*कांग्रेस का भाजपा पर आरोप,सांसद सुनील सोनी जिस विचारधारा से आते है,जिसका कमीशनखोरी भृष्टाचार का जन्मजन्मांतर का नाता है-कांग्रेस प्रवक्ता*

आजादी के पहले गांधी मैदान में स्थित कांग्रेस भवन छेरछेरा पुन्नी के दिन स्वतंत्रता सेनानियों, किसान मजदूर शिक्षक छात्रों महिलाओं के दान से बनाराजीव भवन कांग्रेस मुख्यालय का निर्माण भी कार्यकर्ताओ आमजनता के सहयोग से जनता के सहयोग से ही अन्य जिलों में बनेगा कांग्रेस भवन।

रायपुर- भाजपा सांसद सुनील सोनी के बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि सांसद सुनील सोनी दिल्ली और रायपुर में बने भाजपा मुख्यालय के निर्माण का अनुभव का बखान कर रहे हैं। रमन सरकार के दौरान हुई नान घोटाला ,मोबाइल लेपटॉप घोटाला,चरण पादुका घोटाला पीडब्ल्यूडी घोटाला, परिवहन विभाग का घोटाला कृषि विभाग घोटाला,दवाई घोटाला,शिक्षा विभाग घोटाला,आबकारी विभाग घोटाला,सरस्वती सायकल वितरण घोटाला, चना नमक घोटाला की भ्रष्टाचार कमीशन खोरी और शराब की काली कमाई से रायपुर में कुशाभाऊ ठाकरे परिसर और दिल्ली में भाजपा के सात माले के मुख्यालय का निर्माण हुआ है। सांसद सुनील सोनी जिस विचारधारा से आते हैं उस विचारधारा से कमीशनखोरी भ्रष्टाचार और कालेधन का जन्म जन्मांतर से नाता है। आजादी के लड़ाई के दौरान भी जब देशवासी फिरंगियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे थे तो कुछ लोग चंद पैसों के लिए अंग्रेजों के साथ खड़े हुए थे मुखबिरी कर रहे थे। छत्तीसगढ़ की जनता ने पूर्व के रमन सरकार के कैबिनेट की बैठक में शराब के 1500 करोड़ की कमीशन की राशि को लेकर रमन सरकार के कैबिनेट मंत्रियों की लड़ाई को देखा है।जो अखबारों की सुर्खियां रही।रमन के मंत्री पूछते रहे कि शराब की कमीशन की 1500 करोड़ किस खाते में जाएंगे स्पष्ट हो गया है कि 15 00 करोड़ रुपए के शराब के कमीशन से भाजपा के मुख्यालयों का निर्माण हुआ है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि आजादी के पहले में छेरछेरा पुन्नी के दिन गांधी मैदान में स्थित कांग्रेस भवन का निर्माण स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पत्रकार किसान मजदूर महिलाएं छात्रों के दान से सहयोग से हुआ था। ऐतिहासिक भवन आजादी की लड़ाई का साक्षी है ठीक वैसे ही कांग्रेस जब सत्ता में नहीं थी तब शंकर नगर में स्थित राजीव भवन कांग्रेस मुख्यालय का निर्माण कांग्रेस कार्यकर्ताओ एवं आम जनता के सहयोग से संपन्न हुआ और छत्तीसगढ़ के अन्य जिले जहां कांग्रेस भवन नहीं है वहां भी कांग्रेस भवन का निर्माण कार्यकर्ताओ और आम जनता के सहयोग से ही संपन्न होगा। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि सांसद सुनील सोनी जाने अनजाने में दिल्ली और रायपुर में बने भाजपा मुख्यालय के निर्माण में लगी काली कमाई का पोल खोल दिया है।गरीबों किसानों मजदूरों महिलाओं के नाम से योजना बनाकर रमन सरकार ने भ्रष्टाचार कर कुशाभाऊ ठाकरे परिसर का निर्माण किया।भाजपा के नेता कुशाभाऊ ठाकरे परिसर को अशुभ मानते हैं वहां वास्तु दोष बताते हैं। असल में गरीबों किसानों मजदूरों को तड़पा कर बनाई गई कुशाभाऊ ठाकरे परिषद भाजपा मुख्यालय को गरीबों की बद्दुआ और हाय लगी है । जिसका दुष्परिणाम भाजपा को अनंत काल तक भोगना पड़ेगा।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*प्रदेश में एक बार फिर कोरोना मरीज मिलने की पुष्टि,कुल एक्टिव केस 834 हुई*

