"खरसिया पुरानी बस्ती के 55 परिवार को शिघ्र मिले आबादी पट्टा,सामाजिक कार्यकर्ता आरती वैष्णव"

*खरसिया पुरानी बस्ती के 55 परिवार को शीघ्र मिले आबादी पट्टा-आरती वैष्णव*

*खरसिया एसडीएम को सौंपा ज्ञापन*

रायगढ़/खरसिया,
*खरसिया नगर पालिका क्षेत्र एवँ खरसिया तहसील के सबसे पुराने रहवासियों को 100 वर्ष से भी अधिक समय बीत जाने के बावजूद आज तक आबादी पट्टा प्राप्त नही हो सका है। गत वर्ष रमन सरकार के द्वारा शहरी एवँ ग्रामीण क्षेत्रो में रहने वाले परिवारों को आबादी भूमि का पट्टा जारी किया गया था किन्तु पुरानी बस्ती के लगभग 55-60 परिवार को 100 वर्ष बीत जाने के बावजूद आज दिनाँक तक पट्टा अप्राप्त है जिससे पुरानी बस्ती के उन 55 परिवारों में आक्रोस व्याप्त है क्योंकि पट्टा के आभाव में उक्त 55 परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत पक्का मकान बनाने योजना का लाभ नही मिल पा रहा है। उक्त समस्या की जानकारी होने पर तत्काल सामाजिक कार्यकर्ता एवं पत्रकार आरती वैष्णव के द्वारा खरसिया एसडीएम श्री गिरीश रामटेके को ज्ञापन सौंपते हुए तत्काल पुरानी बस्ती के उक्त 55 परिवारों को लंबित पट्टा प्रदान करने की मांग की गई है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए खरसिया एसडीएम ने शीघ्र ही लंबित पट्टा वितरण की बात कही है।* 

ब्यूरो रिपोर्टर


"बालक छात्रावास् के चपरासी ने हाथ की नस काटकर किया आत्महत्या,जांच में जुटी रायगढ़ पुलिस"


रायगढ़,नंदेली के बालक छात्रावास के चपरासी ने शनिवार रात आत्महत्या कर ली। उसने सुसाइड नोट में लिखा है कि उसके शरीर को किसी ज़रुरतमंद को दान कर दिया जाए। उसके कुछ कर्ज है इसके लिए परिवार को परेशान ना किया जाए। परिवार ने युवक के किसी परेशानी की वजह नहीं बताई है। युवक ने किन कारणों से सुसाइड किया इसकी जांच कोतरारोड पुलिस कर रही है। चपरासी की पिछले साल ही शादी हुई थी।

पहले कीटनाशक पी फिर हाथ काटने की आशंका:-
जानकारी के अनुसार दिनेश कुमार सिदार (29) वर्ष 2013 से प्री मैट्रिक अनुसूचित जाति बालक छात्रावास नंदेली में चपरासी था। वह रोज ड्यूटी के बाद घर वापस लौट जाता। शनिवार शाम 7 बजे भी वह घर से ड्यूटी करने के लिए निकला। छात्रावास में शनिवार की पूरी रात वह ड्यूटी करने वाला था। रात 9 बजे हास्टल के वार्डन राकेश पटेल आए। उन्होंने देखा दिनेश तखत पर लेटा हुआ था। युवक का हाथ और फर्श खून से सना था।

वार्डन ने तुरंत इसकी सूचना गांव के सरपंच और अपने स्टॉफ को दी। चपरासी ने बाएं हाथ के कलाई और कोहनी के सामने हिस्से को ब्लेड से काटा था। पॉकिट और मौके पर नए ब्लेड मिले हैं। पुलिस ने बताया कि कमरे के बाहर रखे गिलास में कीटनाशक था। कमरे से भी कीटनाशक की गंध आ रही है। आशंका है कि पहले कीटनाशक पीया इसके बाद नसों को काटा। हालांकि पीएम रिपोर्ट के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा। 

ब्यूरो रिपोर्ट


"दुधमुंही बच्चे को जंगल मे फेंकने वाले उसके ही अपने निकले, अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार,निर्मोहीयो की कहानी पढ़िए क्या था पूरा मामला"

(ब्यूरो रिपोर्ट आरती वैष्णव),खरसिया

प्रेस और पुलिस को सोनबरसा की सरपंच,मितानिन, और कुछ ग्रामीणों ने किया था गुमराह।

दिया झूठा बयान,बनाई झूठी कहानी,

*सच्चाई छूपाने के लिए रची थी महिला सरपंच सहित कई लोगो ने झूठी मनगढ़ंत कहानी।

मर गई थी माँ की ममता,जेल जाने के डर से अचानक कैसे जग गई ममता,सोचनीय है?

