिकरण‘‘ के गठन का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ औद्योगिक भूमि एवं प्रबंधन नियम-2015 में संशोधन के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

वन विभाग में निर्माण संबंधित कार्य खुली निविदा द्वारा ठेका पद्धति से कराने का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा फिल्म ‘छपाक‘ के प्रदर्शन पर प्रवेश हेतु देय राज्य माल और सेवा कर (एस.जी.एस.टी.) के समतुल्य धनराशि की प्रतिपूर्ति करने का निर्णय लिया गया।

महाधिवक्ता कार्यालय बिलासपुर में अतिरिक्त महाधिवक्ता के 02 नवीन पद के सृजन का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ राज्य विधि आयोग को आगे जारी नही रखने का निर्णय लिया गया। आयोग में वर्तमान में कार्यरत कुल 6 कर्मचारियों को उनके द्वारा धारित पदों पर ही राज्य के विधि और विधायी कार्य विभाग मंत्रालय में नियमानुसार संविदा पर ही संलग्न करने का निर्णय लिया गया।

अशासकीय संस्था रामकृष्ण मिशन आश्रम नारायणपुर के नैमित्तिक एवं आकस्मिक स्थापना के कर्मचारियों के नियमितीकरण की अनुमति प्रदान की गई।

छत्तीसगढ़ राज्य प्रशासनिक सेवा (वर्गीकरण, भर्ती तथा सेवा की शर्ते) नियम, 1975 में संशोधन के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग में अध्यक्ष के पद पर श्री टामन सिंह सोनवानी की नियुक्ति का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ राज्य के लिए नवीन अग्रताक्रम का निर्धारण का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ शासन कार्य (आबंटन) नियम में संशोधन करते हुए सामाजिक रूप से बहिष्कृत एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित लोगों के संरक्षण विषय को समाज कल्याण विभाग को आबंटन का अनुमोदन किया गया।

लोकनायक जयप्रकाश नारायण (मीसा/डी.आई.आर. राजनैतिक या सामाजिक कारणों से निरूद्ध व्यक्ति) सम्मान निधि नियम, 2008 को निरसित करने जारी अधिसूचना दिनांक 23 जनवरी 2020 को संशोधन कर जनवरी 2019 से भूतलक्षी प्रभाव से निरसित करने का अनुमोदन किया गया।

डाॅ.आलोक शुक्ला (सेवानिवृत्त भा.प्र.से.) को प्रमुख सचिव के रिक्त असंवर्गीय पद पर तीन वर्ष के लिए संविदा नियुक्ति का कार्योत्तर अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग (सेवा की शर्तें) विनियम, 2001 में संशोधन के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

जल जीवन मिशन के अंतर्गत घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराने के लिए आमंत्रित रूचि की अभिव्यक्ति द्वारा एकीकृत निविदा प्रक्रिया के माध्यम से प्रदेश के समस्त ग्रामों के अंदर पेयजल व्यवस्था से संबंधित सभी कार्यो हेतु दर निर्धारण करने तथा चयनित एजेन्सियों के माध्यम से क्रियान्वयन का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ भाड़ा नियंत्रण अधिनियम 2011 में संशोधन हेतु छत्तीसगढ़ भाड़ा नियंत्रण (संशोधन) अध्यादेश, 2020 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

जिसके तहत राज्य शासन द्वारा उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश या सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश को भाड़ा नियंत्रण अधिकरण का अध्यक्ष नियुक्त किया जाएगा।

75 लाख रूपए बाजार मूल्य तक के आवासीय मकानों तथा फ्लैट्स के विक्रय पर वर्तमान में लागू पंजीयन शुल्क (संपत्ति के गाइडलाइन मूल्य का 4 प्रतिशत) में 2 प्रतिशत की छूट 31 मार्च 2021 तक दिए जाने हेतु जारी अधिसूचना का कार्योत्तर अनुमोदन किया गया।

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत सहकारी शक्कर कारखानों को हुई क्षति राशि 32.88 करोड़ राज्य शासन द्वारा प्रदाय कर सहकारी शक्कर कारखानों पर बकाया ऋण के विरूद्ध जमा कर समायोजन करने का निर्णय लिया गया।