बिलासपुर:-एक बार फिर कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की पुष्टि हुई है, यह सभी अलग-अलग जिले में पाए गए हैं। जानकारी के मुताबिक कांकेर से 5, बेमेतरा और कोरिया से 3,3 ,मरीज मिलने की खबर आई है।अब प्रदेश में कुल एक्टिव कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या 834 हो गई है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*कमीशन खोरी के अभाव में तड़प रही है भाजपा-कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह*

रायपुर-प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने एक बयान जारी करके यह आरोप लगाया है कि 15 सालों तक प्रदेश में जमकर कमीशन खोरी भ्रष्टाचार और उगाही करने वाले लोग अब बिना सत्ता के वैसे ही तड़प रहे हैं जैसे बिना पानी के मछली तड़पती है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की कुर्सी संभालते ही विष्णुदेव साय द्वारा यह बयान देना कि अगर आज चुनाव हो जाए तो प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी, स्पष्ट इशारा करता है कि भारतीय जनता पार्टी के मन में जनता की सेवा भावना नहीं बल्कि सत्ता पाने का लालच कूट कूट कर भरा है। विष्णुदेव साय को तो प्रदेश की जनता को यह बताना चाहिए कि 5 वर्ष तक केंद्र सरकार में मंत्री रहने के दौरान उनकी उपलब्धियां क्या रही। उन्होंने अपने पूरे कार्यकाल में छत्तीसगढ़ राज्य के लिए क्या किया। दो बार प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रहने के बावजूद आखिर इस प्रदेश की जनता उन्हें पहचानती तक नहीं है। उनकी किस योग्यता को आधार मानकर भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें छत्तीसगढ़ भाजपा का अध्यक्ष बनाया है। क्या यह सही नहीं है कि उनकी पहचान डॉ रमन सिंह के मुखौटा अध्यक्ष के रूप में है? क्या यह सही नहीं है कि वे डॉ रमन सिंह के रिमोट कंट्रोल द्वारा संचालित होते हैं? क्या यह सही नहीं है कि उनकी नियुक्ति को लेकर प्रदेश भाजपा के दूसरे बड़े नेता नाराज चल रहे हैं जिन्होंने कल एकात्म परिसर से दूरी भी बना ली थी?

जिस दिन विष्णुदेव साय को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बनाने की घोषणा हुई थी उसी दिन भारतीय जनता पार्टी के अनेक जिम्मेदार नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास जमकर निकाली थी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को अगले कार्यकाल के लिए भी शुभकामनाएं और बधाइयां दे डाली थी। बेहतर होगा कि विष्णुदेव साय भारतीय जनता पार्टी में गुटबाजी के दलदल और चरण वंदना से पहले निपट लें फिर कांग्रेस के सामने चुनौती पेश करें। कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने भाजपा अध्यक्ष से यह सवाल भी पूछा है की प्रदेश में जीत यानी विक्ट्री को तरस रही भारतीय जनता पार्टी क्या महज संयोग से ही ऐसे नेताओं को प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी दे रही है जिनके नाम अंग्रेजी के वी अक्षर से आते हैं। जैसे विक्रम उसेंडी और अब विष्णुदेव साय अगर यह कोई टोटका है तो यह टोटका भाजपा को मुबारक हो। यह मसला भाजपा के उन वरिष्ठ नेताओं के लिए अवश्य चिंतनीय होगा जिनके नाम अंग्रेजी के वी अक्षर से नहीं आते हैं। आर पी सिंह ने विष्णुदेव साय को सलाह दी है कि घमंड और झूठ से भरे थोथे बयान देने के बजाय अपनी उर्जा भाजपा की गुटबाजी को समाप्त करने में लगाकर प्रदेश की जनता के जनादेश के अनुसार सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभायें। राजनीति चुनाव के समय कर लेंगे । अभी सबको मिलकर गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को तेजी से साकार करने के लिये काम करने की जरूरत है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*एक बार फिर अलग-अलग जगहों पर मिले कोरोना के 52 मरीज प्रदेश में आंकड़ा पहुँचा712 तक*