इस कलयुग में न जाने कैसे कैसे कारनामो को देखना और लिखना सुनना और पढ़ना पड़ता है कभी कभी मन स्तब्ध हो जाता है भोले भाले ग्रामीण कहे जाने वाले लोग इस तरह के गम्भीर अपराधिक गतिविधियों में संलिप्त होते हैं, जिसे कल्पना करना भी ठीक नही लगता है।बहुत ही चिंतनीय है यह सोच समाज के लिए।

2 दिन पूर्व खरसिया विधानसभा के ग्राम सोनबरसा में जंगल मे एक नवजात बच्ची के मिलने की सूचना 112 को हुई,ग्राम सरपंच मितानिन,और सरपंच के चाचा ससुर ने एक स्टोरी पुलिस और प्रेस को बताया कि एक बच्ची सोनबरसा के जंगल मे झरने के पास मेरे चाचा ससुर ने देखा उसके बाद उसे हमारे घर लाये,तब मैंने और मितानिन ने 112 को फोन कर सारी बातें बताई उसके बाद खरसिया अस्पताल में बच्ची का इलाज हुआ।

वही इस पूरे मामले को सोनबरसा ग्राम की महिला बाल विकाश विभाग से सबंधित वे महिलाएं जो गर्भवती और शिशुवती महिलाओं की पूरी जानकारी रखकर पूरे 10 महीने और उसके बाद पोषण आहार देकर स्वास्थ्य और सुरक्षा की औपचारिक कार्यो को पूरा करते है उनकी सूची में अगर ये 40 वर्षीय महिला थी तो सबंधित कार्यकर्ता ने मामले में कोई जानकारी सबंधित विभाग या पुलिस से क्यो छुपाया,पूरे 9 माह महिला घर मे छुपकर तो नही रही होगी।या इस गर्भवती महिला का नाम रजिस्टर में चढ़ा ही नही,और नही चढ़ा तो क्यों? बहुत प्रश्न है।

इस कहानी को सोनबरसा की महिला सरपंच और ग्राम मितानिन ने प्रेस और पुलिस दोनों को बताया,और झूठी कहानी से अपनी खूब वाह वाही बटोरी वही छेत्र लेकिन आज जब खरसिया पुलिस ने सख्ती से पूछताछ किया तो फुलसाय ने सारा कच्चा चिठ्ठा खोल दिया की पूर्व में बताई गई सारी कहानी झूठी व बनावटी है महिलाएं माँ होकर भी नही पिघली न उन्हें दया आई।गाँव के ही 40 वर्षीय महिला के साथ फुलसाय के पुत्र का गलत सबन्ध था जन्म के बाद महिला ने लोक लाज के भय से बच्ची को अपने प्रेमी के घर छोड़ने गई जहां संजय राठिया नही था उसकी अनुपस्थिति में बच्ची को वह उसके पिता के पास(सरपंच के चाचा ससुर के पास) छोड़ आई,।

फिर क्या था पूरी टीम की फर्जी स्क्रिप्ट तैयार हो गई सभी ने मिलकर बच्ची को असुरक्षित जगह जंगल मे छोड़ने की योजना बना लिया जिस बात से उस बच्ची की निर्मोही माँ भी अनजान नही थी।जिसने अय्याशी करने के बाद बदनामी का सोच बच्ची को मौत के मुंह मे फैंक दिया..अब जब पूरा खुलासा हो गया है तो इस निष्ठुर माँ की ममता जग उठी है कह रही मैं ही रख लूंगी बच्ची को मुझे दे दो साहब।अब जब झूठ पकड़ में आ गया तो वही माँ जो उस मासूम को रोता बिलखता छोड़ गई थी आज पुलिस अधिकारियों के समक्ष अचानक बहुत ही ममता दिखाने का झूठा प्रयास कर रही है।तब कहाँ गई थी ममता जब बच्ची को छोड़ आई थी असुरक्षित जगह में।

ऐसी निर्मोही महिला को बच्ची को सौप देना बहुत बड़ी गलती होगी जिसने आगे पीछे सोचे बिना उसे मरने के लिए जंगल मे छोड़ दिया था यह सोचकर कि उसकी बदनामी होगी,वही पूरी टीम ने मिलकर पुलिस और मीडिया को धोखे में रखा कि उन्होंने उस बच्ची को 112 को सौंपा जो अचानक उन्हें जंगल मे मिली थी।जबकि ये उनकी साजिश थी

निश्चित तौर पर रायगढ़ पुलिस अधीक्षक महोदय के कड़े निर्देश के बाद खरसिया पुलिस ने एस डी पी पटेल सर और थाना प्रभारी साहू जी ने अच्छी टीम के साथ पूरे मामले से बहुत कम समय मे ही पर्दा उठा दिया। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पूरी टीम ने बहुत मेहनत किया और सारे आरोपी आज थाने तक पहुँच पाए इसके लिए कप्तान सर के साथ पूरी टीम प्रदीप तिवारी,सरोजनी राठौर किशोर राठौर सभी बधाई के पात्र हैं।

अब सारा मामला साफ होने के बाद सभी अभियुक्तो के ऊपर कड़ी कार्यवाही करने की आवश्यकता है,जिन्होंने दुधमुंही बच्ची के जान के साथ खेला उनकी जगह सिर्फ और सिर्फ जेल ही होनी चाहिए,ऐसे अपराध को तो भगवान भी माफ नही करेंगे फिर भी तो हम इंसान है।सभी के ऊपर संवैधानिक कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए।बच्ची की सुपुर्दगी ऐसे हांथो में न जाये जहां उसका भविष्य अंधकारमय हो जाये।।


"ठेकेदार की हत्या की गुत्थी सुलझी,रायगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता,2 दिन पूर्व युवक को टुकड़ो में काट के नाले में फेंका था आरोपी ने"

रायगढ़ /

(भूपेन्द्र किशोर वैष्णव-रायगढ़ 9754160816)

