*पूरे देश के साथ साथ छत्तीसगढ़ के लाखों लोग इंडिया स्पिक में लाइव हुए,राजीव भवन में कांग्रेस संचार विभाग से बी अनेक नेता लाइव से जुड़े

20 लाख करोड़ के कोरोना पैकेज से मोदी के चंद चहेते उद्योगपतियों की सहायता हुयी : सरकारी कंपनियां इन्हीं को बेचने का फैसला कोरोना पैकेज से है,मध्यम वर्ग, गरीबों, मजदूर, किसानो, रिक्शे, ठेले वालो, खोमचा वालो, आटो वालो, निजी नौकरी करने वालों, रोज कमाने खाने वालों को क्या मिला,मदद की जरूरत जिनको है उनको दी जाये

रायपुर-इंडिया स्पीक कार्यक्रम में पूरे देश के साथ-साथ छत्तीसगढ़ के लाखो लोग इंडया स्पीक में लाइव हुये। राजीव भवन में कांग्रेस संचार विभाग से भी अनेक नेता लाइव से जुड़े। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 20 लाख करोड़ के कोरोना पैकेज से मोदी के चंद चहेते उद्योगपतियों की सहायता हुयी : सरकारी कंपनियां इन्हीं को बेचने का फैसला कोरोना पैकेज से है। मध्यम वर्ग, गरीबों, मजदूर, किसानो, रिक्शे, ठेले वालो, खोमचा वालो, आटो वालो, निजी नौकरी करने वालों, रोज कमाने खाने वालों को क्या मिला? मदद की जरूरत जिनको है उनको दी जाये। आज फेसबुक लाइव में जाके हम कांग्रेस के लोगों ने 10 हजार रू. की तत्काल सहायता गरीबों को जरूरतमंदों को देने की मांग की है। इसके साथ-साथ 7500 रू. 6 महिनों तक गरीबों को देने की मांग हम केन्द्र की मोदी सरकार से करते है। 20 लाख करोड़ का पैकेज और इस पैकेज में गरीबों को क्या मिला? छोटे दुकानदारों को क्या मिला? मध्यम वर्ग को क्या मिला? रोज खाने वाले रोज कमाने वाले, निजी नौकरी करने वालों को क्या मिला? इन लोगो को आज पैसा दिया जाना समय की जरूरत है। जो मजदूर बेबसी में भूखे प्यासे बिना रोजी रोटी के अपनी गाढ़ी पूंजी गंवा के प्रदेश में फंसे हुये है, बाहर के प्रदेशों में फंसे हुये है। वे अपने घर, गांव और प्रदेश आना चाहते है, केन्द्र की मोदी सरकार तत्काल उन्हें घर गांव तक पहुंचाने की व्यवस्था करें। ये मांग कांग्रेस पार्टी के लाखों कार्यकर्ता सोशल मीडिया में कर रहे है। लाइव जाके कर रहे है। ये एक प्रकार की सोशल की वल्यूएशन है। सोशल मीडिया में जाके गरीब मजदूर बेबस जरूरतमंद की आवाज उठाने का फैसला कांग्रेस पार्टी ने ली है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*प्रशासनिक फेरबदल,14 डिप्टी कलेक्टरो को,बनाया गया मुख्यकार्यपालन अधिकारी देखए लिस्ट*

रायपुर:- छत्तीसगढ़ में राज्य प्रशासनिक सेवा के 14 अफसरों के प्रभार में फेरबदल किया गया है। इन 14 डिप्टी कलेक्टरों को मुख्य कार्यपालन अधिकारी बनाया गया है।
3 दिनों में यह दूसरा बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया गया है। गुरुवार को छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग की उप सचिव डॉ. रेणुका श्रीवास्तव के हस्ताक्षर से आदेश जारी किया गया है।

 

ब्यूरो रिपोर्ट 


*भाजपा झूठ बोलने पवित्र गंगाजल के नाम उपयोग कर रही है निंदनीय-मोहन मरकाम*

रायपुर/ 27 मई 2020।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि कांग्रेस ने 2018 के विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में और 15 नवंबर 2018 को प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता में कांग्रेस ने गंगाजल को साक्षी मानकर सत्ता में आने के 10 दिनों के भीतर किसानों की कर्ज माफी का वादा किया था। शपथ लेने के 10 दिन नहीं बल्कि चंद घन्टे के भीतर राज्य मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित की गई और किसानों की कर्ज माफी का फैसला लिया गया।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा के नेता गंगाजल हाथों में लेकर प्रमाणित करे कांग्रेस ने कर्जमाफी के अलावा घोषणा पत्र के अन्य वादों को पूरा करने के लिए गंगाजल की शपथ लिए थे। 2018 के विधानसभा चुनाव में घोषणा पत्र के 36 बिंदु मेंं से किए गए वादा मे से 22 बिंदुओं पर अब तक सरकार काम पूरा कर चुकी है। कांग्रेस को राज्य में 5 साल के लिए तीन चौथाई बहुमत से जनादेश मिला है । कांग्रेस अपने 2018 के विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र का एक-एक वादा 5 साल के भीतर पूरा करेगी। गंगाजल को भारत में बहुत पवित्र माना जाता है और भाजपा के द्वारा झूठ बोलने के लिए गंगा माता के नाम का दुरुपयोग किए जाने की कोंग्रेस कड़ी निंदा करती है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि कोरोना की महामारी के बाद मोदी सरकार द्वारा बिना सुनियोजित रणनीति के किए गए लाकडाउन के परिणाम स्वरूप देश के गरीब मजदूर किसान सब्जी उगाने वाले फुटकर व्यापारी बड़े व्यापारी उद्योग धंधे वाले ड्राइवर और समाज के सभी वर्गों के लोग ही परेशान नहीं है बल्कि देश की सारी राज्य सरकारों के आर्थिक संसाधनों पर गहरी चोट पहुंची है। राज्यों में आर्थिक गतिविधियां शून्य हो गई हैं और राज्य सरकारों पर कर्मचारियों के वेतन के साथ साथ कोरोना से लड़ने में होने वाले खर्च का बोझ भी है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मोदी सरकार के मनमानी हठधर्मिता के कारण पूरा देश कोरोना महामारी लॉक डाउन से उत्पन्न संकट की चपेट में है। लॉक डाउन वन लॉक डाउन टू लॉक डाऊन तीन और लॉक डाऊन चार भी समापन के अंतिम चरण में है।लेकिन देश मे कोरोना महामारी नियंत्रित होने के बजाये बढ़ रहा है।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी स्पष्ट कर दिया है भारत में भी कोरोना महामारी जिस गति से फैल रही है यह महामारी के प्रथम चरण है ऐसे समय में छत्तीसगढ़ भाजपा के नेता केंद्र की मोदी सरकार की नाकामी विफलताओं मजदूरों के प्रति असंवेदनशीलता और अमानवीय व्यवहार से देश की जनता का ध्यान हटाने में लगे हुए है।कोरोना महामारी संकट में मोदी सरकार के आर्थिक पैकेज को लेकर आम जनता में गहरी नाराजगी है।मोदी सरकार की विफलताओं से जनता का ध्यान हटाने भाजपा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के खिलाफ तथ्य आधारहीन झूठ फरेब की राजनीति कर रही है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*वेतन वृद्धि को यथावत रखने सयुक्त शिक्षक संघ ने सरकार से किया मांग*