रायपुर- प्रदेश में अभी-अभी 52 और नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है। इसमें कबीरधाम से 28, रायपुर से 11, दुर्ग से 6, रायगढ़ से 3, मुंगेली से 2, जशपुर से 1 और बिलासपुर से 1 मरीज शामिल है। अब प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 712 है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*पीएम केयर फंड से मदद की उम्मीद दूर के ढोल सुहावने की तरह,मजदुरो को नही चंद उधोगपति को मिलेगा लाभ-कांग्रेस*

रायपुर- कोरोना महामारी काल में मदद करने के बजाये कोरी बयानबाजी और निराधार आरोपों की राजनीति कर रहे भाजपा को कांग्रेस ने कड़ा जवाब दिया प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि संकट काल में भाजपा ने अपने 9सांसदों,राज्यसभा सदस्य, पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व मंत्रियों, विधायको और भाजपा के कार्यकर्ताओं सहित आम जनता से फंड लेकर पीएम केयर फंड में 125 करोड़ से अधिक की राशि जमा कराई।छत्तीसगढ़ के खनन एवं औद्योगिक इकाइयों की सीएसआर की फंड की राशि भी ले ली गई।छत्तीसगढ़ से पीएम केयर फंड में हजार करोड़ से अधिक की राशि जमा हुई। लेकिन पीएम केयर फंड से राहत के नाम पर छत्तीसगढ़ के मजदूर किसान गरीब रिक्शा चालक ठेला चालक छोटे उद्यमियों व्यापारियों मध्यमवर्गीय परिवार को फूटी कौड़ी की भी मदद नहीं मिलना दुर्भाग्यजनक है। कोरोना महामारी संकटकाल में गरीबो की मदद के लिए दान लेने बनाई गई पीएम केयर फंड से मदद की उम्मीद करना दूर के ढोल सुहावने की तरह है। जैसे अच्छे दिन आएंगे? लेकिन कब कह पाना मुश्किल है ठीक वैसे ही है पीएम केयर फंड से मदद मिलेगी पर कब? किसे? कैसे ?ये किसी को पता नही है।ऐसा लगता है पीएम केयर फंड को भाजपा अपने संगठन कोष की तरह इस्तेमाल कर रही है।चंद भाजपा समर्थित उद्योगोपतियों को कोरोना काल में आम लोगों को सुविधा मुहैया कराने के नाम से लाभ पहुँचा रही है।पीएम केयर फंड में छत्तीसगढ़ से राशि तो लिया गया लेकिन छत्तीसगढ़ के लिए मदद राशि जारी नहीं की गई ऐसा लगता है पीएम केयर फंड के केयर में छत्तीसगढ़ का केयर करना नहीं है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा भाजपा से बेहतर तो मनरेगा के मजदूर निकले मनरेगा में श्रम कर मजदूरी की 22100 की नगद राशि जरूरतमंदों की मदद के लिए सीएम रिलीफ फंड में दे दी।मनरेगा के मजदूर भी कठिन समय मे अपने सामाजिक दायित्व को समझते हैं,तकलीफों में साथ खड़ा होने का हौसला रखते ताकत देते है।लेकिन भाजपा के नेताओ में वो जज्बा नही दिखा।कोरोना महामारी काल मे भी भाजपा खाली झूठी निराधार आरोप मढ़कर बयानबाजी ही करते रहे गई।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि संकट काल में राजनीति करने के बजाय मदद करने सामने आएं जिस प्रकार से आम जनता से वोट की उम्मीद करते हैं उसी प्रकार आम जनता भी भाजपा के सांसद विधायकों से मदद की उम्मीद कर रही है नरेंद्र मोदी जी को दूसरी बार प्रधानमंत्री के गद्दी में बिठाने में भी छत्तीसगढ़ की जनता का महत्वपूर्ण योगदान है भाजपा के नेता राज्य सरकार पर झूठी मनगढ़ंत निराधार आरोप लगाने से बाज आए छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता भाजपा के चाल चरित्र गरीब किसान मजदूर विरोधी नीतियों को समझ चुकी है। मोदी भाजपा के गलत नीतियों के कारण आज देश भर की 135 करोड़ जनता घरों में बंद रहने मजबूर है 20 लाख करोड़ की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है रोजी रोजगार व्यापार व्यवसाय सब ऑक्सीजन पर है। भाजपा नेता झूठ बोलकर निराधार आरोप लगाकर महामारी को फैलने से रोकने में असफल हुई मोदी सरकार की गलतियों को सुधार नहीं सकते।