➡ *अज्ञात आरोपी की पतासाजी के लिये जुटी हुई थी 5 अलग-अलग टीमें*

➡ *टीम वर्क से पुलिस को मिली सफलता,

दिनांक 19.10.2019 के सुबह थाना कोतरारोड को मानसरोवर तालाब के पास लेबर सप्लायर संदीप सिंह (45 साल) निवासी खरसिया रोड भगवानपुर का अध कटा शव मिला था । घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह, एडिशनल एसपी श्री अभिषेक वर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक अविनाश सिंह ठाकुर, वैरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी श्री आर.के. पैकरा, प्रभारी एफएसएल यूनिट रायगढ़, शहर के टी.आई. एवं उनका स्टाफ, सायबर सेल तथा डॉग स्क्वाड मौके पर पहुंचे थे । विवेचकगण द्वारा मौके पर उपलब्ध साक्ष्य एकत्रित किया जा रहा था जिन्हें कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश पुलिस अधीक्षक द्वारा मौके पर ही दिया गया तथा घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक द्वारा एडिशनल एसपी एवं सीएसपी रायगढ़ के सुपरविजन में पांच अलग-अलग टीमें निरीक्षक रूपक शर्मा, एस.एन. सिंह, युवराज तिवारी, अमित सिंह, अंजना केरकेट्टा के नेतृत्व में गठन किया गया था । सभी टीमों को अलग-अलग कार्य सौंपा गया था । यह टीमें मृतक के व्यापारिक प्रतिस्पर्धा, अवैध संबंध, पारिवारिक/पैतृक झगड़े, वर्तमान में मृतक के साथ आसपास के लोगों के साथ बात व्यवहार, शव के शेष भाग का पता लगाना आदि पर पूछताछ कर जांच में जुटी हुई थी वहीं एक ओर सायबर सेल की टीम उपलब्ध संसाधन के माध्यम से घटनास्थल का CCTV फुटेज, मृतक व उससे जुडे सभी व्यक्तियों के कॉल रिकार्ड का विश्लेषण किया जा रहा था ।

घटना के संबंध में अप.क्र. 311/19 धारा 302, 201 भादवि की विवेचना में सबसे पहली बाधा थी शव के शेष भाग का पता लगाना पुलिस की जिसे चुनौतीपूर्ण लेत वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं पुलिस पार्टी की सक्रियता से जांच में पता चला कि मृतक संदीप सिंह का पतरापाली किरोड़ीमलनगर में रहने वाले शंकर कुमार पासवान (28 साल) के साथ मिलना जुलना था । शंकर कुमार पासवान जो कि इसी के अंडर JSPL में लेबर का काम करता था । पुलिस टीम को यह भी जानकारी मिली की घटना दिनांक के रात्रि पतरापाली में रात्रि *शंकर कुमार पासवान* को घूमते देखा गया था । संदेह के आधार पर पुलिस टीम द्वारा शंकर कुमार को हिरासत में लिया गया और उससे कड़ी पूछताछ की गई जिसमें आखिरकार उसने जघन्य हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक संदीप सिंह काफी दिनों से शंकर कुमार पासवान के साथ लैंगिक संबंध बनाता था । संदीप सिंह के अंदर काम करने के कारण शंकर दबाव में था वह उसकी इन नजायज जरूरतों को पूरी भी कर रहा था और इस कारण से वह काफी परेशान भी था । घटना दिनांक 18.10.2019 की रात्रि करीब 9:30 बजे मृतक संदीप सिंह, शंकर पासवान के घर पतरापाली आया । *शंकर* पूर्व सुनियोनियोजित तरीके से उसके घर पर संदीप सिंह के ऊपर चाकू से वार करने उसे घायल कर दिया और संदीप के मूर्छित होने पर उसका गला दबाकर हत्या कर दिया और आरी से शव के धड़, पैर, सिर को काटकर तीन अलग-अलग हिस्सों में कर अपनी साइकिल में शव के अवशेष को लादकर तीन बार धड़ हिस्से को मानसरोवर में, पैर को मानसरोवर के आगे तथा सिर भाग को मानसरोवर के आगे चिराईपाली रोड में एक पानी टंकी के अंदर डाल दिया था । आरोपी के अपराध कबूलनामें के बाद उसके मेमोरेंडम के आधार पर हत्या में प्रयुक्त आरी, साइकल तथा शरीर के शेष भाग को जप्त कर आरोपी *शंकर कुमार पिता मुनारिक पासवान उम्र 28 साल पतरापाली किरोड़ीमल मूल निवास झारखंड* को गिरफ्तार किया गया है ।
पुलिस अधीक्षक श्री सिंह द्वारा टीम वर्क केलिये सभी की प्रसंशा किये हैं, सम्पूर्ण खुलासा करने में ए.एस.पी. श्री वर्मा, सीएसपी श्री ठाकुर एवं सायबर सेल तथा गठित टीम के सदस्यों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है ।

ब्यूरो रिपोर्टर


"ठेकेदार की सर कटी लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई"देखिए रिपोर्ट