संस्कृति विभाग के अंतर्गत संचालित सभी इकाइयों को एकरूप करने ‘‘छत्तीसगढ़ संस्कृति परिषद‘‘ के गठन का अनुमोदन किया गया।

मुख्यमंत्री इस परिषद के अध्यक्ष और संस्कृति मंत्री उपाध्यक्ष होंगे। इसके अलावा राज्य के साहित्य और कला जगत से संबंधित व्यक्ति, छत्तीसगढ़ विधानसभा के निर्वाचित सदस्य, भारतीय संसद में छत्तीसगढ़ से निर्वाचित सदस्य, अशासकीय सदस्यों (प्रभागों के निदेशक और अध्यक्ष) का मनोनयन शासन द्वारा किया जाएगा।

राज्य की औद्योगिक निधि 2019-24 में राज्य में बायो-एथेनाल उत्पाद इकाईयों की पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड में स्थापना को विशेष प्रोत्साहन पैकेज में अनुमति दिए जाने का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ स्टेट इंडस्ट्रीयल डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन लिमि. (सीएसआईडीसी) द्वारा औद्योगिक प्रयोजन हेतु आपसी सहमति से निजी भूमि क्रय की नीति का अनुमोदन किया गया। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*संसदीय सचिवों के नाम फ़ाईनल मुख्यमंत्री निवास में लेंगे पद एवं गोपनीयता की शपथ*

रायपुर- सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार संसदीय सचिव के लिए विधायको का चयन कर लिया गया है। कल मुख्यमंत्री भुपेश बघेल इन सभी को पद एवं गोपनीयता की सपथ दिलाएंगे।शपथ लेने वाले संसदीय सचिवों में ये 15 विधायक शामिल हैं।

डाॅ. रश्मि आशीष सिंह

द्वारिकाधीश यादव

विनोद सेवनलाल चंद्राकर

चन्द्रदेव राय

शकुन्तला साहू

विकास उपाध्याय

अंबिका सिंहदेव

चिंतामणी महाराज

यू.डी. मिंज

पारसनाथ राजवाड़े

इंदरशाह मण्डावी

कुंवरसिंह निषाद

गुरूदयाल सिंह बंजारे

शिशुपाल सोरी

रेखचंद जैन 

ब्यूरो रिपोर्ट


*केंद्र सरकार द्वारा किसान विरोधी कार्य लगातार डीजल पेट्रोल के दामों को बढ़ाया जा रहा है-वंदना राजपूत*

केंद्र सरकार द्वारा किसान विरोधी कार्य लगातार डीजल-पेट्रोल के दामों को बढाया जा रहा है- वंदना राजपूत