शासकीय सेवकों के वार्षिक वेतन वृद्धि में रोक, गैर वाजिब निर्णय।

देवेश दुबे, मो.7999216722।रायपुर- छत्तीसगढ़ शासन वित्त विभाग द्वारा जारी निर्देश क्रमांक 12/2020 दिनांक 27 मई 2020 के निर्देशानुसार छत्तीसगढ़ के शासकीय कर्मचारियों का वार्षिक वेतन वृद्धि पर रोक लगाई गई है। छत्तीसगढ़ में अमूमन माह जुलाई में शासकीय कर्मचारियों का वार्षिक वेतन वृद्धि जोड़ा जाता है जो कि मूल वेतन का 3% वार्षिक वेतन वृद्धि के रूप में प्रदान किया जाता है। जिसके अनुसार शासकीय सेवकों को वर्ष में वेतन वृद्धि प्राप्त होता है और शासकीय सेवक इसका उपयोग अपने जीवन यापन को बेहतर बनाने एवं महंगाई को लड़ने के रूप में करते हैं। सरकार द्वारा वार्षिक वेतन वृद्धि पर लगाई गई रोक को "संयुक्त शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन" ने गैर वाजिब निर्णय बताया है। क्योंकि कोरोना के संक्रमण काल में सरकार समस्त वर्ग को अपनी विभिन्न योजनाओं एवं पैकेज देकर के सुदृढ़ बनाने का कार्य कर रही है। लेकिन शासकीय सेवकों का वार्षिक वेतन वृद्धि जैसा सुदृढ़ता को रोकना उनके और उनके परिवार के जीवन यापन पर निश्चित ही प्रतिकूल असर डालेगा। प्रांताध्यक्ष केदार जैन, संभाग अध्यक्ष बिलासपुर मुकुंद उपाध्यक्ष ने छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्यमंत्री एवं वित्तमंत्री भूपेश बघेल से मांग किया है कि शासकीय सेवकों के वेतन वृद्धि में रोक के आदेश को तत्काल वापस लिया जाए और उसे यथावत बने रहने दिया जाए ताकि शासकीय सेवकों को वेतन वृद्धि का लाभ यथावत मिले। इससे राज्य सरकार पर कुछ खास भार पड़ने वाला नहीं है। संयुक्त शिक्षक संघ कोरोना काल में सरकार के प्रत्येक निर्णय व कदम पर साथ देकर अपनी भूमिका का निर्वहन कर रही है। चाहे वह अपने वेतन को मुख्यमंत्री राहत कोष में देना हो ,ऑनलाइन पढ़ाई की बात हो या कोरोना वारियर के रूप में काम करने की बात हो। 
अतः संयुक्त शिक्षक संघ सरकार से पुनः मांग करता है कि वार्षिक वेतन वृद्धि पर रोक को वापस लेते हुए ,वेतन वृद्धि को यथावत रहने दिया जाए। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*अब प्रदेश में 6 दिन खुलेंगी दुकाने,कंटेंनमेंट एरिया में सख्ती रहेगा जारी,सरकार ने लिया फैसला*

फाइल फोटो,

रायपुर- एक तरफ  छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रहा है, वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ सरकार लॉकडाउन में आर्थिक गतिविधियों को फिर से प्रारंभ करने को लेकर आज सीएम हाउस में बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में कई अहम फैसले लिए गए हैं। बैठक में सीएम भूपेश बघेल सहित छत्तीसगढ़ शासन के मंत्री और अधिकारी मौजूद रहे।बैठक में लंबे मंथन के बाद यह फैसला लिया गया है कि अब सभी जिलों में दुकानें अब हफ्ते में 6 दिन खुलेगी। वहीं रेड जोन के कंटेनमेंट एरिया में किसी प्रकार का संशोधन नहीं किया गया है। साथ ही सभी कंटेनमेंट एरिया में सख्ती पहले की तरह ही बरकरार रहेगी। बैठक के दौरान यह भी फैसला लिया गया कि शादी सहित अन्य कार्यक्रमों के लिए तहसीलदार से अनुमति लेनी होगी। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम कल*

पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम,मास्क पहनकर एवं सोशल डिस्टेंसिग का विशेष ध्यान रखते हुये श्रद्धांजलि कार्यक्रम में सम्मिलित होने के निर्देश

रायपुर/27 मई 2020 को प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन में सुबह 11 बजे आयोजित कार्यक्रम सहित सभी जिला मुख्यालयों शहर और ब्लॉक कांग्रेस मुख्यालयों में प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि के कार्यक्रम् पूरे प्रदेश में आयोजित किये जायेंगें।कांग्रेस के सभी जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों को अपने अपने निवास जिला मुख्यालय और निवास ब्लॉक मुख्यालय में आयोजित पंडित नेहरू के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में सम्मिलित होने के निर्देश प्रदेश कांग्रेस से दिए गये हैं।पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम में सभी वरिष्ठ कांग्रेसजन,प्रदेश पदाधिकारीगण, सांसद विधायक, जिला, शहर और ब्लॉक कांग्रेस के पदाधिकारी, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एन एस यू आई, सेवादल, जोन, सेक्टर, बुथ प्रभारी व सभी प्रकोष्ठ विभाग के पदाधिकारी एवं निर्वाचित जनप्रतिनिधि, जिला, जनपद सदस्य, सरपंच, पंचगण सम्मानित कांग्रेस कार्यकर्ता साथियों को मास्क पहनकर एवं सोशल डिस्टेंसिग का विशेष ध्यान रखते हुये सम्मिलित होने के निर्देश दिये गए हैं।

ब्यूरो रिपोर्ट


*प्रदेश कांग्रेस कमेटी की पहल श्रद्धांजलि वाहन दुर्ग,से रायपुर बिलासपुर होते हुए प्रयागराज जाएगी*