रायगढ़। जिंदल एयरस्ट्रिप से लगे इलाक़े में उस वक्त सनसनी फैल गई जब इलाके में एक अधेड़ युवक के सिर कटी लाश मिली। सूचना मिलते ही तत्काल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक, कोतरारोड टीआई, फोरेंसिक टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंची। मृतक जिंदल में ठेकेदारी कार्य करता था,जिसका नाम संदीप सिंह व आयु लगभग 45 वर्ष है। लाश का सिर गायब है। मृतक की लाश 3 टुकड़ों में मिली है। बहरहाल मृतक के सिर की तलाश जारी है। मृतक के परिजनों ने उंगलियों की अंगूठी देख उसकी पहचान संदीप सिंह के रूप में की। मृतक की मोटर सायकिल किरोड़ीमल रेलवे स्टेशन में खड़ी मिली है। शनिवार को कोतरारोड थाना क्षेत्र में सिर कटी लाश मिलने की जानकारी जब पुलिस को लगी तो स्वयं पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने शव की शिनाख्त के लिए आसपास के गांवों में खोजबीन शुरू कर दी। संदीप सिंह की हत्या किस वजह से और किसने की है इस बात का अब तक पता नहीं चल सका है। पुलिस मामले की छानबीन करने में जुट गई है। वहीं एफएसएल की टीम भी मौके पर पहुंच चुकी है ताकि फॉरेंसिक मामलों की भी जांच की जा सके और आरोपी तक पहुंचा जा सके। बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात से मृतक घर से लापता था, जिसकी सूचना परिजनों ने थाने में दी थी। 

ब्यूरो रिपोर्ट


"खरसिया नगरपालिका चुनाव में वार्ड नं-6हनुमान चौक से चुनाव मैदान में उतरेंगी सामाजिक कार्यकर्त्ता,आरती वैष्णव" ,

 खरसिया/-

*⭕खरसिया नगरपालिका चुनाव वार्ड-6 हनुमान चौक से मैदान में उतरेंगी सामाजिक कार्यकर्ता एवँ पत्रकार,सशक्त उम्मीदवार श्रीमती आरती वैष्णव⭕*
 
*खरसिया-नगरपालिका चुनाव में  नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए सबसे योग्य  छत्तीसगढ़िया उम्मीदवार आरती वैष्णव खरसिया के ऐतिहासिक पुरानी बस्ती चौक, हनुमान चौक वार्ड 06 से पार्षद के लिए चुनावी समर में उतरेंगी हमेशा ज़रूरतमंदों-महिलाओं पीड़ितों-शोषितों की आवाज बनकर आम जनमानस की समस्याओं के निराकरण के लिए 24 घण्टे तत्तपर,        लोगों की एक आवाज पर हॉस्पिटल-चौकी सरकारी कार्यालयों सहित परिवारिक समस्याओ के निदान के लिए लगातार विगत 13 वर्षों से सक्रिय रायगढ़ जिले की दमदार कलमकार नशामुक्ति के माध्यम से महिलाओं के सम्मान की रक्षा करते हुए, नारी शक्ति के सम्मान के लिए सदैव तैयार रहने वाली छत्तीसगढ़िया उम्मीदवार- आरती वैष्णव के द्वारा खरसिया वार्ड 06 हनुमान चौक पुरानी बस्ती से चुनावी समर में उतरने का मन बनाया है। जल्द ही वो खरसीया पुरानी बस्ती वार्ड 06 के सम्मानीय मतदाताओं से उनका समर्थन एवँ आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगी।*
 
ब्यूरो रिपोर्टर(खरसिया)

"विसर्जन के दौरान चाकू चला,आक्रोशित लोगों ने किया गेराव"

रायगढ़। दुर्गा विसर्जन के दौरान धक्का मुक्की होने पर एक युवक ने दूसरे युवक को पेट में चाकू से वार कर दिया। घटना के बाद आरोपी युवक को पकड़ने के लिए लोगों ने आरोपी के घर को घेर लिया। इस बीच पुलिस पहुंची और आरोपी को सुरक्षित उसके घर से निकालते हुए अपनी गिरफ्त में लेकर थाने पहुंचाया। घटना रायगढ़ जिले के महापल्ली ग्राम पंचायत की है। दरअसल मुख्य चौक में रखी गई दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन करने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग जश्न मनाते हुए प्रतिमा को तालाब ले जा रहे थे। इसी बीच भीड़ में मौजूद दो लोगों के बीच धक्का-मुक्की हो गई और विवाद इतना बढ़ गया कि अक्षय सतनामी ने अमित यादव पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। ऐसे में विसर्जन में शामिल लोगों के बीच अफरा-तफरी मच गई। लोगों ने आरोपी को पकड़ने उसके घर को घेर लिया। इस घटना की सूचना चक्रधरनगर पुलिस को दी गई। थाना प्रभारी युवराज तिवारी अपने स्टाफ के साथ महापल्ली पहुंचे। आरोपी थाने ले आई। चक्रधर नगर पुलिस जोर से आरोपी अक्षय सतनामी के विरुद्ध 307 मामला दर्ज करने की प्रक्रिया की जा रही है। 


"खरसिया बाल मंदिर एवं कन्या हाई स्कूल के शिक्षक शिक्षिकाओ के शिघ्र वेतन भुगतान की मांग की है-सामाजिक कार्यकर्ता आरती वैष्णव,

 *⭕खरसिया बालमंदिर एवं कन्या हाई स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं का शीघ्र हो वेतन भुगतान -आरती वैष्णव ⭕*

 
*✒⭕आरती वैष्णव-पत्रकार-सामाजिक कार्यकर्ता खरसिया✒⭕*
 
*⭕खरसिया/रायगढ़⭕* *खरसिया नगरपालिका एवं विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय के आपसी सामंजस्य के कमी का खामियाजा भुगतने नगरपालिका कन्या उच्चतर विद्यालय एवं बालमंदिर के 11 नियमित एवँ 12 प्लेसमेन्ट कर्मचारियों को विगत 3 माह से वेतन का भुगतान नही किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार खरसिया बालमंदिर में 6 नियमित एवँ 7 प्लेसमेंट शिक्षकों एवं कर्मचारियों को माह अप्रेल, मई, जून एवं सितम्बर  माह के वेतन का भुगतान नही किया गया है। वहीं नगर पालिका कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला के 5 नियमित एवँ 5 प्लेसमेंट शिक्षकों एवँ कर्मचारियों को भी माह जुलाई, अगस्त ,सितम्बर के वेतन का भुगतान नही किया गया है।*
 