रायपुर- देश में केंद्र सरकार द्वारा डीजल एवं पेट्रोल के दामों मे प्रतिदिन वृद्धि की जा रही हैं। प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि लगातार डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामों को नियंत्रित नहीं कर पाना भाजपा के केंद्र सरकार का सबसे बड़े नाकामी का सबूत है। गरीब वर्ग, मध्यम वर्ग, व्यापारी वर्ग एवं सभी वर्गों को संकट के समय में केंद्र सरकार से राहत एवं सहायता की जरूरत होती है लेकिन केंद्र सरकार सभी को राहत देने के बजाय अतिरिक्त आर्थिक बोझ थोप रही है।वंदना राजपूत ने कहा कि मोदी जी आप आपने ट्विटर में जाकर एक बार देख लेते जब जरा सी भी पेट्रोल-डीजल के मूल्य मे वृद्धि होता तो मोदी जी आप ट्वीट में लिखते थे “यूपीए सरकार कसाई खानों को सब्सिडी देती और डीजल की कीमतों को बढ़ाती है“। अब आपके हाथों में देश का बागडोर है तो मोदी जी आप लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दाम कम क्यों नहीं करते? सत्ता पाने के लालच में आप जनता से झूठे वादे किए। बहुत हुआ महंगाई की मार अब बस करो मोदी सरकार और कितना रूलाओगे जनता को। महंगाई से हर वर्ग के लोग त्रस्त है।वंदना राजपूत ने कहा कि किसान खेती किसानी के कार्य में लगे हुए है डीजल के बढ़ते दामों से परेशान है। खेत जोताई, बोआई से लेकर धान के कटाई , मिजाई एवं बाजार में ले जाने तक ट्रेक्टर , थ्रेशर एवं विभिन्न प्रकार के वाहनो एवं मशीनों का उपयोग करते है डीजल के दाम में वृद्धि होने से इन सभी मशीनों एवं वाहनों की लागत बढ़ जायेगी । नरेन्द्र मोदी जी आप किसानों के हितों के बारे में बात करते है आपको किसान भाइयों की यदि चिंता होती तो डीजल के दामों को नियंत्रित करते एवं कम करते।वंदना राजपूत ने कहा कि बढ़ते हुए पेट्रोलियम पदार्थों के दामों से महंगाई असमान छू रही है। वाहनों के भाड़ा बढ़ने के कारण दैनिक जीवन के आवश्यक वस्तुओं के दामों में वृद्धि होता जा रहा है। वर्तमान में कोरोना महामारी के कारण लोगों का आर्थिक स्थिति ठीक नहीं चल रही है। मोदी जी के गलत नीति के कारण देश में जनता कोरोना से मर रहें है जो लोग कोरोना से बच गये ओ मंहगाई से मर जायेगें ।वंदना राजपूत ने कहा कि स्मृति ईरानी जी, सरोज पांडे जी ,रेणुका सिंह जी को महंगाई डायन से बहुत ही ज्यादा लगाव हो गया है इसलिए महंगाई असमान छू रहा है और भाजपा नेत्रियां मौन हैं। आम जनता इस विपरीत परिस्थिति में केन्द्र सरकार से राहत की अपेक्षा रखती हैं जिस पर ध्यान ना देते हुए केंद्र सरकार आम जनता के हितों के विपरीत कार्य कर रही है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*सांसद सुनील सोनी पर स्वयं कोरोना संक्रमण का खतरा दिखा तो,सख्ती के उपदेश दे रहे है-घनश्याम राजू तिवारी*

, संकटकाल में भी स्तरहीन राजनीति करने से बाज़ नही आ रहे - कांग्रेस

सांसद सुनील सोनी पर स्वयं कोरोना संक्रमण का खतरा दिखा तो, सख्ती का उपदेश दे रहे - घनश्याम तिवारी

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगभग नौ लाख, भाजपा सांसद अपने सुझाव अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर राज्यों के मत्थे डाल देने वाले देश के अक्षम नेतृत्व वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को दें - कांग्रेस

रायपुर- कोरोना संक्रमण काल की विपत्तियों के बावजूद प्रदेश भाजपा सांसदो को विपदा और संकटकाल से उपजे समस्याओं पर सहयोग करना छोड़ राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने भाजपा सांसद सुनील सोनी के कोरोना संक्रमण पर सख्ती बरतने के उपदेश पर पलटवार करते हुए कहा कि, सुनील सोनी जी जब संक्रमण की दस्तक आपके स्वयं के घर तक आ पहुंची तब आपको सख्ती बरतने की याद आ रही है। हम ईश्वर से प्रार्थना करते हैं आप एवं परिजन, पीएसओ सहित सभी आपके अधिनस्थ अधिकारी कर्मचारी स्वस्थ रहें।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने कहा कि, कोरोना संक्रमण रोकथाम की लड़ाई में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, राज्य सरकार के कर्मचारी अधिकारी, विशेषकर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों और डॉक्टरों, पुलिस विभाग नगरीय निकायों के कर्मचारी और सफाईकर्मी सहित सभी जिम्मेदार लोगों ने अपनी जान जोखिम में डालकर निभायी है, और निभा रहे है, जिसका ही परिणाम है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण रिकवरी दर देश के अन्य राज्यों से बेहतर स्थिति पर है। कोरोना संक्रमण के कारण मौतों की संख्या छत्तीसगढ़ में नहीं के बराबर है, अन्य प्रदेशों की तुलना में बहुत कम है जो सबके सामूहिक प्रयासों से ही हो पाया है।
इस पूरे घटनाक्रम में भाजपा सांसदों की भूमिका पर सवाल उठाते हुये कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने कहा कि भूपेश सरकार द्वारा किसानों को 2500 रुपए प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के निर्णय पर केंद्र सरकार के अड़ंगे पर भी भाजपा सांसद मौन रहे, यहाँ तक किसानों के साथ हो रहे इस अन्याय को समाप्त करने राज्य सरकार द्वारा बुलाए गये सर्वदलीय बैठक में भी भाजपा सांसद शामिल नहीं हुये। कोरोना संक्रमण से उपजे हालातों से लड़ने उपचार की मदद करने प्रदेश के कांग्रेस सांसद छत्तीसगढ़ शासन के मंत्री गण, विधायक गण, पार्टी पदाधिकारी, सामाजिक संस्थाएं, उद्योग एवं व्यापारिक संस्थाएं सहित अनेकों आम जनों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष पर अपनी ओर से हरसंभव आर्थिक मदद किया, मगर उसमें भी भाजपा सांसदों ने प्रदेश की जनता के प्रति जिम्मेदारी से भागते हुए प्रधानमंत्री राहत कोष में राशि जमा कराई जो कहीं ना कहीं प्रदेश की जनता के प्रति जवाबदेही से भागने जैसा ही है और वह भी सिर्फ इसलिए क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, यह साबित करता है कि, विपदा, संकट में भी भाजपा सांसद राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने प्रदेश भाजपा सांसदों से आग्रह करते हुए कहा कि, भाजपा सांसदों को चाहिए कि देश में कोरोना संक्रमण की संख्या लगभग नौ लाख के करीब हो चली है, अच्छा होगा वे अपने सुझाव अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर राज्यों के मत्थे डाल देने वाले देश के अक्षम नेतृत्व वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को दे