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा के लिए ये प्रायश्चित का समय,बयानबाजी का नही-कांग्रेस*

रायपुर- छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भारत में यदि कोरोना ने महामारी का रूप लिया है तो इसका दोष भारतीय जनता पार्टी और उसकी सरकार को है. इसलिए भाजपा को चाहिए कि वे शर्मिंदगी महसूस करें और मीनमेख निकालने की जगह जहां संभव हो सेवा करें. यही उनका प्रायश्चित है।
उन्होंने कहा है कि भाजपा ने न केंद्र के स्तर पर लोगों की सहायता की और न राज्य के स्तर पर. भाजपा के लोग सिर्फ़ कमी तलाश करने की नाकाम कोशिशों में लगे रहे. अब जबकि छत्तीसगढ़वासी दुख और पीड़ा झेलते हुए अपने घर वापस आ गए हैं, भाजपा के लोगों को उनकी सुध लेनी चाहिए और थोड़ी बहुत सेवा कर लेनी चाहिए.
कोरोना संक्रमण पर उन्होंने कहा कि यदि केंद्र की भाजपा सरकार ने समय रहते एयरपोर्ट बंद कर दिए होते, जांच शुरु कर दी होती तो विदेशों से आने वाले लोगों को बीमारी फैलाने से रोका जा सकता था. लेकिन मोदी सरकार को ‘नमस्ते ट्रंप’ में लगी रही. फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना सोच विचार किए, बिना सलाह मशविरा किए लॉकडाउन करके मज़दूरों की हालत ख़राब कर दी और उन्हें पीड़ा, प्रताड़ना और भूख झेलने पर मजबूर कर दिया. करोड़ों मज़दूर सड़कों पर पैदल चलते घर के लिए निकलने के लिए बाध्य हुए. न भाजपा सरकार ने उनका किराया दिया और न राशन पानी की व्यवस्था की.
शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की सरकार बिना केंद्र की सहायता के मज़दूरों और बाहर से लौटे छत्तीसगढ़वासियों की सहायता कर रही है. बाहर से लौटे लोगों को उनके गांवों में ही क्वारेंटीन सेंटर में रखा गया है. सरकार ने बहुत सोच विचार करके क्वारेंटीन सेटरों की व्यवस्था सरपंचों और ग्रामवासियों को सौंपी है और प्रशासन की भूमिका सुविधाएं जुटाने तक रखी है. ऐसे में भाजपा के लोग यदि शिकायत कर रहे हैं तो वे छत्तीसगढ़वासियों को ही दोष दे रहे हैं. उन्होंने कहा है कि जहां सुधार की आवश्यकता महसूस हो रही है वहां भाजपा के लोगों को सुझाव देने चाहिए, सहायता तो वे न केंद्र में कर रहे हैं और न प्रदेश में. भाजपा निहित राजनैतिक स्वार्थ के लिए गांव की व्यवस्था में मीनमेख निकलने और विघ्न डालने की कोशिश न करे.
उन्होंने कहा है कि भाजपा द्वारा अपने बयानों में इन मजदूर भाइयों के लिये जिस भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है कांग्रेस उसकी कड़ी निंदा करती है 
ब्यूरो रिपोर्ट