*कहते है शिक्षक रास्ट्र निर्माता होतें है लेकिन जब शिक्षण कार्य मे लगे उन्ही शिक्षकों को 3-4 माह का वेतन का भुगतान न हो तो उनके परिवार पर क्या बीतता होगा। जहां नगरपालिका की सीएमओ उक्त शिक्षण संस्थानों को राज्य सरकार के अधीनस्थ हो जाने की बात कहके अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ रही है तो वहीं शिक्षा विभाग के अधिकारियों के द्वारा स्पष्ट आदेश न मिलने की बात कही जा रही है । कुल मिलाकर दो पाटन के आपसी तालमेल की कमी का खामियाजा 11 नियमित एवं 12 प्लेसमेंट कुल 23 कर्मचारियों को भुगतना पड़ रहा है। कहने को तो खरसिया उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल जी का गृह विधानसभा क्षेत्र है लेकिन जिस तरह से विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवँ शिक्षण संस्थानों सहित छात्रावासों में लगातार गड़बड़ी एवँ भ्रस्टाचार की शिकायतें मिल रही है चिंताजनक है। पत्रकार-सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती आरती वैष्णव ने रायगढ़  जिला कलेक्टर एवं जिला शिक्षा अधिकारी रायगढ़ से प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से उक्त 23 कर्मचारियों को विगत 3-4 माह के लंबित वेतन भुगतान 3 दिवस के भीतर कराये जाने की मांग की है। ताकि उनके परिवार के सामने भूखों मरने की नौबत न आये । शीघ्र भुगतान न होने की स्थिति में उक्त कर्मचारियों के साथ मिलकर आंदोलन हेतु बाध्य होना पड़ेगा जिसकी सम्पूर्ण जवाबदारी प्रशासन की होगी।*

"खरसिया कालेज में एन सी सी के छात्र की परेड करने के दौरान मौत"

 (भूपेंद्र वैष्णव)खरसिया,

 
*खरसिया स्थित महात्मा गांधी शासकीय महाविद्यालय में एनसीसी स्टूडेंट की परेड के दौरान मौत*
 
*खरसिया कॉलेज सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार खरसिया कॉलेज में कार्यक्रम के दौरान एन सी सी के छात्र-सूरज जाटवर की मौत हो गई है छात्र को  संस्कार हॉस्पिटल खरसिया ले जाया गया है जहाँ डॉक्टर ने उक्त छात्र को मृत घोषित कर दिया है। मृतक एनसीसी कैडेट तुलसीडीह /(डभरा) का निवासी बताया जा रहा है।*
 *छात्र की मौत के बाद भी गम्भीर नही कॉलेज प्रबंधन प्राचार्य ने मृत छात्र को हॉस्पिटल देखने जाना तक नही समझा उचित,इस बड़ी घटना से छात्रों में आक्रोस है।।
ब्यूरो रिपोर्ट

"नगरपालिका चुनाव खरसिया से सामाजिक कार्यकर्ता आरती वैष्णव का नाम सबसे आगे"

 *खरसिया नगरपालिका चुनाव आरती वैष्णव का नाम आया सामने-बीजेपी से दावेदारी*

 
*10 वर्षों से सामाजिक कार्यों में सक्रियता के कारण आम जनता की पहली पसंद*
 
 
*खरसिया* खरसिया नगरपालिका अध्यक्ष पद हेतु सामान्य महिला आरक्षण होने के बाद अब महिला दावेदारों की दावेदारी सामने आने लगी है इसी बीच खरसिया के हृदय स्थल टॉउन हॉल की रहने वाली  रायगढ़ जिले की महिला पत्रकार श्रीमती आरती वैष्णव की दावेदारी सामने आई है।
 
2005-06 में भाजयुमो से अपनी राजनीति की शुरुआत करने वाली श्रीमती आरती वैष्णव के नेतृत्व में दिल्ली में युवा मोर्चा द्वारा आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन में रायगढ़ जिला सहित छत्तीसगढ़ का नेतृत्व किया था।
 
 महिला प्रताड़ना पर रोक सहित सामाजिक कुरीति शराब बंदी अभियान के माध्यम से हजारों महिलाओ एवं परिवारों को न्याय दिलाने के लिए सुर्खियों में आई है।
श्रीमती आरती वैष्णव के पति भूपेन्द्र किशोर वैष्णव 1995 से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद खरसिया के नगर अध्यक्ष, मण्डल संयोजक,रायगढ़ जिला सह-संयोजक,जिला संयोजक,सह विभाग प्रमुख,विभाग प्रमुख की जिम्मेदारी निभाते हुए 15 वर्ष तक छात्र राजनीति में सक्रिय रहे है। विगत 20-25 वर्षों से आरएसएस के विभिन्न प्रकल्पों में सक्रिय रूप से कार्यरत है।
 