ब्यूरो रिपोर्ट


*सावन महीने का दूसरा सोमवार आज,भोलेनाथ करेंगे भक्तों पर कृपा*

रायपुर- श्रावण महीने में आने वाले हर सोमवार का विशेष महत्व होता है और आज सावन महीने का दूसरा सोमवार है। इस महीने में खासकर सोमवार के दिन भोलेनाथ की पूजा करने से उनकी विशेष कृपा प्राप्त होती है। भोलेनाथ इस महीने में की गई पूजा-पाठ से प्रसन्न होकर अपने भक्तों को वरदान प्रदान करते हैं। आज सावन का दूसरा सोमवार है और सावन का दूसरा सोमवार शिवभक्तों को बेहतर स्वास्थ्य और बल प्रदान करने वाला माना जाता है। सावन के इस सोमवार को भोलेनाथ को भांग, धतूरा और शहद चढ़ाने से भोलेनाथ प्रसन्न होते है।

मान्यता है की -
शिवपुराण के अनुसार, भगवान भोलेनाथ ने माता पार्वती की तपस्या से प्रसन्न होकर सावन के महीने में ही उन्हें पत्नी रूप में स्वीकार करने का वरदान दिया था। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि जो भी भक्त सावन का वर्त करेंगे उनकी हर मनोकामना पूर्ण होगी।  


*केंद्र सरकार के अकुशल नेतृत्व के कारण देश मे बढ़ रहे लगातार कोरोना के कुल मामले लगभग 9 लाख के पास पहुँचा-वंदना राजपूत*

रायपुर-केंद्र सरकार के अकुशल नेतृत्व के कारण देश में बढ़ रहे लगातार कोरोना की कुल मामले लगभग 9 लाख के करीब पहुँच चुका है प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि देश में कोरोना का बहुत ही अत्यधिक खतरा तेजी से बढता जा रहा है केन्द्र सरकार कोरोना के खिलाफ कोई कारगर योजना अब भी नहीं बना पाई है।वंदना राजपूत ने कहा कि वक्त रहते केंद्र सरकार को जो जरूरी कदम उठाने थे वह नहीं उठाये जनता जनार्दन को असली मुद्दे से भटका कर थाली अौर ताली बजाने में लगा दिए । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने जो भी कहा जनता ने किया। विश्वास था लोगों को प्रधानमंत्री जी अपने देश को कोरोना महामारी से बचा लेगें लेकिन आज भारत मे लगातार कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है।वंदना राजपूत ने कहा कि कोरोना कंट्रोल के मामले में अब छत्तीसगढ़ टाप पांच राज्यों में शामिल हो गया है। मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के सरकार के कुशल नेतृत्व के कारण आज छत्तीसगढ़ राज्य कोरोना कंट्रोल में टाप पांच राज्यों में छत्तीसगढ का नाम है।कोरोना काल के महा संकट के समय भी भाजपा के सांसदों का छत्तीसगढ़ के जनता को कोई सहयोग नहीं मिला एवं केंद्र सरकार भी छत्तीसगढ़ को गरीब कल्याण योजना में शामिल ना कर सौतेला व्यवहार कर रही हैं.वंदना राजपूत ने कहा कि जिस निजी संस्था में महिला कर्मचारी काम करते थे लेकिन कोरोना महामारी के कारण रोजी रोटी में संकट आ गया है केन्द्रीय मंत्री रेणुका सिंह एवं राज्य सभा सांसद सरोज पांडे बताये कोरोना महामारी संकट काल में कामकाजी महिलाओं को क्या आर्थिक मदद किये.