*अब सप्ताह में 6 दिन खुलेंगी दुकाने कलेक्टर ने जारी किया आदेश*

 राजनांदगांव-कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर नगर निगम राजनांदगांव क्षेत्र में सप्ताह के 6 दिन सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक ही दुकानों को खुले रखने का आदेश जारी किया गया है यह आदेश कलेक्टर द्वारा जारी किया गया है।इस आदेश में बताया गया कि वर्तमान में राजनांदगांव नगरी निकाय अंतर्गत शंकरपुर क्षेत्र में सामुदायिक संक्रमण के माध्यम से एक व्यक्ति तथा मोतीपुर क्षेत्र में एक अन्य कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति पाए गए हैं जिस कारण वर्तमान में कोरोना संक्रमण में फैलाव की स्थिति को देखते हुए यह परिवर्तन किया जा रहा है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*युवती का एमएमएस बना लगातार कर रहा था ब्लैकमेल,युवक पर मामला दर्ज*

युवती का एमएमएस बना लगातार कर रहा था ब्लैकमेल।
आरोपी के मोबाइल शॉप में हुई थी मुलाकात, होटल में संबंध बनाकर बनाया एमएमएस।

रायपुर-युवती का अश्लील एमएमएस बनाकर धमकी देने का मामला एक बार फिर देखने को मिल रहा है। इस प्रकार की आपराधिक घटनाएं निरंतर ही देखने को मिल रही हैं। इस मामले पीड़िता को आरोपी द्वारा अश्लील तस्वीरों के जरिए ब्लैकमेल किया जा रहा था।
पीड़िता पेशे से फैशन डिज़ाइनर है। और आरोपी युवक का रायपुर के डीडी नगर में मोबाइल शॉप है जहां इन दोनों की मुलाकात हुई थी। मुलाकात के बाद इन दोनों में प्रेम प्रसंग की शुरुआत हुई। जिसके बाद युवक ने पीड़िता को एक होटल में मिलने बुलाया जहां दोनों के बीच संबंध स्थापित हुआ। जिसका अश्लील एमएमएस बनाकर लगातार कर अखिल सूर्यवंशी नामक युवक पीड़िता को लगातार 5 सालों से ब्लैकमेल कर रहा था।
युवती ने तंग आकर गोल बाजार थाने में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पीड़िता की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी अखिल सूर्यवंशी के खिलाफ आइपीसी 67, 376, 506 और 509 के तहत अपराध दर्ज किया है। फिलहाल आरोपी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*भाजपा नेताओं को क्वारन्टीन सेंटर का निरीक्षण करना भारी पड़ा,4 पूर्व विधायक सहित अन्य पर मामला दर्ज*

भाजपा नेताओं को बिना अनुमति क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण करना पड़ा भारी।
4 पूर्व विधायक सहित अन्य भाजपा नेता के ख़िलाफ़ मामला दर्ज।

महासमुंद।- बिना अनुमति के क्वारंटाइन सेंटर का निरीक्षण करना भाजपा नेताओं को भारी पड़ गया है। अब जिला प्रशासन ने सभी नेताओं का रैपिड किट टेस्ट कराया है और सभी को होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई है।
दरअसल सरायपाली के केलेंडॉ क्वारंटाइन सेंटर में भाजपा नेता पहुंचे हुए थे। जिसमें 04 पूर्व विधायक, तीन मंडल अध्यक्ष और कुछ कार्यकर्ता शामिल थे। सभी होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। गांव के कोटवार की शिकायत पर सभी पर महामारी अधिनियम की धारा 188, 34 के तहत मामला भी दर्ज किया गया है। भाजपा जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक रूपकुमारी चौधरी, डॉ विमल चोपड़ा, रामलाल चौहान, त्रिलोचन पटेल सहित अन्य भाजपा नेताओं के ख़िलाफ़ सिंघोडा थाना में मामला दर्ज किया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*कोरोना पॉजिटिव 18 नए मरीज सामने आए,देखिए रिपोर्ट*