रायपुर/26 मई 2020। कोविड -19 संकट के कारण लॉक-डाउन में आवागमन बंद होने के कारण प्रदेश से लोग अपने दिवंगत परिजनों का अस्थि विसर्जन प्रयागराज संगम में विसर्जित नही कर पा रहे है।इस समस्या की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सहमति से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने इनकी मदद करने का निर्णय लिया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने फैसला लिया है कि राज्य के लोग अपने-अपने परिजनों का अस्थि विसर्जन करने हेतु अस्थि-कलश प्रयागराज भेजना चाहते है, इस हेतु प्रदेश कांग्रेस कमेटी श्रद्धांजलि वाहन उपलब्ध करायेगी, जिसमें पंडित भी साथ रहेंगे। लोगों से अस्थि -कलश प्राप्त कर पंडितगण विधिवत पूजा-अर्चना कर गंगाजी में प्रवाहित करेंगे।श्रद्धांजलि वाहन दुर्ग से व्हाया रायपुर, बिलासपुर होकर प्रयागराल रवाना होगी। वाहन के साथ व्यवस्था कांग्र्रेस सेवादल के अध्यक्ष अरूण ताम्रकार के साथ सेवादल की 5 सदस्यीय टीम भी रहेगी।जिस किसी को भी अस्थि-कलश प्रयागराज भेजना है वे, कृपया सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष अरूण ताम्रकार मोबाईल नंबर 9826138090, 8889588090 पर संपर्क कर सकते है।

ब्यूरो रिपोर्ट


*पीएम और वित्तमंत्री के पैकेज में गरीबो मध्यवर्ग के लिए कुछ भी नही-शैलेष नितिन*

किसानों को 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट एकमुश्त भुगतान हो, हर मज़दूर परिवार को भी 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट का एकमुश्त भुगतान हो

रायपुर- प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि ठेले वाले, खोमचे वाले, छोटे दुकानदारों निजी क्षेत्र में नौकरियां करने वाले लाकडाउन सर्वाधिक प्रभावित है। रोज कमाने खाने वालों ने लाकडाउन ने दो महिने बहुत दुश्वारी और बेबसी में काटे है। किसानों को 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट एकमुश्त भुगतान हो। हर मज़दूर परिवार को भी 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट का एकमुश्त भुगतान हो। पीएम और वित्तमंत्री के पैकेज में गरीबों और मध्यवर्ग के लिये कुछ भी नहीं है। मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ के पैकेज को लेकर वित्त मंत्री ने  पत्रकारवार्तायें की लेकिन आज तक देश के गरीबों, मजदूर, किसानों, छोटे व्यापारियों ठेला लगाने वाले खोमचा लगाने वाले लोहार बढ़ई छोटे उद्योग धंधे करने वालों को यह समझ में नहीं आ रहा है कि उन्हें कर्ज मिलने की घोषणा के अलावा मिला क्या है
प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पैकेज में चंद चहेते उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने वाली ढेरों घोषणाएं हैं। इन चहेते उद्योगपतियों को देश का सार्वजनिक क्षेत्र सौंपने की पूरी तैयारी है लेकिन क्या कोरोना ने इन उद्योगपतियों को प्रभावित किया है? जो इन चहेते उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने वाली यह घोषणा कोरोना पैकेज के नाम पर की गई है। कोरोना से तो सर्वाधिक प्रभावित देश के गरीब मजदूर खासकर प्रवासी मजदूर और छोटे-छोटे ठेले खोमचे छोटी दुकान लगाने वाले लोग हुए हैं। इन गरीब निम्न और मध्यम वर्ग के लोगों के लिए प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री के पैकेज में कुछ भी नहीं है। निजी क्षेत्र में नौकरी करने वालों ने न केवल वेतन बल्कि कई लोग अपनी नौकरी से भी हाथ गवा बैठे हैं। छोटे दुकानदारों, छोटे उद्योग धंधे वालों की स्थिति भी अच्छी नहीं है। ऐसी स्थिति में सब को मदद पहुंचाने के बजाय केंद्र सरकार साहूकार की भूमिका में कल की घोषणा करती हुई नजर आ रही है। सवाल यह उठता है कि यह कटेगा कैसे अर्थव्यवस्था में तेजी कैसे आएगी और जिन लोगों ने 2 महीने में अपनी रोजी-रोटी केंद्र सरकार के कुप्रबंधन के कारण गवाही है उनका क्या होगा उन्हें क्या क्षतिपूर्ति दी जाएगी उनकी क्या मदद की जाएगी इस बारे में मोदी सरकार खामोश है।
कांग्रेस ने मांग की है कि केन्द्र सरकार मजदूर, किसानों और देश के हर आयकर नहीं देने वले परिवार को इस कठिन परिस्थिति में 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट एकमुश्त भुगतान हो। प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि लाखों किसानों की सम्मान निधि की राशि बकाया है और इसका भुगतान तुरंत सुनिश्चित किया जाना चाहिए।
उन्होंने केंद्र सरकार से कहा है कि कोरोना संकट के समय अनियोजित लॉक-डाउन की वजह से पूरे देश में जो अफ़रा-तफ़री का माहौल बना है उसके बाद सिर्फ़ किसानों की सहायता करने से काम नहीं चलेगा. उन्होंने कहा है कि केंद्र की सरकार से अब 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट एकमुश्त भुगतान हो। जिसमें प्रत्येक मज़दूर परिवार 10,000 रू. डायरेक्ट कैश बेनिफिट का एकमुश्त भुगतान हो।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के समय न्याय योजना की बात कही थी और वादा किया था कि हर परिवार को हर महीने कम से कम 6,000 रुपए यानी वर्ष में 72,000 रुपए दिए जाएंगे. उन्होंने कहा है कि साल में तीन किस्तों में छह हज़ार रुपए देने वाली मोदी सरकार से अधिक की उम्मीद नहीं है लेकिन हर ऐसे परिवार को जो आयकर के दायरे से बाहर है, कम से कम 10,000 रुपए की राशि तत्काल तो देना ही चाहिए।