ब्यूरो रिपोर्ट
 


*भाजपा अब छत्तीसगढ़ में जमीनी हकीकत से पूरी तरह से कट चुकी है-मोहन मरकाम*

गरीब छत्तीसगढ़ के किसानों और छत्तीसगढ़ के गरीबों आम आदमियों से रमन सिंह जी का कोई सरोकार नहीं रह गया है,भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार कर रही है छत्तीसगढ़ की खुशहाली के लिये

रायपुर- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि भाजपा छत्तीसगढ़ की जमीनी हकीकत से अब पूरी तरह से कट चुकी हैं। छत्तीसगढ़ के किसानों छत्तीसगढ़ के मजदूरों छत्तीसगढ़ के गरीबों और आम आदमियों से भाजपा का कोई सरोकार नहीं रह गया है। छत्तीसगढ़ धान का कटोरा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार धान उगाने वाले किसानों को आसपास के किसी भी अन्य राज्य की तुलना में ज्यादा दाम 2500 रुपए प्रति क्विंटल दे रही है। भाजपा ने इसमें भी विघ्नबाधा डालने की पूरी कोशिश की लेकिन भाजपा को इसमें भी सफलता नहीं मिली। कांग्रेस सरकार लगातार अपने ठोस कामों के आधार पर आगे बढ़ रही है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि भाजपा की छत्तीसगढ़ विरोधी कार्यप्रणाली के ठीक विपरीत कांग्रेस सरकार द्वारा अब प्रदेश की अर्थव्यवस्था के केन्द्र में अब गांव, सुराजी गांव योजना के माध्यम से नरवा-गरवा-घुरवा-बाड़ी का विकास किया जा रहा है। गाय और मवेशियों के संवर्धन के लिये कांग्रेस सरकार ने हरेली से गोधन न्याय योजना शुरू करने का फैसला लिया है। गोबर की दर का निर्णय कैबिनेट की बैठक में लिया जायेगा। किसानों को उपज की सही कीमत दिलाने तथा उत्पादन के लिये प्रोत्साहित करने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से 19 लाख किसानों के खातों में 5750 करोड़ रूपए सीधे डाले जाएंगे। 1500 करोड़ रूपए की पहली किस्त जारी भी की जा चुकी है। दूसरी किस्त 20 अगस्त को जारी की जायेगी। राजीव गांधी न्याय योजना के दूसरे चरण में भूमिहीन कृषि मजदूरों को भी योजना में शामिल करने का निर्णय लिया है। इसी प्रकार वनोपज संग्रहण करके अपनी आजीविका चलाने वाले जंगलों में रहने वालों की बेहतरी के लिये कांग्रेस सरकार काम कर रही है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सिलसिलेवार गांव, गाय किसान और मजदूरों के हित में छत्तीसगढ़ सरकार के फैसलों को जारी करते हुये कहा है कि गांवों की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाकर समृद्ध, शक्तिशाली छत्तीसगढ़ बनाने के लिये मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार काम कर रही है।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार गांव, गाय और किसान के लिये 18 महिने में अनेक प्रमुख कार्य किये हैसुराजी गांव योजना के तहत प्रथम चरण में 1300 नालों का उपचार, 704 ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत भवन निर्माण की स्वीकृति, मिनीमाता अमृत धारा योजना से अब तक 40 हजार 831 परिवारों को मुफ्त घरेलू नल कनेक्शन, 2310 हाट बाजारों में 9 लाख 40 हजार ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिला, 65 लाख 22 हजार राशन कार्डधारी, अनुसूचित जनजाति बाहुल्य इलाकों में प्रति परिवार 2 किलो चना, 2 किलो गुड़, मनरेगा जॉबकॉर्डधारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार देने में देश में शीर्ष पर, 2200 गांवों में गौठानों का निर्माण पूर्ण, गौठान समितियों को प्रतिमाह 10 हजार का अनुदान, 1 हजार 176 बायोगैस संयंत्र के स्थापना का भी लक्ष्य, सब्जी और फलों की घर पहुंच सेवा के लिए ऑनलाइन सीजी हाट पोर्टल, लाख की खेती को अब कृषि का दर्जा, इंद्रावती नदी पर 22 हजार 653 करोड़ की बोधघाट बहुद्देशीय परियोजना का काम आगे बढ़ा, खरीफ सीजन में किसानों को 4600 करोड़ रूपए का ऋण, कृषक जीवन ज्योति योजना के तहत 5 एच.पी. तक के कृषि पंपों को निःशुल्क, बेमेतरा, जशपुर, धमतरी एवं अर्जुन्दा, जिला बालोद में उद्यानिकी महाविद्यालय तथा लोरमी में कृषि महाविद्यालय की स्थापना जैसे प्रमुख कार्य किये है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*अनुपम खेर का परिवार कोरोना की चपेट में,माँ भाई सहित घर के अन्य का रिपोर्ट पॉजिटिव*