Breaking News : कोरोना पॉजिटिव 18 नए मरीज आए सामने।
सूरजपुर में मिला पॉजिटिव केस 12 मरीज किए जा रहे डिस्चार्ज।

रायपुर।-छत्तीसगढ़ में आज कोरोना के नए 18 मरीज मिले हैं। जिनमे बलौदाबाजार में 14, कोरबा में 3, सूरजपुर में 1 मरीज शामिल है. जिसके बाद एक्टिव मरीज की संख्या 684 पहुंच चुकी है। वही 12 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए जा रहे हैं। इससे पहले सरगुजा में 5 नए मरीज मिले थे जो कि मुंबई से आए हुए प्रवासी मजदूर थे। में एक महिला भी शामिल थी। सरगुजा संभाग में भी निरंतर कोरोना के नए मामले सामने आते जा रहे हैं। जिनमें कोरिया, सूरजपुर, सरगुजा, बलरामपुर और जसपुर शामिल है। 


*महाराष्ट्र से लौटे थे सरगुजा में मिले 5 पॉजिटिव 2 महिला और 3 पुरूष है सामिल*

अम्बिकापुर।- प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। बीते शुक्रवार को प्रदेश के अलग अलग जिलों में मिले मरीज़ों को मिलाकर एक ही दिन में रिकॉर्ड 127 नए मरीज़ मिले। इसमें सरगुजा जिले के भी 05 कोरोना पॉजिटिव मरीज़ शामिल हैं।
बता दें कि सरगुजा में मिले मरीज़ों में उदयपुर क्वारंटाइन सेंटर में ठहरे 03 प्रवासी मजदूर हैं। इनमें एक महिला भी शामिल है। इनका प्राइमरी कांटेक्ट पता कर इन्हें कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में भर्ती कराया गया है।
गौरतलब है कि रायपुर से शुक्रवार की देर रात आई रिपोर्ट के अनुसार कोरोना के सरगुजा जिले में 5 पॉजिटिव केस मिले हैं। ऐसे में यहां संक्रमितों की संख्या बढक़र 14 हो गई है।
हालांकि इसमें से 05 स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। ऐसे में अब एक्टिव केस की संख्या 09 बची है। देर रात आई रिपोर्ट के अनुसार सभी पॉजिटिव मरीज प्रवासी मजदूर हैं तथा उदयपुर के 02 क्वारेंटाइन सेंटर ग्राम सलका और दावा में रह रहे थे। ये मजदूर महाराष्ट्र, उड़ीसा व विशाखापट्टन से कुछ दिन पहले ही लौटे थे। इसके बाद प्रशासन व स्वास्थ्य अमले द्वारा उन्हें क्वारंटाइन किया गया था..। महिलाओं की उम्र 30 व 50 है.. और पुरुषों की उम्र 21, 24, 32 है।
05 मजदूरों की पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही स्वास्थ्य अमला रात में ही सजग हो गया। उनका प्राइमरी कांटेक्ट पता कर सभी को कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में भर्ती कराया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*कांकेर में बीएसएफ के जवान ने सर्वीस राइफ़ल से गोली मारकर की खुदकुशी,नक्सली सर्चिंग से लौट रहा था कैम्प*