भूपेंद्र वैष्णव  पूर्व सांसद विष्णुदेव साय के खरसिया कॉलेज में प्रतिनिधि, सहित भाजयुमो जिला सदस्य रायगढ़ ,बजरंग दल खरसिया प्रखंड संयोजक,विश्व हिन्दू परिषद खरसिया प्रखंड संयोजक,विश्व हिन्दू परिषद जिला मीडिया प्रभारी,15 वर्षो से विभिन्न अखबारों,इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में पत्रकारिता करते हुए खरसिया नगरपालिका क्षेत्र, विधानसभा क्षेत्र एवं रायगढ़ जिले की जन समस्याओं को हमेशा ध्यानाकर्षण एवं जनता को सहयोग किया जाता रहा है।
लगातार खरसिया नगरपालिका सहित विधानसभा की जनहित की समस्याओं के लिए लगातार मुखर होकर आम जनता की आवाज बुलंद करने वाली श्रीमती आरती की दावेदारी सामने आने से राजनीतिक हल्को में खलबली मच गई है। चाहे खरसिया सिविल अस्पताल में मरीजों की परेशानी हो या गर्भवती महिलाओं की जजकी हो स्वयं खड़े होकर मदद करने सहित,पुलिस चौकी थानों सहित महिला अत्याचार के मुद्दों पर हमेशा प्रखर होकर महिलाओं की आवाज बुलंद करती आई है।
खरसिया विधानसभा चुनाव में पूर्व कलेक्टर ओ पी चौधरी के मीडिया में प्रचार प्रसार के माध्यम से खरसिया के चुनाव को हाई प्रोफाइल बनाने में विशेष योगदान
 
 खरसिया नगरपालिका सहित विधानसभा में नशामुक्ति अभियान के द्वारा हजारों परिवारों को बर्बाद होने से बचाने के कारण
 हजारो महिलाओं की फौज है जिनके सुख दुःख में सदैव तत्पर होने का लाभ  निश्चित तौर पर आरती वैष्णव को  मिलेगा।
 
खरसिया नगरपालिका चुनाव में सामान्य महिला सीट होने के बाद आरती वैष्णव का नाम प्रमुखता से सामने आने पर खरसिया नगरपालिका चुनाव दिलचस्प होने वाला है।
 
ब्यूरो रिपोर्ट(खरसिया)

"चक्रधर समारोह में मुख्यमंत्री बघेल ने की शिरकत कहा महाराज चक्रधर को भुलाया नही जा सकता"

 रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज गणेश चतुर्थी के अवसर पर रायगढ़ में 35वें अखिल भारतीय चक्रधर समारोह का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने समारोह में विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की और महाराज चक्रधर सिंह के तैलचित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित किया। मुख्यमंत्री ने समारोह का सम्बोधित करते हुए कहा कि राजा-महाराजाओं ने भले ही अनेक युद्ध जीते होंगे, लेकिन रायगढ़ के महाराज चक्रधर सिंह ने अपनी संगीत और नृत्य कला की समृद्ध और गौरवशाली संस्कृति का संरक्षण कर लोगों का दिल जीता है। इसलिए संगीत, नृत्य, कला के इस अखिल भारतीय समारोह का आयोजन महाराज चक्रधर सिंह के नाम पर किया जाता है। चक्रधर समारोह के माध्यम से रायगढ़ की संस्कृति और विरासत की देशव्यापी पहचान स्थापित हुई है।  बघेल ने लोगों को गणेश चतुर्थी की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सुप्रसिद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान राष्ट्रीय चेतना जागृत करने और लोगों को एकजुट करने के लिए सार्वजनिक गणेश उत्सवों की शुरुआत की थी। यह परंपरा आज भी जारी है। सार्वजनिक गणेश उत्सव आज हमारी सामाजिक समरसता की पहचान बन गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ी संस्कृति के संरक्षण के लिए राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ी लोक पर्वों को उत्साह के साथ मनाने की पहल की जा रही है। इससे जन मानस में अपनी गौरवशाली छत्तीसगढ़ी संस्कृति, लोक-कला और लोक पर्वों के प्रति उत्साह का वातावरण बना है। बघेल ने कहा कि विकास कार्यों के लिए आर्थिक संसाधनों की कमी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के साथ-साथ रायगढ़ शहर के विकास के लिए भी संसाधनों की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। रायगढ़ के नागरिकों की मंशा के अनुरूप शहर का विकास किया जाएगा।  मुख्यमंत्री ने उद्घाटन समारोह में प्रस्तुति देने के लिए आए गजल गायक मनहर उदास और कत्थक नृत्यांगना महुआ शंकर को सम्मानित किया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री   उमेश पटेल, विधायक धरमजयगढ़ एवं मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लालजीत सिंह राठिया, विधायक रायगढ़ प्रकाश नायक, विधायक लैलूंगा चक्रधर सिंह सिदार, विधायक सारंगढ़ उत्तरी जांगड़े, विधायक भिलाई देवेन्द्र यादव, राजपरिवार के सदस्य और स्थानीय जनप्रतिनिधि सहित बड़ी संख्या में कला प्रेमी उपस्थित थे। 

 
ब्यूरो रिपोर्ट

"जिंदल एयरपोर्ट में मुख्यमंत्री बघेल का स्वागत,विधायक और कार्यकर्ताओ को पुलिस ने रोका हंगामे के बीच मंत्री उमेश ने सबको साथ लेकर मिलवाया"