रायपुर-(ब्यूरो)बॉलीवुड के महानायक अभिनेता अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब बॉलीवुड के अभिनेता अनुपम खेर की मां और भाई समेत परिवार के 4 लोग भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं,आज अनुपम खेर ने (रविवार) सुबह ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।जानकारी के मुताबिक कुछ दिनों से अभिनेता अनुपम की माँ को हल्का बुखार और भूख नही लगने की शिकायत थी,जिसके बाद उनको जांच करवाया गया और रिपोर्ट पॉजिटिव आया।अनुपम के भाई राजू और उनकी पत्नी की जांच रिपोर्ट भी जानकारी के मुताबिक पॉजिटिव है।हालांकि अनुपम की की रिपोर्ट निगेटिव है,अनुपम ने वीड‍ियो में जानकारी दी है।
ब्यूरो रिपोर्ट 


*कांग्रेस ने भाजपा से पूछे सवाल,विगत एक साल से भाजपा के 9 निर्वाचित सांसद कहा है*

भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया,भाजपा बताएं जनता इन 9 सांसदों ने छत्तीसगढ़ के लिए क्या किया है?
रायपुर। भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने को नवनिर्वाचित राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी के बारे में पूछने से पहले छत्तीसगढ़ की जनता को बताना चाहिए कि विगत 1 साल से भाजपा के 9 निर्वाचित सांसद कहां है? कोरोना महामारी आपातकाल में रोजी रोजगार के गंभीर संकट से जूझ रहे गरीब, मजदूर, किसानों, महिलाओं, छात्रों को भाजपा सांसदों ने क्या मदद पंहुचाई हैं? छत्तीसगढ़ में कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए किए गए उपाय में भाजपा सांसदों का क्या योगदान है? भाजपा सांसदों ने तो सांसद निधि से आम लोगों को मदद करने के बजाय मोदी-शाह को खुश करने के लिए पीएम केयर्स फंड में दान कर दिया?

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी ने राज्य के प्रवासी मजदूरों के सकुशल घर वापसी के लिए मोदी सरकार को पत्र लिखकर स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग की, लेकिन भाजपा के राज्यसभा सदस्य और सांसद मौन थे? राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी ने कोरेना महामारी के उपचार कर रहे डॉक्टरों के लिए पीपीई किट एवं N95 मास्क एवं ग्लोब्स की व्यवस्था की। केटीएस तुलसी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में छत्तीसगढ़ को शामिल करने की मांग की। इस विषय पर भी अब तक भाजपा के सांसद और राज्यसभा सदस्य मौन धारण किए हुए हैं? राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में कोरोना पीड़ितों के सहयोग के लिए मदद किए।
भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने को कांग्रेस के सक्रिय सांसदों और राज्यसभा सदस्यों पर उंगली उठाने से पहले भाजपा के निष्क्रिय सांसद और राज्यसभा सदस्यों के बारे में जनता को बताना चाहिए। महामारी संकटकाल में भी भाजपा सांसदों और राज्यसभा सदस्यों से छत्तीसगढ़ की जनता को किसी प्रकार सहायता, मदद नहीं मिला है। केंद्र सरकार के द्वारा निरंतर किए जा रहे छत्तीसगढ़ के साथ भेदभाव अन्याय पर भी भाजपा सांसद मूकदर्शक है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*विधि प्रकोष्ठ द्वारा विधायक विकास उपाध्याय और महापौर एजाज ढेबर को कोरोना योद्धा सम्मान*