कांकेर- छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के नक्सल प्रभावित कांकेर (Kanker) जिले के पखांजूर में बीएसएफ (BSF) के प्रधान आरक्षक ने सर्विस राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है।
मृतक की पहचान बीएसएफ के 157वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक सुरेश कुमार के रूप में की गई है। बताया जा रहा है कि जवान अपनी टीम के साथ नक्सली सर्चिंग से वापस लौट रहा था। कांकेर के पुलिस अधीक्षक एमआर आहिरे ने घटना की पुष्टि की है
दरअसल, यह घटना पखांजूर के बीएसएफ कैंप संगम से 100 मीटर पहले का बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार बीएसएफ 157 बटालियन के प्रधान आरक्षक सुरेश कुमार अपनी टीम के साथ नक्सली सर्चिंग से वापस लौट रहे थे, तभी बीएसएफ कैंप से 100 मीटर पहले जवान सुरेश कुमार ने अपनी सर्विस राइफल AK-47 से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मृतक जवान हरियाणा के रहने वाला है।
कांकेर के पुलिस अधीक्षक एमआर आहिरे ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि बीएसएफ 157 बटालियन के प्रधान आरक्षक ने आज तड़के अपनी सर्विस राइफल से खुदकुशी कर ली, लेकिन जवान के आत्महत्या करने की वजह सामने नहीं आई है। इस मामले में पुलिस फिलहाल जांच में जुटी है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*8 कोविड पॉजिटिव लोगो को अब तक किसी कोविड अस्पताल में शिफ्ट नही किया जा सका है*

8 कोरोना पॉजिटिव लोगों को अब तक किसी भी कोविड हॉस्पिटल में शिफ्ट नही किया जा सका।

जांजगीर चाम्पा- जिले में  खोखसा के कोणार्क कालेज स्थित क़वारंटीन सेंटर में कल मिले 8 कोरोना पॉजिटिव लोगों को अब तक किसी भी कोविड हॉस्पिटल में शिफ्ट नही किया जा सका है। अधिकारी इस मामले ऑफ द रिकार्ड बताते हैं कि किसी उनके द्वारा कोरबा, बिलासपुर और रायपुर में संपर्क किया गया मगर कहीं भी बेड खाली नही होने का हवाला देते हुए पेशेंट को लाने की अनुमित नही दी गई। अब ये 8 कोरोना पॉजिटिव कोणार्क कालेज में हैं। आपको बता दें कि अब तक इस सेंटर से 18 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। गौरतलब है कि जिले में लंबे समय से बन रहा कोविड हॉस्पिटल अब तक पूरा नही हो सका है जिसका खामियाजा अब सामने आ रहा है। इस मामले में स्वस्थ्य संचालक ने संज्ञान लेते हुए 10 जून तक जांजगीर के निर्माणाधीन कोविड हॉस्पिटल को पूरा करने का निर्देश दिया। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*राजधानी के इस थांने को किया गया सील,प्रभारी सहित पूरे स्टाफ को किया गया क्वारन्टीन*

रायपुर- राजधानी रायपुर के मंदिर हसौद थाने को सील कर दिया गया है। थाना प्रभारी समेत पूरे स्टाफ को थाना परिसर में बने मकान में क्वारंटाइन किया गया है।
दरअसल थाने में पदस्थ एक पुलिसकर्मी पिछले दिनों कोरोना पॉजीटिव आया था, जिसके बाद आनन-फानन में थाना को सील कर दिया गया। थाना प्रभारी सभी स्टाफ को क्वारंटाइन करने के बाद जांच के लिए सभी का सैंपल लिया गया। जानकारी के मुताबिक थाना के कामकाज का पूरा जिम्मा विधानसभा थाना को सौंपा गया। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*कोरोना पीड़ित युवती की नही बच पाई जान,एम्स रायपुर में हुई मौत*