28 मई को सुबह 11 बजे से 2 बजे तक कांग्रेस का आनलाईन महाअभियान

प्रवासी, कामगारों, किसानों, अंसगठित क्षेत्रों में काम करने वालों, एमएसएमई, लघु उद्योग, मछुआरों और दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की संख्या गंभीर संकट में है। वे पैसे, भोजन, नौकरी और अन्य आवश्यक वस्तुओं के बिना संघर्ष कर रहे है। दो महीने से अधिक समय से, जब से देशव्यापी तालाबंदी शुरू हुई है, हमारे देश के लाखों प्रवासी पुरूषों, महिलाओं और बच्चों की तस्वीरों और वीडियों से हर देशवासियों को पीड़ा हुई है। ये लाखों करोड़ो मजदूर अपने गृहनगर और गांवो वापस आने की कोशिश कर रहे है। राजमार्गो पर सैकड़ो किलोमीटर पैदल चलनें से लेकर ट्रक, ट्रेलर और परिवहन के हर रूप में पैकिंग करने तक, इनमें से अनेक लोगों की लंबी यात्रा के दौरान बीमारी और दुर्घटनाओं से भी मृत्यु हुई।
कांग्रेस पार्टी श्रमिक साथियों की हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रयास कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी हमारे प्रवासी श्रमिकों, किसानों और वेतन भोगियों की पीड़ा को कम करने के लिए केन्द्र सरकार को सुझाव दे रहे है। केन्द्र सरकार को मदद देने के बजाय उनकी परेशानियों को नजरअंदाज करती रही और कोई सार्थक कदम नही उठा रही है।
कांग्रेस पार्टी ने किसानों, प्रवासी, कामगारों, दिहाड़ी मजदूरों, छोटे स्तर के व्यवसायों और गैर-संगठित श्रमिकों की आवाज बनकर सोशल मीडिया में लाइव विडियों के माध्यम से मोदी सरकार से मांग करने का फैसला लिया है कि, देश के ऐसे नागरिक जो आयकरदाता नही ह, ऐसे प्रत्येक परिवारों को 10 हजार रूपये का प्रत्यक्ष नकद हस्तांतरण तुरंत करे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से प्राप्त निर्देशानुसार 28 मई को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक देश के सभी राज्यों से बड़े पैमाने पर ऑनलाइन अभियान आयोजित करने का निर्णय लिया है।
जिले के स्थानीय प्रदेश पदाधिकारियों, सांसद, विधायक, जिला पदाधिकारियों को सूचित करते हुये दिनांक 28 मई 2020 को अनिवार्य रूप से सोशल मीडिया पर लाईव विडियों के माध्यम से केन्द्र सरकार के समक्ष विरोध दर्ज कराते हुए उक्त मांगो को रखे। समस्त जिला, ब्लाक एवं मोर्चा संगठनो के अध्यक्षगण यह सुनिश्चित करे कि निर्धारित समयवधी में संबधित क्षेत्र में कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता आनलाईन फेसबुक लाईव में भाग लेंगे और इस मांग को उठायेंगे।

ब्यूरो रिपोर्ट


*Big Breaking:सारांश मित्तर बिलासपुर,डॉ भीम सिंह होंगे रायगढ़ कलेक्टर,20 जिले के कलेक्टर बदले गए 50 अधिकारीयो को दिया गया प्रभार देखिए सूची mornews*

रायपुर- राज्य शासन ने बड़ी संख्या में आईएएस अधिकारियों के तबादले किए हैं। जिनमें से 20 से ज्यादा कलेक्टर भी बदले गए हैं। इन्हे मिलाकर 50 से अधिक तबादले किए हैं। इनमें जिला पंचायत के सीईओ और भारतीय वन सेवा के अधिकारी भी शामिल हैं। देखिए सूची।

राज्य सरकार ने इन अधिकारियों के विभागों में फेर बदल किया है-

अमिताभ जैन, भा0प्र0से0 (1989), अपर मुख्य सचिव, वित्त विभाग एवं अतिरिक्त प्रभार-अपर मुख्य सचिव, लोक निर्माण विभाग को केवल अपर मुख्य सचिव, लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त कार्यभार से मुक्त करते हुए अपर मुख्य सचिव, जल संसाधन विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। शेष प्रभार यथावत् रहेगा।

डाॅ. आलोक शुक्ला, भा0प्र0से0 (1986), प्रमुख सचिव, स्कूल शिक्षा विभाग एवं अतिरिक्त प्रभार-अध्यक्ष, छ0ग0 माध्यमिक शिक्षा मंडल तथा अध्यक्ष, छ0ग0 व्यावसायिक परीक्षा मंडल को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ प्रमुख सचिव, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

रेणु पिल्ले, भा0प्र0से0 (1991), अपर मुख्य सचिव, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग तथा अतिरिक्त कार्यभार-महानिदेशक, छ0ग0 प्रशासन अकादमी, रायपुर को अपर मुख्य सचिव, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग के कार्यभार से मुक्त करते हुए अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग के पद पर पदस्थ किया गया है। शेष प्रभार यथावत् रहेगा।
रेणु पिल्ले, भा0प्र0से0 (1991), द्वारा अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग का कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से सुश्री निहारिका बारिक, भा0प्र0से0 (1997) केवल सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग के कार्यभार से मुक्त होंगी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का प्रभार यथावत् रहेगा।

मनोज कुमार पिंगुआ, भा0प्र0से0 (1994), प्रमुख सचिव, वाणिज्य एवं उद्योग तथा सार्वजनिक उपक्रम विभाग व अतिरिक्त कार्यभार-प्रमुख सचिव, वन विभाग एवं विशेष कत्र्तव्यस्थ अधिकारी सह निवेश आयुक्त, सीएसआईडीसी, मुख्यालय नई दिल्ली को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ आवासीय आयुक्त, छत्तीसगढ़ भवन, नई दिल्ली का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। मनोज कुमार पिंगुआ, भा0प्र0से0 (1994), द्वारा आवासीय आयुक्त, छत्तीसगढ़ भवन, नई दिल्ली का अतिरिक्त कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से डाॅ. मनिंदर कौर द्विवेदी, भा0प्र0से0 (1995), केवल आवासीय आयुक्त, छत्तीसगढ़ भवन, नई दिल्ली के अतिरिक्त कार्यभार से मुक्त होंगी। डाॅ. मनिंदर कौर द्विवेदी का शेष प्रभार यथावत् रहेगा।

प्रसन्ना आर0, भा0प्र0से0, सचिव, सहकारिता विभाग तथा अति0 प्रभार-सचिव, समाज कल्याण व सचिव, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग तथा आयुक्त, निःशक्तजन को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ सचिव, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा सचिव, कौशल विकास विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।
प्रसन्ना आर0, भा0प्र0से0, द्वारा सचिव, महिला एवं बाल विकास विभाग का कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से श्री परदेशी सिद्धार्थ कोमल, भा0प्र0से0, सचिव, लोक निर्माण विभाग तथा सचिव, महिला एवं बाल विकास विभाग, सचिव, खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा प्रबंध संचालक, छ0ग0 स्टेट रोड डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन, रायपुर केवल सचिव, महिला एवं बाल विकास विभाग के अतिरिक्त कार्यभार से मुक्त होंगे। शेष प्रभार यथावत् रहेगा।

अलरमेलमंगई डी0, भा0प्र0से0, सचिव, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग तथा अति0 प्रभार-सचिव, उच्च शिक्षा विभाग तथा संचालक, नगरीय प्रशासन एवं विकास को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ सचिव, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

अंबलगन पी0, भा0प्र0से0, सचिव, खनिज साधन विभाग तथा अति0 प्रभार-सचिव, सचिव, पर्यटन एवं संस्कृति को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ सचिव, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

डाॅ. संजय कुमार अलंग, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-बिलासपुर को आयुक्त, बिलासपुर संभाग, बिलासपुर के पद पर पदस्थ करते हुए आयुक्त, सरगुजा संभाग, अंबिकापुर का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