विधि प्रकोष्ठ द्वारा विधायक विकास उपाध्याय और महापौर एजाज ढेबर को कोरोना योद्धा सम्मान

रायपुर- एआईसीसी के निर्देशानुसार, कांग्रेस विधि विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद माननीय श्री विवेक तंखा जी की मंशा के अनुरूप छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस विधि, मानव अधिकार और आरटीआई प्रकोष्ठ के द्वारा कोरोना काल में छत्तीसगढ़ में उत्कृष्ट कार्य करने वाले जनप्रतिनिधियों को सम्मानित करने का निर्णय लिया गया है! विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष संदीप दुबे की अध्यक्षता में गठित कमेटी के द्वारा छत्तीसगढ़ के दो विधायक और तीन महापौर को उक्त कोरोना योद्धा पुरस्कार हेतु चुना गया है! इसी कड़ी में आज रायपुर पश्चिम के युवा और जुझारू विधायक विकाश उपध्याय जी को कोरोना महामारी काल में तन मन धन से 24 घंटा जनसेवा करने के लिए कोरोना वारियर के सम्मान से सम्मानित किया गया! इस अवसर पर मुख्य रूप से संदीप दुबे प्रदेश अध्यक्ष विधि प्रकोष्ठ, उपाध्यक्ष डॉक्टर देवा देवगन, प्रदेश सचिव नन्दकुमार पटेल, अरमान खान, महासचिव एवं मीडिया प्रभारी सुरेंद्र वर्मा, जिला अध्यक्ष (ग्रामीण) श्रीमती कहकशा दानी, सचिव,दाऊलाल साहू , मनोज सोनकर, अंकित मिश्रा, महेंद्र देवांगन अजय गंगवानी सहित अन्य अधिवक्तागण उपस्थित रहे

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा प्रवक्ता के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया,सच्चिदानंद उपासने अपना अनुभव बता रहे है विधानसभा और महापौर की टिकट उनको कैसे मिली थी*

भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया,भाजपा की संस्कृति और संस्कार में है पैसों का खेल : नहीं मिलता है संगठन में भी पद बिना लेन-देन

रायपुर- भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि दरअसल वे अपनी पार्टी भाजपा का अपना अनुभव बता रहे है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि सच्चिदानंद उपासने अपना अनुभव बता रहे हैं कि उन्हें भाजपा से विधानसभा एवं महापौर की टिकट कैसे मिली थी? भाजपा की संस्कृति और संस्कार में ही लेन-देन खरीद-फरोख्त है। उपासने के बयान से लगता है कि लोकमान्य गृह निर्माण सोसायटी की गड़बड़ियां एवं बेवरेज कॉरर्पारेशन के अध्यक्ष रहते स्वयं के घर के एक हिस्से को शराब दुकान के लिए किराए पर देने जैसे निम्नस्तरीय कृत्य उन्होने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को पैसा पहुंचाने के लिये ही किया है। पूर्व रमन शासनकाल में भाजपा के नेताओं आकंठ तक भ्रष्टाचार किया, कमीशनखोरी की, गड़बड़ियां की, जनता की गाढ़ी कमाई को भाजपा के केंद्रीय नेताओं के सत्कार पर खर्च किया। सरकार बदलने के बाद रमन सरकार के घोटाले उजागर हुए हैं। अब निगम मंडल में नई नियुक्ति होने से भाजपा नेताओं की गड़बड़ियां, घोटाले उजागर होगी। इस बात से भाजपा डरी हुई है। भाजपा में तो संगठन के बड़े पदों की नियुक्ति की भी बोली लगती है, नीलामी होती है। 15 साल के रमन शासनकाल के दौरान हुई नियुक्तियों को लेकर भाजपा के भीतर का गुस्सा विरोध किसी से छिपा नही है। उपासने बताये कि भाजपा के कार्यकर्ता भाजपा प्रभारी को सौदागर सिंग क्यों कहते थे? भाजपा में 90 महलों का राजा किसको कहा जाता है? बड़े-बड़े धन्ना सेठ साहूकारों को रमन सिंह ने आयोग मंडल के अध्यक्ष क्यों बनाया?
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम कांग्रेस जनों को आयोग निगम मंडल में नियुक्ति देने जा रहे हैं। इससे भाजपा बौखला चुकी है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*रायपुर,राजधानी में दो लोगो के हत्या,के बाद क्षेत्र में सनसनी,जांच में जुटी पुलिस*