रायपुर-कोरोना से जंग लड़ रही 19 वर्षीय युवती आखिरकार 5 जून को मौत से हार गईं। एम्स के डॉक्टर तमाम प्रयासों के बावजूद युवती की जान नहीं बचा पाए. युवती ने शुक्रवार की रात 9.45 बजे एम्स रायपुर में अंतिम सांस ली. एम्स की ओर इस बात की जानकारी आज सुबह ट्वीट कर दी गई है।
जानकारी के मुताबिक मृतक युवती जगदलपुर की रहने वाली थी। जगदलपुर में तबियत खराब होने के बाद वह अपना इलाज रायपुर के एक निजी अस्पताल में करा रही थीं। लेकिन 1 जून को कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उसे एम्स में भर्ती किया गया था। एम्स में वो पिछले कुछ दिनों से वेंटिलेटर पर थीं।
आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में कोरोना से यह अधिकारिक तौर पर तीसरी मौत है। हालांकि कुछ अन्य लोगों ने भी कोरोना की वजह से दम तोड़ा है, लेकिन वे मौतें सरकारी रिकॉर्ड में शामिल नहीं है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*प्रदेश में कोरोना ऐक्टिव मरीजो की संख्या 661 पहुँची*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में आज अभी 22 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान की गई हैं। इनमें जिला सरगुजा और रायगढ़ से 5-5, जांजगीर से 8 व जशपुर से 4 मरीज शामिल है। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की कुल संख्या 661 हो गई है। शुक्रवार को अब तक मिले कोरोना पॉज़िटिव केस, प्रदेश में एक दिन में मिले पॉज़िटिव केस में सबसे अधिक है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*विधुत के मामले में सवेंदनशील मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सुशासन-कांग्रेस*

रायपुर-छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एम.ए.इकबाल ने बिजली बंद होने की स्थिति में क्षतिपूर्ति देने वाला देश का पहला राज्य बनने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बधाई दी।
छत्तीसगढ़ नियामक आयोग के मानकों के अनुसार 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरी क्षेत्रों में अप्रैल से जून की अवधि में 10 घंटे तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 20 घंटे बिजली बंद होने की स्थिति में ₹50 प्रतिदिन के हिसाब से उपभोक्ताओं को क्षतिपूर्ति देने का प्रावधान किया है। वहीं जुलाई से मार्च की अवधि में शहरों में 6 घंटे तथा गांव में 20 घंटे बिजली बंद होने पर छात्रवृत्ति प्रदान किए गए हैं, सन 2006 में नियामक आयोग में यह प्रावधान था परंतु 15 वर्ष के कुशासन, कमीशनखोरी के चक्कर में भाजपा जनता की सुविधाओं को भूल गई थी।

प्रवक्ता एम.ए. इकबाल ने आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री जिनके पास ऊर्जा विद्युत विभाग था उस समय उन्होंने ना तो बिजली बिल हाफ़ किया, ना तो विद्युत दर को बढ़ने से रोका, उद्योगों को राहत दी, ना अस्पताल- राइस मिलो की दरों में कमी की, ना सरचार्ज कम किया एवं सुविधा जो जनता को मिलनी चाहिए नहीं दी, बल्कि गलत बयानबाजी करते रहे कि बिजली बिल हाफ तो नहीं हुआ, बिजली हाफ हो गई। यह बिल्कुल बेबुनियाद, बेतुका बयान था। प्रवक्ता एम.ए. इकबाल ने आगे कहा कि जब से भूपेश बघेल की सरकार आई है, तब से अपने अल्प समय में किसान, गरीब और मजदूर वर्ग की तरफ चिंतन कर उनकी भलाई के लिए निरंतर प्रयास किया है और उसी दिशा में सकारात्मक सोच रखते हुए विभाग के कार्यों में पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से यह प्रावधान लाये गये हैं। विद्युत कटौती पर क्षतिपूर्ति का प्रावधान कर भाजपा नेताओं को करारा जवाब दिया गया है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*माना बस्ती कृषि उपजमंडी में चबूतरा निर्माण का वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा ने भूमि पूजन किया*

रायपुर- कृषि उपज मंडी माना बस्ती में “चबूतरा निर्माण” का भूमि पूजन रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनारायण शर्मा और पंचायत प्रतिनिधियों की गरिमामय उपस्थित में संपन्न हुआ। वरिष्ठ विधायक पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा ने कहा माना क्षेत्र के विकास में कोई कमी नही आएगी , प्रदेश शासन से क्षेत्र के विकास के लिए बजट में कोई कमी नही होने देंगे। 

ब्यूरो रिपोर्ट