ईमिल लकड़ा, भा0प्र0से0, आयुक्त, सरगुजा संभाग, अंबिकापुर को सचिव, राजस्व मण्डल, बिलासपुर के पद पर पदस्थ करते हुए सचिव, लोक आयोग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

सी0आर0 प्रसन्ना, भा0प्र0से0, संचालक, पशु चिकित्सा सेवायें तथा विशेष सचिव, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को विशेष सचिव, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के पद पर पदस्थ करते हुए आयुक्त, स्वास्थ्य सेवायें तथा प्रबंध संचालक, छ0ग0 मेडिकल सर्विसेज कार्पोरेशन का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

भूवनेश यादव, भा0प्र0से0, आयुक्त, स्वास्थ्य सेवायें तथा प्रबंध संचालक, छ0ग0 मेडिकल सर्विसेज कार्पोरेशन को विशेष सचिव, ग्रामोद्योग विभाग के पद पर पदस्थ किया गया है।
भूवनेश यादव, भा0प्र0से0 द्वारा विशेष सचिव, ग्रामोद्योग विभाग के पद पर कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से श्री हेमंत पहारे, (से.नि.आई.ए.एस. संविदा नियुक्ति), केवल सचिव, ग्रामोद्योग विभाग के कार्यभार से मुक्त होंगे।

सुश्री शम्मी आबिदी, भा0प्र0से0, प्रबंध संचालक, छ0ग0 राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित (मार्कफेड), रायपुर को संचालक, आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास के पद पर पदस्थ किया गया है।

रानू साहू, भा0प्र0से0, कलेक्टर, बालोद को आयुक्त, वाणिज्यिक कर के पद पर पदस्थ किया गया है।

महादेव कावरे, भा0प्र0से0, संचालक, कोष, लेखा एवं पेंशन तथा अतिरिक्त प्रभार-संयुक्त सचिव, खनिज साधन विभाग को कलेक्टर, जिला-जशपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

अवनीश कुमार शरण, भा0प्र0से0, कलेक्टर, कबीरधाम को संचालक, तकनीकी शिक्षा, रोजगार एवं प्रशिक्षण के पद पर पदस्थ किया गया है।

अंकित आनंद, भा0प्र0से0, कलेक्टर, दुर्ग को प्रबंध संचालक, छ0ग0 राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित (मार्कफेड), रायपुर के पद पर पदस्थ करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, अटल नगर विकास प्राधिकरण, नवा रायपुर का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

नीलम नामदेव एक्का, भा0प्र0से0, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, अटल नगर विकास प्राधिकरण, नवा रायपुर को प्रबंध संचालक, छ0ग0राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन संघ मर्यादित, रायपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।
श्री नीलम नामदेव एक्का, भा0प्र0से0 द्वारा प्रबंध संचालक, छ0ग0राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन संघ मर्यादित, रायपुर के पद पर कार्यभार ग्रहण करने के दिनांक से श्री हेमंत पहारे, (से.नि.आई.ए.एस. संविदा नियुक्ति), केवल प्रबंध संचालक, छ0ग0राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन संघ मर्यादित, रायपुर के कार्यभार से मुक्त होंगे। शेष प्रभार यथावत् रहेगा।

टोपेश्वर वर्मा, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-दंतेवाड़ा को कलेक्टर, जिला-राजनांदगांव के पद पर पदस्थ किया गया है।

नीलकंठ टीकाम, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-कोण्डागांव को संचालक, कोष, लेखा एवं पेंशन के पद पर पदस्थ किया गया है।

डोमन सिंह, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-कोरिया को कलेक्टर, जिला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के पद पर पदस्थ किया गया है।

हिमशिखर गुप्ता, भा0प्र0से0, पंजीयक, सहकारी संस्थाएं तथा संचालक, प्रशासन अकादमी को उनके वर्तमान कत्र्तव्यों के साथ-साथ रजिस्ट्रार, फम्र्स एवं संस्थाएं का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

राजेश सिंह राणा, भा0प्र0से0, संयुक्त सचिव, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग तथा संयुक्त सचिव, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग को सदस्य सचिव, राज्य योजना आयोग के पद पर पदस्थ किया गया है।

रणबीर शर्मा, भा0प्र0से0, रजिस्ट्रार फम्र्स एवं संस्थाएं तथा अति0 प्रभार-उप सचिव, महिला एवं बाल विकास विभाग को कलेक्टर, जिला-सूरजपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

अभिजीत सिंह, भा0प्र0से0, मिशन संचालक, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन को कलेक्टर, जिला-नारायणपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

श्याल लाल धावड़े, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-गरियाबंद को कलेक्टर, जिला बलरामपुर- रामानुजगंज के पद पर पदस्थ किया गया है।

संजीव कुमार झा, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला बलरामपुर-रामानुजगंज को कलेक्टर, जिला-सरगुजा के पद पर पदस्थ किया गया है।

सारांश मित्तर, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला सरगुजा को कलेक्टर, जिला-बिलासपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

यशवंत कुमार, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला रायगढ़ को कलेक्टर, जिला-जांजगीर-चांपा के पद पर पदस्थ किया गया है।

कार्तिकेय गोयल, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला बलौदाबाजार-भाटापारा को कलेक्टर, जिला महासमुंद के पद पर पदस्थ किया गया है।

भूरे सर्वेश्वर नरेन्द्र, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला मुंगेली को कलेक्टर, जिला दुर्ग के पद पर पदस्थ किया गया है।

सुनील कुमार जैन, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला महासमुंद को कलेक्टर, जिला बलौदाबाजार-भाटापारा के पद पर पदस्थ किया गया है।

रमेश कुमार शर्मा, भा0प्र0से0, उप सचिव, मुख्य सचिव कार्यालय तथा अति0प्रभार-संचालक, भू-अभिलेख व आयुक्त, वाणिज्यिक कर को कलेक्टर, जिला कबीरधाम के पद पर पदस्थ किया गया है।

जनक प्रसाद पाठक, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला जांजगीर-चांपा को संचालक, भू-अभिलेख के पद पर पदस्थ किया गया है।

जन्मेजय महोबे, भा0प्र0से0, आयुक्त सह संचालक, महिला एवं बाल विकास विभाग को कलेक्टर, जिला बालोद के पद पर पदस्थ किया गया है।

रितेश कुमार अग्रवाल, भा0प्र0से0, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत, बिलासपुर को कलेक्टर, जिला बीजापुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

जयप्रकाश मौर्य, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला राजनांदगांव को कलेक्टर, जिला धमतरी के पद पर पदस्थ किया गया है।

शिखा राजपूत तिवारी, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही को नियत्रंक, नाप-तौल के पद पर पदस्थ किया गया है।