 रायगढ़। विश्वविख्यात चक्रधर समारोह के उद्घाटन के लिए आज छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आगमन जिन्दल एयरपोर्ट पर हुआ। उनके स्वागत के लिए जिले व आसपास के क्षेत्र के विधायकों सहित कैबिनेट मंत्री उमेश पटेल, सभी वरिष्ठ कांग्रेसी एवं सभी प्रकोष्ठ के कांग्रेसी उपस्थित रहे। जिला प्रशासन द्वारा कांग्रेसियों को भीतर जाने से रोकने पर एक बार विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई पर तत्काल मौके पर कैबिनेट मंत्री उमेश पटेल ने मोर्चा संभाला और सभी कांग्रेसियों को शांत कर अपने साथ जिन्दल एयरपोर्ट के भीतर ले गए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जिला प्रशासन की ओर से कलेक्टर, आईजी, पुलिस अधीक्षक और जिला पंचायत सीईओ ने स्वागत किया तत्पश्चात सभी विधायकों ने और केबिनेट मंत्री उमेश पटेल ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उसके बाद मुख्यमंत्री ने सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और वरिष्ठजनों से मुलाकात की और सभी का अभिनंदन स्वीकार किया। इसके बाद वे चक्रधर समारोह के शुभारंभ के लिए वहां से रवाना हो गए।

 
ब्यूरो रिपोर्ट

"जिला भाजपा की बैठक कार्यालय में संपन्न"

 रायगढ़। जिला भाजपा कार्यालय रायगढ़ में  आगामी संगठन चुनाव के निमित एक आवश्यक कार्यशाला रखी गई। इसमें भाजपा प्रदेश महामंत्री गिरधर गुप्ता,जिला चुनाव अधिकारी भूपेन्द्र सवन्नी, सह चुनाव अधिकारी भारत सिंह सिसौदिया विशेष रूप से  उपस्थिति रहें। उन्होंने भाजपा के  सभी सांसद/पूर्व सांसद /पूर्व विधायक/जिले में निवासरत प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भाजपा/ जिला पदाधिकारी, पंचायत अध्यक्ष ,उपाध्यक्ष /नगर निगम महापौर/ सभापति 

मंडल निर्वाचन अधिकारी एवं सह निर्वाचन अधिकारियों को चुनाव किस प्रकार सम्पन्न कराए जाए इसकी विस्तृत जानकारी दी। सदस्यता अभियान पूरे होने के बाद चुनाव कराए जाते हैं। रायगढ़ जिले में भी चुनाव सम्पन्न होने हैं। चुनाव समयसीमा में हो और किस तरीके से यह चुनाव सम्पन्न कराए जाने है। इस बारे में संगठन के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं को अवगत कराया है। जिला चुनाव आधिकारी भूपेंद्र सवन्नी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को विफल बताया और कहा कि आने वाले पंचायत व नगरीय निकाय के चुनावों में निश्चित रूप से भारतीय जनता पार्टी जीत हासिल करेगी।
 
ब्यूरो रिपोर्ट

"असिस्टेंट कमांडेंड ने खुद को गोली मारी,मौके पर ही मौत"

 रायगढ़– जिले में पोस्टेड छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स CAF के छठवीं बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है, असिस्टेंट कमांडेंट ने आत्महत्या से पहले अपनी मृत पत्नी के नाम एक सुसाइड नोट लिखा, जिसे जांच टीम ने बरामद कर लिया है। पुलिस मर्ग कायम कर जांच कर रही है।

बुधवार सुबह करीब 11 बजे असिस्टेंट कमांडेंट आनंद कुशल खलखो ने खुद को गोली मार ली। खलको के मकान के पास रहने वाले कुछ पुलिसकर्मियों ने कोतवाली पुलिस को जानकारी दी, कि असिस्टेंट कमांडेंट के कमरे से गोली चलने की आवाज आई है। इसके बाद उनके मकान में पुलिस पहुंची तो देखा, कि उनका शव कमरे में पड़ा था। शव खून से लथपथ था, बताया जा रहा है, कि खलको को अंतिम बार सुबह करीब 9 बजे पड़ोसियों ने देखा था। इसके बाद करीब 11 बजे उन्होंने खुद को गोली मार ली। घटना की जानकारी के कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची, और खलको के घर के दरवाजे को अंदर से बंद था, दरवाजा किसी तरह खुलवाकर अंदर पहुंचने पर खून से लथपथ खलखो को अचेत पड़े थे। पुलिस ने कारतूस के साथ पिस्टल और एक सुसाइड नोट बरामद किया। असिस्टेंट कमांडेंट ने विभागीय पिस्टल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।
सुसाइड नोट में लिखी ये बात
मूलत: जशपुर के फरसाबहार निवासी असिस्टेंट कमांडेंट आनंद खलखो ने अपनी पत्नी और बच्चे के नाम लिखे मार्मिक खत में उनके पास आने की बात लिखी है, साथ ही ये भी लिखा, कि उन्हें माफ कर दें। बता दें कि करीब पांच साल पहले खलखो की पत्नी और बच्चे की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। इतना ही नहीं करीब तीन दिन पहले ही उनकी सगी साली ने उन पर दैहिक शोषण का आरोप लगाते हुए खुदकुशी का प्रयास किया था, जिसका इलाज मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में चल रहा है।
 
ब्यूरो रिपोर्ट

"कलयुगी बेटे ने अपनी माँ को उतारा मौत के घाट,रक्तपान भी किया इस घटना ने दिल दहला दिया"