रायपुर-राजधानी में दो लोगों की हत्या के बाद सनसनी फैल गई है। रायपुर के करीब खम्हरिया गांव में दो लोगों की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई है। जानकारी लगते ही मौके पर मंदिरहसौद पुलिस के साथ रायपुर के आलाधिकारी पहुंचे हैं। पुलिस अब स्थानियों से पूछताछ कर रही है।मंदिर हसौद थाना प्रभारी सोनल ग्वाला के मुताबिक मृतकों की पहचान कर ली गई है।मृतकों में एक 25 वर्षीय युवक है, जिसका नाम उल्लास वर्मा है।वहीं दूसरा 55 वर्षीय अधेड़ परमानंद निषाद है।दोनों की हत्या तालाब के पास लोहे के भारी हथियार से की गई है।बताया जा रहा है कि आरोपी और मृतकों के बीच विवाद हुआ था।आरोपी गांव के ही रहने वाले है। पुलिस ने आरोपी की पहचान कर ली गई है।घटना के बाद से आरोपी फरार बताए जा रहे है, जिसकी पुलिस तलाश में जुट गई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*राज्य शासन ने नए सिरे से जिले के प्रभारी सचिवों की नियुक्ति की है,देखिएmornews*

रायपुर- राज्य शासन ने नए सिरे से जिलों के प्रभारी सचिवों की नियुक्ति की गई है। सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में मंत्रालय महानदी भवन से आदेश जारी कर दिया है। आदेश के मुताबिक प्रभारी सचिवों को माह में कम से कम एक बार अपने प्रभार जिले का दौरा कर राज्य शासन की योजनाओं की समीक्षा करने के निर्देश दिए गए हैं। प्रभारी सचिव हर जिले के दौरे के संबंध में संक्षिप्त ब्यौरा प्रतिमाह मुख्य सचिव को प्रस्तुत करेंगे। राज्य शासन ने अपर मुख्य सचिव रेणु जी पिल्ले को जिला धमतरी, प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ को जिला सरगुजा व बलरामपुर और प्रमुख सचिव डॉ. मनिन्दर कौर द्विवेदी को महासमुन्द व गरियाबंद जिले का प्रभारी सचिव नियुक्त किया है। सचिव डॉ. एम. गीता को जिला बेमेतरा व कबीरधाम, निहारिका बारिक को जिला बिलासपुर, सोनमणि बोरा को जिला बस्तर,डीडी सिंह को जिला दंतेवाड़ा, टीसी महावर को जिला गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही,रीता शांडिल्य को जिला मुंगेली, परदेशी सिद्धार्थ कोमल को जिला दुर्ग, अविनाश चंपावत को जिला बलौदाबाजार-भाटापारा व रायपुर,निरंजन दास को जिला जांजगीर-चांपा, प्रसन्ना आर. को जिला राजनांदगांव, उमेश अग्रवाल को जिला बालोद,अंबलगन पी. को जिला कोरबा, अलरमेलमंगई डी. को जिला रायगढ़,धनंजय देवांगन को जिला कांकेर का प्रभारी सचिव नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार संचालक पी. दयानंद को जिला सूरजपुर, नीरज बंसोड को जिला सुकमा, संयुक्त सचिव नरेन्द्र दुग्गा को जिला कोरिया, प्रियंका शुक्ला को जिला नारायणपुर व कोण्डागांव, आयुक्त डॉ. तंबोली अय्याज फकीर भाई को जिला बीजापुर और संयुक्त सचिव भोस्कर विलास संदीपान को जिला जशपुर का प्रभारी सचिव बनाया गया हैै। 

ब्यूरो रिपोर्ट