दीपक सोनी, भा0प्र0से0, कलेक्टर, सूरजपुर को कलेक्टर, जिला दंतेवाड़ा के पद पर पदस्थ किया गया है।

तंबोली अय्याज फकीरभाई, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला-बस्तर को आयुक्त, छ0ग0 गृह निर्माण मंडल के पद पर पदस्थ करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, रायपुर विकास प्राधिकरण, रायपुर का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

भीम सिंह, भा0प्र0से0, आयुक्त, छ0ग0 गृह निर्माण मंडल तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी, रायपुर विकास प्राधिकरण, रायपुर को कलेक्टर, जिला-रायगढ़ के पद पर पदस्थ किया गया है।

पुष्पेंद्र कुमार मीणा, भा0प्र0से0, संचालक, तकनीकी शिक्षा, रोजगार एवं प्रशिक्षण तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी, राज्य कौशल विकास अभिकरण को कलेक्टर, जिला-कोण्डागांव के पद पर पदस्थ किया गया है।

छत्तर सिंह डेहरे, भा0प्र0से0, अपर आयुक्त, संभागायुक्त कार्यालय, बिलासपुर एवं अतिरिक्त प्रभार-सचिव, राजस्व मंडल, बिलासपुर एवं सचिव, लोक आयोग को कलेक्टर, जिला गरियाबंद के पद पर पदस्थ किया गया है।

के0डी0 कुंजाम, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला बीजापुर को संयुक्त सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग के पद पर पदस्थ करते हुए संयुक्त सचिव, राजस्व विभाग का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

रजत बंसल, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला धमतरी को कलेक्टर, जिला बस्तर के पद पर पदस्थ किया गया है।

नीलेश कुमार महादेव क्षीरसागर, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जशपुर को नियंत्रक, खाद्य एवं औषधि प्रशासन के पद पर पदस्थ करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, राज्य कौशल विकास अभिकरण, रायपुर का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

सत्यनारायण राठौर, भा0प्र0से0, नियंत्रक, खाद्य एवं औषधि प्रशासन को कलेक्टर, जिला कोरिया के पद पर पदस्थ किया गया है।

पदुम सिंह एल्मा, भा0प्र0से0, कलेक्टर, जिला नारायणपुर को कलेक्टर, जिला-मुंगेली के पद पर पदस्थ किया गया है।

जगदीश सोनकर, भा0प्र0से0, अपर कलेक्टर, जिला महासमुंद को मुख्य कार्यपालन अधिकारी, छ0ग0 स्टेट वाटरशेड मैनेजमेंट एजेंसी, रायपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

दिव्या उमेश मिश्रा, भा0प्र0से0, उप सचिव, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को संचालक, महिला एवं बाल विकास के पद पर पदस्थ किया गया है।

अनिल कुमार साहू, भा0व0से0, अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक की सेवायें वन विभाग से लेते हुए प्रबंध संचालक, छ.ग. राज्य बीज एवं कृषि विकास निगम लिमिटेड, रायपुर के पद पर पदस्थ किया गया है।

माथेश्वरन वी0, भा0व0से0, की सेवायें वन विभाग से लेते हुए संचालक, उद्यानिकी के पद पर पदस्थ करते हुए संचालक, पशु चिकित्सा सेवायें का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।

राज्य प्रशासनिक सेवा

1-अश्विनी देवांगन को सीईओ सूरजपुर से सीईओ दंतेवाड़ा

3-आशुतोष पांडेय बलौदाबाजार सीईओ से आय़ुक्त रायगढ़

2-फरिहा आलम सिद्दिकी को सीईओ बलौदाबाजार

4-प्रकाश सर्वे आयुक्त रिशाली से दुर्ग एडिश्नल कलेक्टर के चार्ज पर

5-गजेंद्र सिंह ठाकुर को सीईओ बिलासपुर

6-राजेंद्र गुप्ता को आयुक्त रायगढ़ को बलौदाबाजार ज्वाइंट कलेक्टर

7-विभोर अग्रवाल को संवाद जीएम का एडिश्नल चार्ज

8-प्रेम कुमार पटेल को सीईओ नारायणपुर को आयुक्त जगदलपुर

9-सच्चिदानंद आलोक को सीईओ दुर्ग बनाया गया है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*किसको बचाने मोदी सरकार झीरम की फाइल वापस नही कर रही-कांग्रेस*

रायपुर /26 मई 2020। पूर्व मुख्य मंत्री रमन सिंह और अन्य भाजपा नेताओं द्वारा झीरम नरसंहार पर की गयी बयान बाजी पर कांग्रेस ने कहा इन बयानों से भाजपा की बदनीयती साफ झलक रही है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के सदस्य वरिष्ठ प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह के दिल मे काला नही है और नीयत में खोट नही तो मोदी सरकार को कहे झीरम की फाइल राज्य सरकार को वापस करे ताकि झीरम की जांच के लिए बनाई गई एस आई टी अपना काम कर सके ।झीरम रमन सिंह के मुख्यमंत्री रहते तत्तकालीन भाजपा सरकार के माथे पर बेगुनाहों के खून का लगा वह दाग है जो कोरी बयानबाजी से नही मिट सकेगा ।क्या कारण है झीरम की जांच नही होने दिया जा रहा ? जब बिना किसी निष्कर्ष पर पहुचे एन आई ए ने झीरम की जांच बंद कर दिया तब भाजपा की केंद्र सरकार मामले की फाइल क्यो वापस नही कर रही है ? आखिर किसको बचाने या कौन सा तथ्य छुपाने झीरम की जांच फिर से शुरू करने में भाजपा की केंद्र सरकार अड़ंगेबाजी लगा रही है ?
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि झीरम हत्याकांड देश का सबसे क्रूर राजनैतिक हत्याकांड था इसमे कांग्रेस के नेताओ की पूरी पीढ़ी को मार दिया गया था ।कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा की सुरक्षा किसके आदेश पर हटाई गई थी? हत्यारो ने शहीद नन्द कुमार पटेल ,शहीद दिनेश पटेल की शिनाख्त कर के हत्या क्यो किया ? ऐसे अनगिनत सवाल है जिनका जबाब प्रदेश की जनता जनना चाहती है ।इन सवालों के जबाब निष्पक्ष जांच से ही सामने आएंगे ।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि क्या कारण है जो भाजपा नही चाहती झीरम का सच सामने आए ? जब राज्य में भाजपा की सरकार थी तब विधान सभा मे घोषणा के बाद सीबीआई जांच की अनुशंसा रमन सरकार ने क्यो नही किया ?न्यायिक जांच आयोग और एनआईए की जांच के दायरे में षड्यंत्र को जांच का बिंदु क्यो नही बनाया गया ? जैसे ही केंद्र में यूपीए सरकार की जगह भाजपा की मोदी सरकार बनी एन आई ए ने मामले की जांच की खानापूर्ति कर बंद क्यो कर दिया ? भाजपा और रमन सिंह झीरम की जांच के नाम पर बौखला क्यो जाते हैं ? भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुए इस दुर्दान्त नर संहार की जांच भाजपा क्यो नही होने देना चाह रही ?