 (भूपेंद्र वैष्णव)खरसिया,

रायगढ़। एक कलयुगी बेटे ने पहले तो अपनी मां की बेरहमी से की हत्या की फिर उसका रक्तपान किया। उसके बाद उसके मांस को खाने का प्रयास किया। यह दिल दहला देने वाली घटना रायगढ़ जिले के खरसिया विकासखंड के ग्राम बोतल्दा की है। जानकारी के अनुसार खरसिया के ग्राम बोतल्दा निवासी सीताराम उरांव का अपनी मां फूलो से किसी बात पर विवाद हो गया।  गुस्साए बेटे ने बड़ी बेरहमी से अपनी मां की हत्या कर दी और उसका खून पीने लगा, इस पर भी उस नराधम का मन नहीं भरा तो उसने टांगी से उसके टुकड़े-टुकड़े कर उसके मांस को थाली में रखकर खाने का भी प्रयास किया। उक्त हृदय विदारक घटना को जब गांववालों ने देखा तो वे भी सिहर उठे और उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। खरसिया पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और आरोपी को काबू में कर अपनी गिरफ्त में लिया और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। अब आगे की कार्रवाई जारी है। इस संबंध में रायगढ़ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा ने बताया कि आरोपी अपनी मां से रुपयों की मांग को लेकर झगड़ा कर रहा था। इसी बीच उसने घर में रखी कुल्हाड़ी से किचन में बैठी मां के ऊपर ताबड़तोड़ वार कर दिया जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई । आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।
 
ब्यूरो रिपोर्ट

"बिरयानी सेंटर में गैस सिलेंडर फटा चक्रधर एरिया की घटना"

रायगढ़। शहर के भीड़-भाड़ वाले इलाके चक्रधरनगर बस स्टैंड में स्थित रिया बिरयानी सेंटर में सुबह 6 बजे घरेलू सिलेंडर फटने की घटना हुई है।  जानकारी मिलने के बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुंच चुकी है,और मलबे को हटाए जाने का कार्य शुरू हो गया है।  सिलेंडर ब्लास्ट होने के बाद बड़ी संख्या में यहां लोगों की भीड़ जमा हो गई है। बताया जा रहा है कि सिलेंडर में हुआ विस्फोट इतना जबरदस्त था कि आसपास काफी दूर तक दुकान (ठेले) के परखच्चे उड़ गए। इस हादसे में किसी जनहानि की सूचना नही है।
सूत्रों ने बताया कि रायगढ़ के अधिकतम ठेलो में घरेलू गैस लाल सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है जबकि यह सरासर गलत है उनके लिए 19 किलो का नीला बड़ा सिलेंडर कमर्शियल बना है पर हर कोई घरेलू लाल सिलेंडर इस्तेमाल करता है। खाद्य विभाग और नगर निगम भी इस मामले में मौन है। कभी कभार एकाक कार्रवाई कर अपना पल्ला झाड़ लेता है।
 
ब्यूरो रिपोर्ट

श्याम मंडल रायगढ़ की प्रेस कॉन्फ्रेंस

 रायगढ़। कृष्ण जन्माष्टमी में हो रहे कार्यक्रमों को लेकर श्याम मंडल ने प्रेस वार्ता में बताया कि पिछले काफी सालों से श्याम मंडल द्वारा जन्माष्टमी के पावन अवसर पर श्याम मंदिर के सामने एक भव्य आयोजन होता रहा है जिसमें हर साल लगभग 600000 लोग आकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाते हैं। साथ ही  रायगढ़ शहर के सभी सेवा समितियों द्वारा नि:शुल्क भोजन का आयोजन किया जाता है। मंडल ने बताया कि  इस बार खास करके बच्चों पर ध्यान दिया गया है। उनके मनोरंजन के लिए मनपसंद कार्टून मोटू पतलू का और उनकी टीम का पुतला तैयार किया गया है। इस बार खास करके मुख्य मार्ग पर भगवान शिवजी का तांडव करते हुए पुतला खड़ा किया गया है।


"किसानों ने मुआवजा के लिए कलेक्ट्रेट को घेरा"

 रायगढ़। बरमकेला विकासखण्ड के खिचरी गांव के दर्जनों ग्रामीण बुधवार को मुआवजे की मांग को लेकर जिला कलेक्टर के पास पहुंचे। अपने आवेदन में ग्रामीणों ने मुआवजा नहीं मिलने की स्थिति में आमरण अनशन की चेतावनी दी है। बरमकेला ब्लॉक के खिचरी गांव के किसानों की जमीन में एनएच का निर्माण लगभग पूर्णता की ओर है। लेकिन उन्हें मुआवजे के लिए दर दर भटकना पड़ रहा है। ग्रामीण अब आंदोलन की राह पकड़ने पर मजबूर हो गए है उन्होंने कलेक्टर कार्यालय के सामने धरने पर बैठने का मन बना लिया है।

 
बरमकेला से आए किसानों के अनुसार प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल से शिकायत के बाद प्रभावित किसानों को तत्काल मुआवजा वितरित करने का निर्देश जारी कर दिया है परन्तु जिला प्रशासन द्वारा अब तक किसानों को भू-अर्जन की मुआवजा राशि जारी नही की गई है। वहीं इस विषय में जब एसडीएम सारंगढ़ से फोन पे चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि किसानों को दोगुनी मुआवजा राशि राजस्व विभाग से जारी की गई थी परन्तु किसानों ने मुख्यमंत्री से की मांग थी कि उन्हें चार गुना मुआवजा राशि मिलनी चाहिए। इसकी स्वीकृति के लिए शासन स्तर पर पत्र व्यवहार किया जा रहा है। जैसे ही चार गुना मुआवजा राशि जारी होगी सभी भू-प्रभावितों को इसका चेक जारी किया जाएगा।
 
ब्यूरो रिपोर्ट