ब्यूरो रिपोर्ट


*कोरोना अपडेट:14नए कोरोना मरीज मिलने की खबर एक्टिव केस 235 पहुँची*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में विगत दिनों से लगातार बढ़ती जा  रही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या।आज मंगलवार को कोरोना संक्रमित नए 14 मरीज मिलने की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की है। विभाग ने विशेष अपने टवीटर हेंडल से यह जानकारी दी है। कल एम्स रायपुर से 4 और अंबिकापुर कोविड अस्पताल से 1 मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। एम्स से कबीरधाम, गरियाबंद, बलौदाबाजार और बालोद के 1-1 और अंबिकापुर कोविड अस्पताल से सूरजपुर के 1 कोरोना से पीड़ित मरीज को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। इन पांच मरीजों के ठीक होकर घर लौटने के बाद आज मीले 14 नए मरीज के बाद अब अब प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या  235 हो गई है।

ब्यूरो रिपोर्ट 


*कोरोना अपडेट:प्रदेश में कोरोना के 5 मरीज डिस्चार्ज किए गए,अब एक्टिव केस 220 रह गई है*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में विगत दिनों से लगातार बढ़ रही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या के बीच राहत की खबर आई हैै। सोमवार को 5 कोरोना मरीजों की अस्पताल से छुट्टी हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने विशेष बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी है। आज एम्स रायपुर से 4 और अंबिकापुर कोविड अस्पताल से 1 मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। एम्स से कबीरधाम, गरियाबंद, बलौदाबाजार और बालोद के 1-1 और अंबिकापुर कोविड अस्पताल से सूरजपुर के 1 कोरोना से पीड़ित मरीज को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। इन पांच मरीजों के ठीक होकर घर लौटने के बाद अब प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या घटकर 220 रह गई है। 

ब्यूरो रिपोर्ट


*मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की राजीव भवन में पत्रकारों से चर्चा*

रायपुर- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्रकारों को संबोधित करते हुये कहा है कि झीरम घाटी कांड में राजनैतिक नरसंहार किया गया। शहीद आत्माओं को अभी तक न्याय नही मिला है। झीरम घाटी कांड के षडयंत्र की सच्चाई को सब जानना चाहते है। हमारे सुरक्षाकर्मी भी बड़ी संख्या में आम नागरिक भी शहीद हुये थे। प्रदेश के सभी शासकीय और अर्धशासकीय कार्यालयों में झीरम की श्रंद्धाजलि दिवस मनाया जा रहा है। बस्तर टाइगर महेन्द्र कर्मा के नाम से जगदलपुर महाविद्यालय को जाना जायेगा।
एनआईए को पूर्व की राज्य सरकार ने जो जांच को सौंपा था और उन्होंने अपनी जांच कम्पलीट कर ली। लेकिन जो झीरम घाटी कांड में षंडयंत्र हुआ है उसके बारे में कोई जांच नहीं हुई। जो नक्सली पकड़े गये है, एएनआई ने आत्मसमर्पित नक्सलियो  का बयान नहीं लिया, जो घटना स्थल पर थे उनसे भी बयान नहीं लिया गया। फूलोदवी नेताम सहित झीरम में घटना स्थल पर उपस्थित साथियों के भी बयान एनआईए ने नहीं लिया। एनआईए जांच ही अधूरी है। इस मामले में जांच पूरी हो, सबका बयान हो, जो तथ्य है सामने आने चाहिये।
कोरोना सबसे पहले हवाई यात्रियों से छत्तीसगढ़ में आया। कोरोना महामारी का हम सब लोगो ने डटकर सामना किया और जो सफलता मिली है वह सबके सामूहिक प्रयत्नों का परिणाम है। छत्तीसगढ़ के आम नागरिक और छत्तीसगढ़ के शासन के अधिकारी, कर्मचारियों, हमारे सभी जनप्रतिनिधियों, छत्तीसगढ़ वासियों हमारे सभी समाजिक संगठनों और सभी औद्योगिक व्यवसायिक संगठनों और साथ ही मीडिया एवं पत्रकारो के सभी साथीयो ने सबने मिलकर इस कोरोना का सामना किया। अभी तीसरे फेस में जो श्रमिक आये हैं या छात्र-छात्रायें आयें हैं और जो लोग बाहर फस गये थे लाकडाउन के कारण वो सब लोग वापस आये है और उसी में से कुछ संक्रमित व्यक्ति भी वापस आ रहे है। निश्चित रूप से संक्रमण की संख्या बढ़ी लेकिन डरने और घबराने जैसी बात नहीं है। लाकडाउन के प्रथम चरण और दूसरे, तीसरे चरण में हम सब ने मिलकर कोरोना नियंत्रित किया और चौथा चरण में भी नियंत्रित करेंगे। ये सब सबके सहयोग से ही संभव हो पाया है।राज्य में जो भी चाहे हवाई यात्री करके आये या रेल यात्रा से आये हम सब उसको क्वारेंटाईन करेंगे क्योकि बहुत मेहनत से हम सब लोगो ने मिलकर मेहनत की। कोई ऐसा संगठन नहीं जिन्होंने ने मेहनत नहीं किया सब ने बहुत मेहनत किया तब जाकर के हम कोरोना महामारी को नियंत्रित कर पाये। ये किसी एक को श्रेय नहीं इस श्रेय के भागीदार हम सब है। इस लड़ाई में जिन्होंने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया अपनी जान जोखिम में डालकर हमारे कर्मचारी, अधिकारी, संगठन, सब ने भाग लिया राजनैतिक लोगो ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया तब जा कर के कोरोना को नियंत्रित कर पाये है। थोड़ी सी मेहनत और लगेगी। हम 60 दिन मेहनत किये है 15 दिन और मेहनत लगेगी। आखिर हमारे ट्रेन जो 23 मई को आयेगी और उसके बाद उन सबको 15 दिन क्वारेंटाईन में रखेंगे और 15 दिन के बाद सारे स्थिति स्पष्ट हो जायेगा कि कितने प्रभावित है कितने नहीं है। जो  कोरोना संक्रमण से प्रभावित है उनका इलाज चल रहा है। छत्तीसगढ़ में अभी तक कोरोना से एक भी मौत नहीं हुयी है।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर राजपूत क्षत्रिय महासभा ने किया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सम्मान*

रायपुर/25 मई 2020।महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर राजपूत क्षत्रिय महासभा रहटादाह छत्तीसगढ़ उप समिति रायपुर ने मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को साफा पहनाकर श्रीफल ,तलवार एवं मोमेंटो भेंट कर महाराणा प्रताप जनसेवा सम्मान से सम्मानित किया एवं छत्तीसगढ़ में भी महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर अवकाश घोषित करने की मांग की। इस दौरान उप समिति रायपुर के अध्यक्ष संपत सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 महामारी के संक्रमण से छत्तीसगढ़ की जनता की रक्षा करने युध्दस्तर पर जो कारगर उपाय किए हैं इससे छत्तीसगढ़ के जन-जन कोरोना महामारी संक्रमण रूपी राक्षस से सुरक्षित है। महाराणा प्रताप मातृभूमि के रक्षक एवं सच्चे जनसेवक थे।प्रजा के प्रति जो राजा का धर्म होता है उसका पालन महाराणा प्रताप ने अंतिम सांस तक किया। ठीक उसी तरह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी छत्तीसगढ़ की जनता के प्रति अपने कर्तव्य का पालन कर रहे है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बिना भेदभाव के सभी वर्गों का एक पालक की तरह ख्याल रख रहे।महाराणा प्रताप के मार्ग पर चलते हुए आने वाले दिनों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जनसेवा के एक नया अध्याय लिखेंगे और छत्तीसगढ़ को देश में एक अलग पहचान दिलाने में कामयाब होंगे।इस दौरान धनंजय सिंह ठाकुर, डॉ शेर सिंह ठाकुर,महेश्वर सिंह ठाकुर,अलका राजपूत,कुलदीप सिंह एवं पंकज सिंह ठाकुर उपस्थित थे।
संपत सिंह ठाकुर,।

ब्यूरो रिपोर्ट


*झीरम घाटी नक्सली हमले में शहीद कांग्रेस नेताओं एवं नागरिक व जवानों को दी गई श्रद्धांजलि*

रायपुर /25 मई 2020। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यालय राजीव भवन रायपुर में आज दिनांक 25 मई 2020 सोमवार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी, प्रदेश युवा कांग्रेस, प्रदेश सेवादल, प्रदेश महिला कांग्रेस, प्रदेश एनएसयूआई, प्रदेश इंटक एवं समस्त मोर्चा संगठनों, प्रकोष्ठों, विभागों, के सयुंक्त तत्वाधान में झीरम घाटी में नक्सली हमले में हुये शहीद कांग्रेस के सम्मानीय नेताओं को श्रद्धाजंलि देते हुये पुण्य स्मरण किये।

इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभाध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, कृषि मत्री रविन्द्र चौबे, स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंहदेव, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, ,खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, विधायक सत्यनारायण शर्मा, विधायक धनेन्द्र साहू, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, गुरूमुख सिंह होरा, राजेन्द्र तिवारी, गिरीश देवांगन, संचार विभाग अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, चंद्रशेखर शुक्ला, सुशील आनंद शुक्ला, घनश्याम राजू तिवारी, धनजंय सिंह ठाकुर, अरूण ताम्रकार, कोको पाढ़ी, दिलीप षडंगी, श्रीकुमार मेनन, सतीश जैन, पुरूषोत्तम, धमेन्द्र यादव, किरणमयी नायक, रमेश वर्ल्यानी, महेन्द्र छाबड़ा, अमित पांडेय, प्रमोद दुबे, हरीश तिवारी, अजय अग्रवाल, अनिल मित्तल, शिव सिंह ठाकुर, शकुन डहरिया गुरप्रीत सिंह बाबरा, दौलत रोहड़ा, सन्नी अग्रवाल, प्रवक्ता सुरेन्द्र वर्मा, मोहन लाल निषाद, समीम अख्तर, बबीता नत्थानी, विनोद धुरंधर, जितेन्द्र कुमार सार, अमर परचानी, अध्यक्ष एम आर निषाद, पार्वती साहू, किरण सिन्हा, लक्ष्मी देवांगन, साक्षी सिरमौर, अपर्णा फ्रांसीस, सुंदर जोगी, प्रकाश जगत, वेदप्रकाश कुशवाहा, अजय जोशी, सतीश चौरसिया, दीनु शर्मा, सेवादल आशुतोष श्रीवास, अंकित कुमार मिश्रा, महेन्द्र कुमार देवांगन, सोमेन चटर्जी, उधोराम वर्मा, पूजा देवांगन, संदीप तिवारी, नरेश निषाद उपस्थित थे।
 

ब्यूरो रिपोर्ट


*कोरोना अपडेट:प्रदेश में पॉजिटिव मरीज की संख्या 185 पहुँची,स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया संसोधित बुलेटिन,देखिए*

रायपुर-छत्तीसगढ़ में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 185 पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग ने संशोधित आंकड़ों के साथ मेडिकल बुलेटिन जारी की है। जारी संशोधित बुलेटिन में बताया गया कि कवर्धा जिले में आज मरीज नहीं मिले हैं। छत्तीसगढ़ शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग राज्य कन्ट्रोल एंड कमांड सेंटर ने रविवार 24 मई की शाम 5 बजे तक की स्थिति मेडिकल बुलेटिन जारी की थी। मेडिकल बुलेटिन में बताया गया कि प्रदेश में अब तक 52878 संभावितों की सैम्पलिंग की गई है। इनमें 49996 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं 2631 की जांच हो रही है। 

ब्यूरो रिपोर्टर


*कोरोना ब्रेकिंग:3 मरीजो को किया गया डिस्चार्ज,रायगढ में मिला 1 पॉजिटिव मरीज,एक्टिव केस 155*

रायपुर-प्रदेश में 3 कोरोना पॉजिटिव स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। वहीं एक और पॉजिटिव मरीज मिला है। स्वास्थ्य विभाग ने ट्वीट कर पुष्टि की है। बिलासपुर कोविड अस्पताल से जांजगीर जिले के 2 और अम्बिकापुर मेडिकल कॉलेज से कोरिया जिले का 1 कोरोना से पीड़ित मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं। वहीं रायगढ़ जिले में 1 पॉजिटिव मरीज की पहचान की गई है। प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 155 हो गई है। 


*बिलासपुर,कोरिया,बेमेतरा,सरगुजा,गरियाबंद,में 1-1 मरीज मिलने की पुष्टि,प्रदेश में मरीजो की संख्या 157 हो गई*

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में 5 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की जानकारी दी  गई है।स्वास्थ्य विभाग ने अपने टि्वटर हैंडल पर यह जानकारी दी है।ताजा मामला बिलासपुर से 1, सरगुजा से बेमेतरा, गरियाबंद, व कोरिया से 1-1मरीज मिलने की पुष्टि हुई है। जिन्हें अभी इलाज के लिए भर्ती कराया जा रहा है। इस प्रकार प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 157 हो गई है।

ब्यूरो रिपोर्ट